ताज़ा खबर
 

सरकार के काम की भी मर्यादा होती है, उसका उल्लंघन हुआ है- केजरीवाल द्वारा ‘प्रोटोकॉल’ तोड़ने पर बोले अर्णब; पैनलिस्ट ने कहा- आपका मत है

अर्णब ने कहा "किसी भी मुख्यमंत्री को 'प्रोटोकॉल' की जानकारी कैसे नहीं हो सकती। जो बात बंद दरवाजों के पीछे की जा रही है उसको सार्वजनिक क्यों करना है।"

Tv debate, arnab goswami, republic bharat, narnedra modi, aap jansattaरिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ अरनब गोस्वामी और आम आदमी पार्टी की प्रवक्ता प्रीति शर्मा मेनन।

कोरोना के बिगड़ते हालात पर शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा की। इस बैठक में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी मौजूद थे। केजरीवाल ने ऑक्सीजन की कमी का मुद्दा उठाया। इस दौरान मुख्यमंत्री केजरीवाल का पूरा बयान लाइव टेलीकास्ट किया गया। इसपर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद आपत्ति जताई और इसे प्रोटोकॉल का उल्लंघन बताया।

इसको लेकर न्यूज़ चैनल ‘रिपब्लिक भारत’ के शो ‘पूछता है भारत’ में चर्चा हो रही थी। इस दौरान शो के एंकर अर्णब गोस्वामी ने कहा कि सरकार के काम की भी मर्यादा होती है, केजरीवाल ने उसका उल्लंघन किया है। अर्णब ने कहा “किसी भी मुख्यमंत्री को ‘प्रोटोकॉल’ की जानकारी कैसे नहीं हो सकती। जो बात बंद दरवाजों के पीछे की जा रही है उसको सार्वजनिक क्यों करना है।”

एंकर ने कहा “वीडियो लीक करने का मकसद क्या था। आप जनता को दिखाना चाहते हैं कि आप उनके लिए बेहद चिंतित हैं। सरकार के काम की एक मर्यादा होती है उसका उल्लंघन नहीं होना चाहिए। इसपर आम आदमी पार्टी की प्रवक्ता प्रीति शर्मा मेनन ने कहा “ये आपका ओपिनियन है कि उल्लंघन हुआ है।

इसपर अर्णब ने कहा “अच्छा अगर ऐसा नहीं हुआ तो केजरीवाल ने मांफ़ी क्यों मांगी। इसपर आप प्रवक्ता ने कहा “क्योंकि पीएम को बुरा लगा, केजरीवाल ने जो किया जन हित में किया। लेकिन मोदीजी को पसंद नहीं आया तो उन्होने मांफ़ी मांग ली।

आम आदमी पार्टी की प्रवक्ता ने कहा कि यह एक महामारी है। इसपर खुल कर चर्चा करने में क्या बुरा है? अगर यह राज्यसभाम लोकसभा से टेलेकास्ट हो सकती है तो मीटिंग से क्या दिक्कत है।

आप नेता ने कहा “चाहें किसी भी राज्य में ऑक्सीजन बनाई जाती है लेकिन उसपर पूरे देश का हक होता है और ऑक्सीजन का सही बंटवारे की जिम्मेदारी केंद्र सरकार की होती है।” प्रीति ने कहा कि केंद्र सरकार ने ऑक्सीजन को लेकर कुछ नहीं किया, वहीं जरूरी दवाओं का बाहर निर्यात कर दिया था।

Next Stories
1 राहुल को ‘ग्रिल’ कर के ला रहे थे, पर मोदी के साथ क्यों इतने उदार थे?- जब लालू ने पूछा था सवाल; हंसते-हंसते सुनते रहे थे अर्णब गोस्वामी
2 ‘किंग ऑफ गुड टाइम्स’ विजय माल्या की घोड़ों-विंटेज कार्स में रही है खास दिलचस्पी, करोड़ों में खरीदी थी टीपू सुल्तान की तलवार
3 COVISHIELD विश्व में सबसे महंगी भारत में, SII चीफ अदार पूनावाला ने माना था कि 150 रुपए में भी हो रहा मुनाफ़ा, फिर भी 600 रुपए रखा दाम
यह पढ़ा क्या?
X