ताज़ा खबर
 

RBI ने गांवों में कैश सर्कुलेशन बढ़ाने के लिए उठाए कदम, कहा- बैंक चेस्ट 40% करेंसी गांवों को पहुंचाएं

आरबीआई ने सभी बैंकों को निर्देश दिए हैं कि वे 40 फीसदी नई करेंसी का सर्कुलेशन गांव-देहात के इलाकों में सुनिश्चित करें।

रिसर्व बैंक ऑफ इंडिया। (फाइल फोटो)

नोटबंदी के चलते जहां शहरी इलाकों में एटीएम और बैंकों में कैश की किल्लत देखी गई, वहीं गांव-देहात के इलाकों की स्थिति इससे भी बुरी रही। इसी बीच आरबीआई ने इन इलाकों में रह रहे लोगों को राहत पहुंचाने के लिए नए कदम उठाएं हैं। आरबीआई ने सभी बैंकों को निर्देश दिए हैं कि 40 फीसद नई करेंसी की सप्लाई गांव-देहात के इलाकों में सुनिश्चित की जाए। आरबीआई ने कहा, “सभी बैंक अपनी करेंसी चेस्ट को यह एडवाइज दें कि गांव-देहात जैसे इलाकों में कैश का सर्कुलेश बढ़ाएं और इसके लिए उन इलाकों में एटीएम, डाक घरों और बैंकों में पैसे पहुंचाने का काम प्राथमिक्ता के साथ किया जाए।”

आरबीआई ने इस समस्या को जल्दी निपटाने के लिए इलाकों में कैश के सर्कुलेशन को बनाए रखने के लिए हर हफ्ते मेंटेनेंस का हिसाब रखने को भी कहा है। गांव-देहात में मोबाइल या इंटरनेट बैंकिंग, एटीएम, डिजिटल पेमेंट्स जैसी सुविधाओं की कमी होने से लोगों को रोजना ही दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। दिहाड़ी मजदूरी करने वाले इससे खासा प्रभावित हुए हैं। वहीं शुरुआत में 2000 रुपये के नोट जारी करने की वजह से लोगों को छुट्टे पैसे लेने में भी काफी परेशानी हो रही थी। यह परेशानी दोबारा न बढ़ जाए इसे सुनिश्चुत करने के लिए भी आरबीआई ने कहा है।

आरबीआई ने देहात इलाकों में ज्यादातर 500 और उससे नीचे की डिनॉमिनेशन के नोट पहुंचाने को कहा है ताकि लोगों को छुट्टे पैसे की परेशानी न झेलनी पड़े। इसके अलावा छोटी डिनॉमिनेशन्स ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पहुंचाने को भी कहा गया है जिसके लिए बैंकों को सिक्कों का इस्तेमाल करने को भी कहा गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X