ताज़ा खबर
 

राष्ट्रपति चुनाव 2017: निर्वाचित होने के बाद बोले रामनाथ कोविंद- मेरा सेवाभाव मुझे यहां तक ले आया

Rashtrapati/President Election Result 2017: रामनाथ कोविंद को 65.35 प्रतिशत वोट मिले, जबकि मीरा कुमार को 34.35 प्रतिशत वोट मिले।
राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद। (PTI Photo)

रामनाथ कोविंद देश के 14वें राष्ट्रपति होंगे। निर्वाचित होने के बाद उन्‍होंने कहा, ”अपने समाज एवं देश के लिए अथक सेवाभाव आज मुझे यहां तक ले आया है। इस पद पर रहते हुए संविधान की रक्षा करने और उसकी मर्यादा को बनाए रखना मेरा कर्त्‍तव्‍य होगा।” इससे पहले, उनकी जीत की आधिकारिक घोषणा की गई। नतीजों की घोषणा के बाद बीजेपी मुख्‍यालय में कोविंद के सम्‍मान में कार्यक्रम रखा गया। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह भी मौजूद थे। राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को सात लाख दो हजार 644 वोट मिले हैं। वहीं मीरा कुमार को तीन लाख 66 हजार 314 वोट मिले हैं। रामनाथ कोविंद को 65.35 प्रतिशत वोट मिले, मीरा कुमार को 34.35 प्रतिशत वोट मिले। सोमवार (17 जुलाई) को देश के 32 मतगणना स्थलों पर राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटिंग हुई थी। मौजूदा राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल 24 जुलाई को खत्म हो रहा है। देश के 14वें राष्ट्रपति 25 जुलाई को पद की शपथ लेंगे।

पढ़ें राष्ट्रपति चुनाव 2017 के मतगणना का लाइव अपडेट-

5.55 PM: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भावी राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद से दिल्‍ली में मुलाकात की है।

4.54 PM: अपने समाज एवं देश के लिए अथक सेवाभाव आज मुझे यहां तक ले आया है। इस पद पर रहते हुए संविधान की रक्षा करने और उसकी मर्यादा को बनाए रखना मेरा कर्त्‍तव्‍य होगा। – रामनाथ कोविंद, भावी राष्‍ट्रपति

3.40 PM: राष्ट्रपति चुनाव के मतगणना अधिकारी अनूप मिश्रा ने बताया है कि संसद और 11 राज्यों के वोटों की गिनती हो चुकी है। अभी तक की गिनती के अनुसार रामनाथ कोविंद मीरा कुमार से 2.74 लाख वोटों से आगे हैं। मिश्रा के अनुसार रामनाथ कोविंद को कुल 1338 वोट मिले हैं जिनका प्रतिनिधिक मूल्य चार लाख 79 हजार 585 वोट हुआ। वहीं मीरा कुमार को कुल 576 वोट मिले हैं जिनका प्रतिनिधिक मूल्य दो लाख चार हजार 594 वोट हुआ। कुल 37 वोट अवैध पाए गए हैं। गुजारत में रामनाथ कोविंद को 132 और मीरा कुमार को 49 वोट मिले। मध्य प्रदेश में कोविंद को 171 और मीरा कुमार को 57 वोट मिले। हरियाणा में कोविंद को 73 और कुमार को 16 वोट मिले। छत्तीसगढ़ में कोविंद को 57 और कुमार को 35 वोट मिले। जम्मू-कश्मीर में कोविंद को 56 और कुमार को 13 वोट मिले। असम में कोविंद को 91 और कुमार को 25 वोट मिले। राष्ट्रपति चुनाव के लिए सोमवार (17 जुलाई) को देश के कुल 32 मतदान केंद्रों पर वोटिंग हुई थी। इनमें भारतीय संसद, 29 राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों में बनाए गए मतदान स्थल शामिल थे।

3.00 PM- समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार राष्ट्रपति चुनाव में अब तक एनडीए के रामनाथ कोविंद को कुल 522 वोट मिले हैं जिनका कुल प्रतिनिधिक मूल्य तीन लाख 69 हजार 576 वोट हुआ। वहीं मीरा कुमार को अभी तक 225 वोट मिले हैं जिनका कुल प्रतिनिधिक मूल्य एक लाख 59 हजार 300 वोट हुआ। 21 वोट अवैध पाए गए। राष्ट्रपति चुनाव में कुल 776 सांसद और 4120 विधायक वोट देने के पात्र थे। चुनाव में 99.41 प्रतिशत मतदान हुआ था।

