ताज़ा खबर
 

RBI का फरमान- कटे-फटे नोट नहीं बदले तो बैंकों को देना होगा भारी जुर्माना 

रिजर्व बैंक ने कटे-फटे नोटों को लेकर सख्ती की है। इसके लिए बैंकों को नए निर्देश दिए गए हैं। आरबीआई के चीफ जनरल मैनेजर ने ग्राहकों को भी अपडेटेड रहने की सलाह दी है।

प्रतीकात्मक फोटो (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

रिजर्व बैंक ने कटे-फटे नोटों को लेकर लगातार आ रहे बैंकों के खिलाफ शिकायतों पर लगाम लगाने की तैयारी में है। इसके लिए बैंकों पर भारी जुर्माना लगाने की भी बात सामने आई है। बताया जा रहा है कि बैंकों पर आरोप है कि वे जिम्मेदारी से काम नहीं कर रहे हैं। कटे-फटे नोट और सिक्को को बदलने में भी बैंक कोताही कर रहे हैं। ऐसे में आरबीआई शिकायतों से परेशान होकर, बैंकों को चेतावनी तक दे डाली है।

कटे-फटे नोटों को लेकर नए निर्देशः आरबीआई के चीफ जनरल मैनेजर मानस रंजन महान्ति ने कटे-फटे नोटों को लेकर नए निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि ग्राहकों द्वारा लाए गए कटे-फटे नोट और सिक्कों को लेने से बैंक इन्कार नहीं कर सकते हैं। वे बोले कि बैंक अगर लेने से इन्कार करता है तो उनपर भारी जुर्माना लगाया जाएगा और जरुरी कार्रवाई भी की जाएगी। उनके अनुसार बेहद गंदे या दो टुकड़ों को मिलाकर बनाए गए नोटों को बैंक को तुरन्त काउंटर पर ही बदल कर देना होगा। इसके अलावा जिन नोटों के हिस्से गायब हो गए हैं या दो से ज्यादा टुकड़े हो गए हैं, उन्हें भी बैंक लेने से इन्कार नहीं कर सकता है। वहीं ऐसे नोटों को लेकर उनका रिकॉर्ड रखा जाए। बता दें कि इन नोटों में 50 रुपए और इससे छोटे नोटों को लेने से इन्कार नहीं करने के नए निर्देश दिए गए हैं।

National Hindi News, 04 July 2019 LIVE Updates: पढ़ें आज की बड़ी खबरें

Bihar News Today, 04 July 2019: बिहार की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

चीफ जनरल मैनेजर ने ग्राहकों को अपडेटेड रहने को कहाः आरबीआई के चीफ जनरल मैनेजर ने ग्राहकों को भी अपडेटेड रहने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि ग्राहकों को बैंक द्वारा दी जाने वाले सभी सेवाओं की जानकारी होनी चाहिए। इसके साथ बैंकों को भी उनके द्वारा दी जाने वाली सेवाओं का प्रचार करने की बात कही है। उन्होंने कहा कि बैंकों को सेवाओं का प्रचार अपने शाखा में भी करना होगा ताकि ग्राहक जागरुक हो सके। चीफ जनरल मैनेजर ने यह भी साफ कर दिया कि ग्राहकों को पूरी सेवा मिले इसकी जिम्मेदारी बैंकों के क्षेत्रिय मुख्यालय की है। उन्होंने यह भी साफ कर दिया कि बैंक किसी अन्य बैंक के ग्राहक को भी नोट या सिक्के बदलने के लिए इन्कार नहीं कर सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 बीजेपी के कार्यकर्ता देशभर में 150 घंटे करेंगे पदयात्रा, देश में महात्मा गांधी की शिक्षा का करेंगे प्रचार
2 ‘आरएसएस मानहानि’ केस में राहुल गांधी को 15,000 रुपए के निजी मुचलके पर अग्रिम जमानत
3 Economic Survey 2019 India LIVE Updates: संसद में आर्थिक सर्वेक्षण पेश, वित्त वर्ष 2019-20 में GDP ग्रोथ 7% रहने का अनुमान
ये पढ़ा क्या?
X