scorecardresearch

PM मोदी के पुराने भाषणों का जिक्र कर राहुल गांधी ने पूछा महंगाई और रुपये के घटते कद पर सवाल

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने महंगाई, भारतीय रुपए की घटती कीमत और बेरोजगारी के मुद्दे पर एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरा है। उन्होंने पीएम के पुराने भाषणों का जिक्र कर उन पर प्रहार किया है।

rahul gandhi| congress| delhi|
राहुल गांधी (फोटो सोर्स: @rahulgandhi)

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक बार फिर महंगाई को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने पीएम मोदी के पुराने भाषणों का जिक्र करते हुए महंगाई, रुपये के घटते कद और बेरोजगारी को लेकर सवाल खड़े किए हैं।

राहुल गांधी ने एक ट्वीट कर पीएम मोदी की ओर से किए गए वादों का जिक्र किया। उन्होंने प्रचार और प्रहार के दो कॉलम बनाए, प्रचार के पहले पॉइंट में उन्होंने लिखा कि रुपया उसी देश का गिरता है, जहां की सरकार भ्रष्ट हो। इस पर प्रहार के कॉलम में उन्होंने लिखा कि भारतीय रुपए की कीमत घटकर 79.36 हो गई है, जो रिकॉर्ड कमी है।

दूसरे पॉइंट में कांग्रेस नेता ने लिखा, “2014 में हेडलाइन बनती थी महंगाई, अब महंगाई पर चर्चा ही नहीं होती।” इस पर राहुल गांधी ने प्रहार कॉलम में लिखा कि गैस सिलेंडर 50 रुपये की बढ़ोतरी के साथ 1053 रूपए का हो गया।

वहीं, तीसरे पॉइंट में राहुल गांधी ने लिखा कि हर साल दो करोड़ नौकरियां पैदा की जाएंगी। प्रहार में इस पर उन्होंने लिखा कि जून में भारत में 1.3 करोड़ नौकरियां गईं। बता दें कि यह पहला मौका नहीं है, जब राहुल गांधी ने महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे पर मोदी सरकार को घेरा है। वो अक्सर इस मुद्दे पर केंद्र सरकार को घेरते रहे हैं।

इससे पहले, केंद्रीय अर्धसैनिक सिपाही भर्ती परीक्षा साल 2018 पास करने वाले अभ्यर्थियों को अभी तक नियुक्ति पत्र नहीं दिए जाने का मुद्दा राहुल गांधी ने उठाया था। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि अपने मित्रों का भविष्य विदेशों तक में सुरक्षित करने वाले प्रधानमंत्री जी ने अपने देश के युवाओं को बेरोजगार बनने के लिए छोड़ दिया है। इन युवाओं के साथ इतना पक्षपात क्यों?

पिछल दिनों उदयपुर में हुई घटना के बाद देश में पैदा हुए हालातों को लेकर भी राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला बोला था। उन्होंने कहा कि देश में आज जो हालात हैं और जो माहौल बना है उसके लिए प्रधानमंत्री, गृहमंत्री, बीजेपी और आरएसएस जिम्मेदार हैं।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X