ताज़ा खबर
 

और बढ़ी सरकार और आरबीआई की रार, इस्‍तीफा दे सकते हैं गवर्नर उर्जित पटेल?

वहीं, वित्त मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि आरबीआई अधिनियम के अधीन केंद्रीय बैंक की आजादी जरूरी है। सरकार ने हमेशा इस बात का ख्याल रखा है।

भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल। (एक्सप्रेस फोटोः प्रशांत नादकर)

नरेंद्र मोदी सरकार और भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) में बढ़ती रार के बीच आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल इस्तीफा दे सकते हैं। ये बात बुधवार (31 अक्टूबर, 18) को सूत्रों के हवाले से सीएनबीसी टीवी 18 की रिपोर्ट में कही गई। हालांकि, इस मसले पर अभी तक आरबीआई की तरफ से प्रतिक्रिया नहीं आई है। वहीं, अन्य रिपोर्ट्स में कहा गया कि वह इस्तीफा नहीं देंगे। कारण- उन्होंने 19 नवंबर को बोर्ड की बैठक बुलाई है, जिसमें लंबित मामलों पर चर्चा हो सकती है। ये वे मुद्दे होंगे, जिनके कारण पिछले हफ्ते हुई बैठक में केंद्र सरकार और आरबीआई के बीच तनातनी बढ़ने को लेकर खबरें आई थीं।

उधर, वित्त मंत्रालय की ओर से कहा गया कि आरबीआई अधिनियम के अधीन केंद्रीय बैंक की स्वतंत्रता जरूरी है। सरकार ने भी हमेशा इस बात का ख्याल रखा है। केंद्र और आरबीआई को जनता के हितों और अर्थव्यवस्था की जरूरतों के हिसाब से आगे बढ़ना होगा।

मंत्रालय के मुताबिक, समय-समय पर सरकार और आरबीआई के बीच विभिन्न मुद्दों पर सलाह-मशविरे व चर्चाएं होती रहती हैं। अन्य नियामक संस्थाओं में भी बिल्कुल ऐसा ही होता है। पर भारत सरकार ने कभी भी इन चर्चाओं और गहन परामर्शों को सार्वजनिक नहीं किया। केवल अंतिम फैसलों के बारे में ही घोषणा की जाती रही है।

RBI Governor Urjit Patel Resignation, RBI Governor, Urjit Patel, Resignation, Tension, Central Government, Narendra Modi, PM, Finance Ministry, Arun Jaitley, Banks, NPA, Business News, National News, Hindi News वित्त मंत्रालय की ओर से बुधवार को जारी किए गए बयान की प्रति। (फोटोः टि्वटर/@ashu3page)

वित्त मंत्रालय के बयान में आगे बताया गया कि इसी प्रकार के परामर्शों के जरिए केंद्र सरकार विभिन्न मुद्दों से गुजरती है और फिर उस पर संभव समाधान के सुझाव देती है। सरकार भविष्य में भी ऐसा ही करते हुए आगे बढ़ेगी।

इससे पहले, पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी.चिदंबरम ने टि्वटर पर इस संबंध में आने वाले बुरी खबर को लेकर आशंका जताई थी। उन्होंने लिखा, “खबरों की मानें तो केंद्र सरकार ने आरबीआई अधिनियम का अनुच्छेद सात लागू कर दिया है। सरकार ने इसी के साथ आरबीआई को अभूतपूर्व निर्देश जारी किए हैं, जिससे मुझे आज किसी बुरी खबर आने का डर है।”

RBI Governor Urjit Patel Resignation, RBI Governor, Urjit Patel, Resignation, Tension, Central Government, Narendra Modi, PM, Finance Ministry, Arun Jaitley, Banks, NPA, Business News, National News, Hindi News पूर्व वित्त मंत्री ने आज सुबह यह ट्वीट किया।

बता दें कि वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मंगलवार (30 अक्टूबर) को वर्ष 2008 से 2014 के बीच अंधाधुंध कर्ज देने वाले बैंकों पर रोक लगाने में नाकाम रहने को लेकर भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की आलोचना की थी। उन्होंने कहा, “बैंकों में इसी वजह से फंसे कर्ज (नॉन परफॉर्मिंग एसेट्स) का संकट बढ़ गया है। आरबीआई की सुस्ती से यह खरबों में पहुंच गया है।” जेटली का यह बयान तब आया, जब आरबीआई की स्वायत्तता को लेकर वित्त मंत्रालय व केंद्रीय बैंक के बीच तनातनी बढ़ने से जुड़ी खबरें आईं थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App