ताज़ा खबर
 

रिपोर्ट में दावा, महामारी के बावजूद हेल्थ बजट में मामूली बढ़ोतरी, भाजपा सांसद बोले- पानी और सफाई को भी कर लिया शामिल

बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी अपनी ही पार्टी की सरकार की कई मुद्दों पर आलोचना करते रहते हैं।

Subramanyam Swami, BJP MP, PM Modi, Nitin Gadkari, Modi Governmentराज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने फिर कसा मोदी सरकार पर तंज। फोटो- एक्सप्रेस by कमलेश्वर सिंह

बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी अपनी ही पार्टी की सरकार की कई मुद्दों पर आलोचना करते रहते हैं। एक बार फिर उन्होंने स्वास्थ्य बजट को लेकर मोदी सरकार को घेरा है। नेता ने एक खबर, जिसमें दावा किया गया है कि कोरोना के बावजूद स्वास्थ्य बजट में बढ़ोतरी हुई है, को शेयर करते हुए मोदी सरकार पर तंज कसा है। नेता ने ट्वीट किया, ‘पानी और साफ-सफाई को भी स्वास्थ्य बजट में जोड़ लिया गया है, जबकि पोषण को लेकर बजट कम किया गया है।’

बता दें कि इस साल बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 64,180 करोड़ रुपये के बजट वाली एक नई स्वास्थ्य योजना, प्रधानमंत्री आत्म निर्भर स्वस्थ भारत योजना, की घोषणा की थी। केंद्र ने स्वास्थ्य मंत्रालय को 2020-21 के लिए 67,112 करोड़ रुपये की राशि बजट के तौर पर दी थी। सरकार के मुताबिक नई योजना पूरे स्वास्थ्य बजट में 100% की वृद्धि दिखाती है। बजट के बारे में बताते हुए सीतारमण ने यह भी कहा था कि यह छह सालों में चालू हो जाएगी। बता दें कि 2021-22 के बजट दस्तावेज में इस योजना का कोई उल्लेख नहीं है। इसलिए यह स्पष्ट नहीं है कि इस वर्ष यह धनराशि किसी भी रूप में खर्च हो पाएगी या नहीं।


सरकार ने स्वास्थ्य सेवा के लिए 2,23,846 करोड़ रुपये की घोषणा की थी। वित्त मंत्री के मुताबिक यह बजट में 137% की वृद्धि है। हालांकि, परंपरागत रूप से स्वास्थ्य सेवा पर खर्च अकेले स्वास्थ्य मंत्रालय के लिए खर्च के रूप में बताया जाता है। लेकिन सरकार ने इस बार स्वास्थ्य सेवा बजट को अलग तरीके से पेश किया है। इसने कई मौजूदा बजट को संयुक्त रूप से स्वास्थ्य सेवा के बजट में शामिल किया है। भले ही ये बजट स्वास्थ्य मंत्रालय से जुड़े न हों लेकिन इनको स्वास्थ्य बजट के रूप में दिखाया गया है।

दूसरे शब्दों में, स्वास्थ्य सेवा के लिए कोई नया बजट नहीं बनाया गया है, लेकिन पहले से ही मौजूदा चीजों को जोड़ा गया है, जो 137% की वृद्धि दिखाता है।

बढ़ा हुआ बजट स्वास्थ्य मंत्रालय, आयुष मंत्रालय, पेयजल और स्वच्छता विभाग और कोविड -19 टीकाकरण के लिए बजट को भी शामिल करता है।

Next Stories
1 थम रही थी कोरोना संक्रमित की सांस, पकड़कर करती रहीं तंत्र-मंत्र, मौत
2 ‘कोरोना की सुनामी’ के बीच ऑक्सीजन की आस में दिल्ली के अस्पताल, बोले गंगाराम के मुखिया- सरकार खुद लाचार, हम कैसे करें काम?
3 कोरोनाः परमवीर चक्र विजेता के बेटे की ऑक्सीजन न मिलने से मौत! परिजन का आरोप- डॉक्टरों-कर्मियों की लापरवाही से गई जान
ये पढ़ा क्या?
X