2.40 PM- एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद राष्ट्रपति चुनाव में आंध्र प्रदेश, असम, अरुणाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, गुजरात, जम्मू-कश्मीर और बिहार में अपनी प्रतिद्वंद्वी मीरा कुमार से काफी आगे हैं। खबरों के अनुसार गुजरात में आठ कांग्रेसी विधायकों ने रामनाथ कोविंद को वोट दिया है। कांग्रेस की मीरा कुमार को कांग्रेस समेत 17 विपक्षी दलों का समर्थन प्राप्त है। पहेल राउंड की मतगणना में काफी पीछे नजर आ रही मीरा कुमार ने कहा है कि अगर वो हारती हैं तो इससे वो निराश नहीं होंगी क्योंकि वो देश की बहुसंख्यक जनता की भावनाओं के साथ हैं।

2.20 PM- रामनाथ कोविंद के गृह जनपद कानपुर में उनकी जीत की उम्मीद में लोग अभी से खुशियां मना रहे हैं। कुछ लोगों ने कोविंद की जीत के लिए हवन भी किया। राष्ट्रपति चुनाव में ज्यादा मत पाने वाला उम्मीदवार नहीं जीतता। राष्ट्रपति चुनाव में इलेक्टोरल कॉलेज के कुल दिए गए वोटों के 50 प्रतिशत से कम से कम एक वोट ज्यादा पाने वाले उम्मीदवार को ही विजेता घोषित किया जाता है। अगर पहली प्राथमिकता के वोटों के आधार पर जीत-हार का निर्णय नहीं होता तो दोबारा गिनती होती है और दूसरी प्राथमिकता वाले वोटों को जोड़कर विजेता का फैसला किया जाता है।

2.00 PM- भारत का राष्ट्रपति भवन दुनिया का सबसे बड़ा राष्ट्रपति निवास है। इस आजादी से पहले अंग्रेजों ने भारत के वायसराय के रहने के लिए बनवाया था। आजादी के बाद वायसराय भवन को ही राष्ट्रपति भवन बना दिया गया। इसका निर्माण ब्रिटिश वास्तुकार एडविन लुटियंस ने किया था। नीचे दी गई तस्वीर पर क्लिक करके जानें भारत के राष्ट्रपति भवने के बारे में दिलचस्प ब्योरे-

president house, rashtrapati bhavan facts, secrets of rashtrapati bhavan, president house photo, indian president house inside photos, image of president house, rashtrapati bhawan, rashtrapati bhavan tour, rashtrapati bhavan garden, rashtrapati bhavan from inside, inside photos of president house इसमें खेलने के लिए भी कई खेलों के ग्राउंड है। (फोटो साभार- presidentofindia.nic.in)

1.40 PM– एनडीए के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद पहले राउंड की गिनती के बाद अपनी प्रतिद्वंद्वी मीरा कुमार से एक लाख वोटों से आगे चल रहे हैं। माना जा रहा है कि वो आसानी से राष्ट्रपति चुनाव जीत जाएंगे। लेकिन राजनीतिक जानकारों की निगाहें इस पर भी हैं कि इस चुनाव में देश के पहले दलित राष्ट्रपति केआर नारायणन का रिकॉर्ड टूटेगा? नारायणन के नाम सर्वाधिक मतों से राष्ट्रपति चुनाव जीतने का रिकॉर्ड है। नीचे दी गई तस्वीर पर क्लिक करके पढ़ें अब तक किस राष्ट्रपति ने कितने अंतर से चुनाव जीता है-

kr narayanan देश के पहले दलित राष्ट्रपति केआर नारायणन।

1.20 PM- राष्ट्रपति चुनाव की मतगणना के पहले राउंड के बाद एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद विपक्षी मीरा कुमार से एक लाख वोटों से आगे हैं। राष्ट्रपति चुनाव में वोटों की गिनती इलेक्टोरल कॉलेज के आधार पर होती है। चुनाव में कुल 776 सांसद और 4120 विधायक वोट दे सकते थे। नीचे तस्वीर में देखें कैसे होती राष्ट्रपति चुनाव में वोटों की गिनती।

President Election Infographics राष्ट्रपति चुनाव में सांसदों और विधायक वोट देते हैं।

1.00 PM-  22 जुलाई को होगा राष्‍ट्रपति भवन के मुख्य दरवाजे से पार्लियामेंट के सेंट्रल हॉल तक पहुंचने की प्रक्रिया का रिहर्सल। भारतीय गणराज्य के 14वें राष्ट्रपति का शपथ ग्रहण समारोह 25 जुलाई 2017 को पार्लियामेंट के सेंट्रल हॉल में आयोजित होगा। इसमें 20 मंत्रालयों और 10 सिक्योरिटी एजेंसियों के अफसर लगे हुए हैं। तैयारी का खाका बनाने के लिए सभी संबंधित अफसरों की एक मीटिंग में 2012 में प्रणब मुखर्जी के लिए आयोजित किए गए समारोह का वीडियो देखा गया। यह वीडियो एक शॉर्ट फिल्म के रूप में था। मुख्य दरवाजे से पार्लियामेंट के सेंट्रल हॉल तक पहुंचने की प्रक्रिया को लेकर राष्ट्रपति के सैन्य सचिव मेजर जनरल अनिल खोसला ने एक प्रजेंटेशन भी तैयार किया है। आयोजन से पहले 22 जुलाई को इसकी रिहर्सल की जाएगी।

