ताज़ा खबर
 

एंकर ने किसानों से आंदोलन खत्म करने को कहा, अकाली नेता का तंज- कोरोना का ख्याल कर सरकार रद्द करे कानून

किसान यूनियनों के संगठन, संयुक्त किसान मोर्चा ने रविवार को कहा कि सरकार को कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई लड़नी चाहिए न कि किसानों के साथ।

manjinder singh sirsa, akali , farmer protestकिसान आंदोलन से जुड़े एक टीवी डिबेट के दौरान अकाली नेता मनजिंदर सिंह सिरसा एंकर से ही भिड़ गए। (फोटो – एएनआई)।

रिपब्लिक भारत पर डिबेट के दौरान अकाली दल नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि किसान आंदोलन के दौरान अभी तक 300 से ज्यादा किसान शहीद हो चुके हैं। हमने भी गुरुद्वारों में सभी नियमों का पालन किया है। पहली बात धरने पर किसान बैठे हुए हैं। वहां कोई और तो जा नहीं रहा है। जब नेता देशभर में रैली रोड शो कर सकते हैं तो किसानों को क्यों धरना नहीं देने दिया जा रहा? सिरसा कहने लगे कि मुझे लगता है कि सरकार को किसानों की चिंता करते हुए तीनों कानून रद्द कर देने चाहिए।

बता दें कि किसान यूनियनों के संगठन, संयुक्त किसान मोर्चा ने रविवार को कहा कि सरकार को कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई लड़नी चाहिए न कि किसानों के साथ और दोहराया कि अगर उनकी मांग पूरी होती है तो वे आंदोलन खत्म कर देंगे। संगठन ने सरकार से किसानों के विरोध स्थलों पर टीकाकरण केंद्र स्थापित करने और वायरस से सुरक्षा के लिए उन्हें आवश्यक उपकरण और निर्देश प्रदान करने का भी आग्रह किया।

एक बयान के अनुसार, संयुक्ता किसान मोर्चा (SKM) ने कहा कि जब महामारी फिर से बढ़ रही है, तो केंद्र सरकार को किसानों और मजदूरों की चिंता करते हुए इस स्थिति से तत्काल प्रभाव से निपटना चाहिए, जिसकी लॉकडाउन के समय उन्होंने “अनदेखी” की थी।

बयान में कहा गया है, “दिल्ली की सीमाओं से लेकर देश के अन्य हिस्सों में किसानों के विरोध प्रदर्शन तभी समाप्त होंगे जब किसानों की माँगें पूरी होंगी। सरकार को प्रवासी मजदूरों के स्वास्थ्य और सामाजिक सुरक्षा के लिए भी हरसंभव प्रयास करना चाहिए ताकि उन्हें किसी भी तरह की समस्या का सामना न करना पड़े।”

मोर्चे ने कहा कि अगर सरकार वास्तव में किसानों और मजदूरों और आम जनता के साथ संबंध रखती है, तो उन्हें किसानों की मांगों को स्वीकार करना चाहिए। एसकेएम ने दावा किया कि किसान पहले से ही सरकारों की शोषणकारी नीतियों के कारण आत्महत्या कर रहे हैं।

एसकेएम ने भाजपा पर “अपने स्वयं के प्रचार प्रसार” में व्यस्त होने का आरोप लगाया और कहा, “अब, सरकार को किसानों की मांगों को स्वीकार करना चाहिए। सरकार को किसानों और मजदूरों के साथ लड़ने के बजाय COVID-19 और बढ़ती महामारी से लड़ना चाहिए।”

Next Stories
1 बीजेपी की दलीलों पर एंकर का तंज- राहुल ने वैक्सीन मंगाने के लिए कहा तो मंत्री बोले कमीशन खाना चाहते हैं, अब क्या?
2 टीएमसी प्रवक्ता से बोले अर्नब- आप सरकार में, रैलियां बंद करेंगे तो मिलेंगे ज्यादा वोट, आपको देख बीजेपी भी हटेगी पीछे
3 SC ने इटैलियन मरीन मामले को अगले हफ्ते के लिए टाला, केंद्र से कहा- ‘हम जानते हैं कि आप कितनी तेजी से काम करते हैं’
ये पढ़ा क्या?
X