ताज़ा खबर
 

जायरा वसीम को पीरजादा की नसीहत- मुसलमान हो तो इस्‍लाम भी मानो, सीता मइया लंका से आईं थीं तो लक्ष्मण भी पहचान नहीं पाए थे

एक टीवी चैनल पर हुई बहस में पीरजादा मोहम्मद अमीन शाह ने कहा, "अगर जायरा मुसलमान है और इस्लाम में यकीन रखती है तो उसे उसी अनुसार रहना होगा।

जायरा वसीम ने फिल्‍म ‘दंगल’ में गीता फोगाट का किरदार निभाया है। (फाइल फोटो)

आमिर खान की फिल्म दंगल में पहलवान गीता फोगाट के बचपन की भूमिका निभाने वाली 16 वर्षीय जायरा वसीम की आलोचना करते हुए जम्मू-कश्मीर मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सचिव पीरजादा मोहम्मद अमीन शाह ने कहा कि जायरा अगर मुसलमान है तो उसे इस्लाम की शिक्षाओं पर अमल करना चाहिए। शाह अपरोक्ष रूप से महिलाओं को आधुनिक कपड़ों पर टिप्पणी करते हुए पर्दा करने की तरफ इशारा कर रहे थे। शाह ने अपने समर्थन में रामायण का भी हवाला देना शुरू कर दिया। शाह ने बहस में कहा कि जब हिन्दू मजहब के रामायण में सीता मैया लंका से वापस आईं तो उन्हें पहचानने के लिए उनके देवर को बुलाया गया लेकिन वो उन्हें पहचान नहीं सके। शाह ने सीता का हवाला देते हुए कहा, “…आज की नारी क्या है, उस वक्त की नारी क्या थी।”

निजी टीवी चैनल टाइम्स नाउ पर हुई इस बहस में शाह ने कहा, “अगर जायरा मुसलमान है और इस्लाम में यकीन रखती है तो उसे उसी अनुसार रहना होगा…अगर वो मुसलमान है तो उसे कुरान की कमांडमेंट फॉलो करना चाहिए। उसे मुसलमान की तरह रहना चाहिए…केवल नाम होने से कोई मुसलमान नहीं हो जाता।”

जायरा जब जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती से मिलने गईं तो कट्टरपंथियों को ये बात नागवार गुजरी और वो उनके बारे में अभद्र टिप्पणियां करने लगे। ऐसे टिप्पणियों से परेशान होकर जायरा ने फेसबुक पर पोस्ट लिखकर माफी मांगते हुए कहा कि वो खुद को कश्मीरी युवाओं का रोल मॉडल नहीं मानती हैं। जायरा की पोस्ट सामने आने के बाद फिल्म अभिनेता आमिर खान और क्रिकेट खिलाड़ी गौतम गंभीर ने सोशल मीडिया पर उन्हें तंग करने वालों की आलोचना की।

शाह ने टीवी चैनल पर कहा कि जिन लड़कियों के लिए मैगजीन में सेक्सी और बॉम्ब सेल जैसे लफ्जों का इस्तेमाल होता है वो रोल मॉडल नहीं हो सकतीं। शाह ने मीडिया पर एक मामूली बात को मुद्दा बनाने का भी आरोप लगाया। शाह ने कहा, “वो रोल मॉडल नहीं है। वो ये अपने लिए कर रही है। बरहनगी को हम सपोर्ट नहीं करते।”

टीवी बहस में शामिल जीनत शौकत अली ने शाह के नजरिए पर सवाल उठाते हुए कहा कि  हर चीज को मजहब से जोड़ना सही नहीं है। जीनत ने शाह से पूछा, “जब जायरा के माता-पिता और उसने फिल्म में काम करने का फैसला लिया है तो फिर आप कौन होते हैं एतराज करने वाले?”

देखें टीवी बहस-

वीडियो: जायरा वसीम की माफी पर आमिर खान ने की टिप्पणी- “वो सिर्फ 16 साल की लड़की है, उसे अकेला छोड़ दें”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App