12.40 PM- संसद के अंदर बने मतगणना स्थल का दृश्य। मतगणना चार टेबलों पर हो रही है। आठ राउंड के बाद शाम को पांच बजे के करीब नतीजे आ सकते हैं। President Election, Ramnath Kovind, Meira Kumar

12.20 PM- विपक्ष की राष्ट्रपति उम्मीदवार मीरा कुमार ने कहा है कि वो जिस विचारधारा के लिए लड़ रही हैं उस पर उन्हें पूरा यकीन है और उन्हें अंतरआत्मा की आवाज पर भी भरोसा है, अब ये देखना है कि मेरा ये विश्वास कहां तक कायम रहता है। मीरा कुमार पांच बार लोक सभा चुनाव जीत चुकी हैं। वो देश की पहली महिला लोक सभा स्पीकर रही हैं।

12.00 PM- राष्ट्रपति चुनाव के लिए 95 लोगों ने पर्चा भरा था। एक उम्मीदवार ने तो खुद को भगवान बताया था। एक अन्य शख्श ने भगत सिंह और अब्रहाम लिंकन को अपना प्रस्तावक बताया था। चुनाव आयोग ने आखिरकार केवल रामनाथ कोविंद और मीरा कुमार का पर्चा वैध पाया। (पूरी खबर यहां पढ़ें।)

11.40 AM- बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती ने कहा है कि चुनाव में जीत-हार अलग बात है, अच्छी बात ये है कि चुनाव कोई भी जीते अनुसूचित जाति का व्यक्ति देश का राष्ट्रपति होगा और ये देश के लिए अच्छा होगा। मायावती ने मंगलवार (18 जुलाई) को राज्य सभा से इस्तीफा दिया था।

11.30 AM- अगर एनडीए के रामनाथ कोविंद राष्ट्रपति चुनाव जीतते हैं तो ऐसा पहली बार होगा देश के शीर्ष दो बड़े पदों पर आरएसएस और बीजेपी से जुड़े नेता होंगे। बीजेपी ने पार्टी नेता और नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्री वेंकैया नायडू उप-राष्ट्रपति के उम्मीदवार बनाए गए हैं। इस तरह वेंकैया जीते तो देश के शीर्ष तीन पदों पर बीजेपी-आरएसएस के लोग होंगे। (पढ़ें पूरी खबर)

11.20 AM– सबसे पहले संसद भवन में पड़े वोटों की गिनती होगी। उसके बाद आंद्र प्रदेश और असम विधान सभा में पड़े वोटों की गिनती होगी। पहले राउंड की गिनती दोपहर एक बजे के करीब पूरी होगी और पहले राउंड के नतीजे की घोषणा की जाएगी।

11.10 AM-  सुरेश अंगदी, गणेश सिंह और गजेंद्र शेखावत बीजेपी के मतगणना एजेंट हैं। विपक्ष की तरफ से कांग्रेस के दीपेंद्र हुड्डा, गौरव गोगोई, बीके हरिप्रसाद, टीएमसी के नदीमुल हक़ मतगणना एजेंट हैं।

11.00 AM- राष्ट्रपति चुनाव के वोटों की गिनती शुरू हो चुकी है। मीरा कुमार और रामनाथ कोविंद में से कोई भी चुनाव जीते देश को करीब दो दशकों बाद दूसरा दलित राष्ट्रपति मिलेगा। इससे पहले केआर नारायणन 1997-2002 तक देश के राषट्रपति रहे थे। नारायणन देश के पहले दलित राष्ट्रपति थे।

10.50- 17 जुलाई को हुए मतदान में 99.41 प्रतिशत मतदान हुआ था। राष्ट्रपति चुनाव में कुल 775 सांसद और 4120 विधायक वोट देते हैं। साल 2012 में हुए पिछले राष्ट्रपति चुनाव में प्रणब मुखर्जी ने पीए संगमा को हराया था। मुखर्जी को 69 प्रतिशत वोट मिले थे।

10.40-  लोक सभा के महासचिव अनूप मिश्रा चुनाव आयोग के मतगणना अधिकारी होंगे। विजेता को चुनाव में जीत का प्रमाणपत्र मिश्रा ही देंगे।

10.30- 17 जुलाई को देश की संसद, 29 राज्यों और दो केंद्रशासित प्रदेशों में बनाए गए कुल 32 मतदान स्थलों में राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटिंग हुई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.