ताज़ा खबर
 

PMC Bank ग्राहकों की मुश्किलें बरकरार! RBI ने लगाए नियामक प्रतिबंध 3 महीने तक के लिए आगे बढ़ाए

Reserve Bank of India ने कहा कि वह पीएमसी बैंक के पुनरुत्थान के लिए एक योजना पर काम कर रहा है।

RBI द्वारा Punjab and Maharashtra Cooperative Bank पर पूर्व में लगाए गए नियामक प्रतिबंधों के बाद मुंबई स्थित एक शाखा के बाहर परेशान खाताधारक। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः नरेंद्र वास्कर)

Punjab and Maharashtra Cooperative (PMC) Bank के ग्राहकों की मुश्किलें शनिवार को बढ़ गई हैं। ऐसा इसलिए, क्योंकि Reserve Bank of India (RBI) ने पीएमसी बैंक पर लगाए गए नियामक प्रतिबंधों को 22 जून 2020 तक तीन और महीने के लिए बढ़ा दिया है। रिजर्व बैंक ने कहा कि वह पीएमसी बैंक के पुनरुत्थान के लिए एक योजना पर काम कर रहा है।

RBI के बयान के मुताबिक, “यह लोगों की जानकारी के लिए अधिसूचित किया जाता है कि 23 सितंबर 2019 के निर्देशों को 23 मार्च 2020 से अगले तीन महीने यानी 22 जून 2020 तक के लिए बढ़ाया गया है। इन निर्देशों की समय-समय पर समीक्षा की जाती रही है और आगे भी इनकी समीक्षा की जाएगी।”

बयान में कहा गया है, ‘‘जमाकर्ताओं के हितों की रक्षा तथा सहकारी बैंकिंग क्षेत्र की स्थिरता के लिए प्राधिकरणों तथा विभिन्न संबंधित पक्षों के परामर्श के आधार पर पीएमसी बैंक को उबारने की एक योजना पर काम जारी है।’’ पीएमसी बैंक पर जो प्रतिबंध लगाए गए हैं, उनमें बैंक पर कर्ज देने और जमा स्वीकार करने पर भी रोक लगाई गई है।

दरअसल, रिजर्व बैंक ने पीएमसी बैंक पर वित्तीय अनियमितताओं को लेकर 23 सितंबर 2019 को छह महीने के लिये नियामकीय रोक लगा दी थी। RBI ने पीएमसी बैंक के निदेशक मंडल को भी हटा दिया था और रिजर्व बैंक के एक पूर्व अधिकारी को बैंक का प्रशासक नियुक्त कर दिया था।

बता दें कि RBI के पास जिस तरह से वाणिज्यिक बैंकों के पुनर्गठन का अधिकार है, सहकारी बैंकों के मामले में वैसा अधिकार नहीं है।

Next Stories
1 COVID-19 पर बोले अरविंद केजरीवाल- दिल्ली में 5 से अधिक लोग एक जगह न हों जमा, 72 लाख लोगों को देंगे मुफ्त राशन
2 Coronavirus Tips: कोरोनावायरस से बचाव के लिए गूगल ने भारत में स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ लॉन्च किया ‘डू द फाइव’, बता रहा संक्रमण से बचाव के तरीके
3 झारखंड: मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पूर्व मंत्री एनोस एक्का दोषी करार, 31 मार्च को सुनाई जाएगी सजा
ये पढ़ा क्या?
X