किस ऑफ लव’ से सबरीमाला मंदिर में प्रवेश की कोशिश तक, जानिए कौन है रेहाना फातिमा

किस ऑफ लव अभियान के दौरान उनके पार्टनर और फिल्मकार मनोज के.श्रीधर ने फेसबुक पर किस का वीडियो भी शेयर किया था।

Sabriamala Temple Entry Controversy, Rehana Fathima, Rehana Fathima Watermelon Breast Controversy, Rehana Fathima Kerala, Rehana Fathima Sabarimala, Sabarimala controversy, Ayappa Temple, Sabrimala Temple, Kerala, National News, Hindi News31 वर्षीय रेहाना बीएसएनएल में कार्यरत हैं और दो बच्चों की मां हैं। (फोटोः FB)

सबरीमाला मंदिर में महिलाओं की एंट्री के मामले में शुक्रवार (18 अक्टूबर) सुबह सामाजिक कार्यकर्ता रेहाना फातिमा के कोच्चि स्थित घर पर हमला हो गया। अज्ञात हमलावरों ने वहां तोड़-फोड़ की, जबकि वह उस दौरान पुलिस सुरक्षा के बीच मंदिर के लिए रवाना हुई थीं। हालांकि, कपाट बंद होने के कारण उन्हें कुछ अन्य महिलाओं के साथ निराश होकर वापस लौटना पड़ा। लेकिन ऐसा पहली बार नहीं है, जब उनका नाम सुर्खियों में छाया हो।

प्रो. के बयान को तरबूज वाले फोटो से दिया था जवाबः सबरीमाला के अयप्पा मंदिर में 10 से 50 साल की महिलाओं की एंट्री को लेकर आवाज उठाने से पहले वह इसी साल मार्च में चर्चा में रही थीं। उन्होंने तब कोझिकोड के एक प्रोफेसर के आपत्तिजनक बयान को लेकर विरोध जताया था। प्रोफेसर ने कहा था, “महिलाएं ठीक से हिजाब नहीं पहनतीं। वे जानकर सीना दिखाती हैं, जैसे डिसप्ले पर रखीं तरबूज की फांख हो।” रेहाना ने तब तरबूजों के साथ अपना एक फोटो अपलोड किया था, जिसे कुछ देर बार फेसबुक ने हटा दिया था।

किस ऑफ लव के दौरान सामने आया था वीडियोः साल 2014 में उन्होंने केरल में हुए किस ऑफ लव कैंपेन में भी हिस्सा लिया था, जो कि मॉरल पुलिसिंग के खिलाफ चलाया गया था। तब उनके पार्टनर और फिल्मकार मनोज के.श्रीधर ने फेसबुक पर किस का वीडियो भी शेयर किया था। देखिए, घटना के दौरान की क्लिपः

‘टाइगर डांस’ करने वाली भी इकलौती महिलाः अय्यनथल पुलिकली (पारंपरिक ओनम टाइगर डांस) टीम में भी वह इकलौती महिला थीं, जो कि आमतौर पुरुष ही करते हैं। स्थानीय मीडिया से तब उन्होंने कहा था, “मैं हमेशा से उस जगह प्रस्तुति देना चाहती थी, जहां पर शुरु से पुरुषों का दबदबा रहा हो।”

फिल्म में भी काम कर चुकी हैं रेहानाः मौजूदा समय में वह भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) में टेलीकॉम टेक्नीशियन हैं। वह उसके अलावा एका (Eka) नाम की आर्ट फिल्म में भी काम कर चुकी हैं, जिसकी कहानी इंटरसेक्सुएलटी के मुद्दे के इर्द-गिर्द घूमती है। उस फिल्म के पोस्टर पर टैगलाइन लिखी थी, “मैं इंटरसेक्स हूं और मैं जीना चाहती हूं।” निर्माताओं ने दावा किया था भारत में यह इस तरह की पहली फिल्म थी।

FB पर लिख रहा है, ‘ब्रेक द रूल्स’: 31 वर्षीय सरकारी कर्मचारी और दो बच्चों की मां रेहाना का जन्म रुढ़िवादी मुस्लिम परिवार में हुआ था। उनके फेसबुक अकाउंट पर ब्यौरे के रूप में लिखा है- ब्रेक द रूल्स। ताजा मामले में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से संबद्ध स्वदेशी जागरण मंच से जुड़े भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के बोर्ड सदस्य एस.गुरुमूर्ति ने भी ट्वीट किया।

Next Stories
1 सबरीमाला: कड़ी सुरक्षा में दर्शन को पहुंची महिलाएं, पर पुजारियों के सामने मजबूर हुई पुलिस!
2 शिरडी में नरेंद्र मोदीः विजयदशमी पर साईं के दरबार में PM ने लगाई हाजिरी, टेका मत्था
3 पश्चिम बंगाल का नाम बदलना चाहती हैं ममता बनर्जी, बांग्लादेश की वजह से फंसा पेच!
यह पढ़ा क्या?
X