ताज़ा खबर
 

Ranji Trophy: कर्नाटक ने दिल्ली को दिया फालोआन, रेलवे ने आंध्र को हराया

कप्तान गौतम गंभीर सहित तीन बल्लेबाजों ने अर्धशतक जमाए, लेकिन इसके बावजूद दिल्ली को रणजी ट्राफी ग्रुप ए क्रिकेट मैच में बुधवार को हुबली में यहां कर्नाटक के विशाल स्कोर के सामने फालोआन के लिए मजबूर होना पड़ा।

नई दिल्ली | November 26, 2015 1:36 AM

कप्तान गौतम गंभीर सहित तीन बल्लेबाजों ने अर्धशतक जमाए, लेकिन इसके बावजूद दिल्ली को रणजी ट्राफी ग्रुप ए क्रिकेट मैच में बुधवार को हुबली में यहां कर्नाटक के विशाल स्कोर के सामने फालोआन के लिए मजबूर होना पड़ा। कर्नाटक के 542 रन के जवाब में दिल्ली की टीम पहली पारी में 301 रन पर आउट हो गई। पहली पारी में 241 रन से पिछड़ने के कारण उसे फालोआन करना पड़ा। दिल्ली ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक अपनी दूसरी पारी में बिना किसी नुकसान के 22 रन बनाए हैं और इस तरह से पारी की हार से बचने के लिए उसे अब भी 219 रन की जरूरत है।

गंभीर और उनके सलामी जोड़ीदार उन्मुक्त चंद ने संभलकर बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली को दिन के बचे हुए 13 ओवरों में कोई झटका नहीं लगने दिया। उन्मुक्त ने अब तक 36 गेंदों का सामना करके तीन रन जबकि गंभीर ने 43 गेंदों पर 13 रन बनाए हैं। इससे पहले दिल्ली ने सुबह अपनी पहली पारी एक विकेट पर 60 रन से आगे बढ़ाई। लेकिन गंभीर (75), वैभव रावल (54), और मनन शर्मा (56) को छोड़कर उसका कोई भी बल्लेबाज कर्नाटक के तेज और स्पिन मिश्रित आक्रमण के सामने टिककर नहीं खेल पाया। कर्नाटक की तरफ से श्रीनाथ अरविंद, एचएस शरत, श्रेयस गोपाल और अभिमन्यु मिथुन चारों ने दो-दो विकेट हासिल किए।

दिल्ली ने कल के अविजित बल्लेबाज धु्रव शोरे (16) का विकेट जल्दी गंवा दिया। इसके बाद कर्नाटक के गेंदबाज हावी हो गए। गंभीर संभलकर बल्लेबाजी कर रहे थे, लेकिन कामचलाऊ गेंदबाज करुण नायर ने उन्हें विकेट के पीछे कैच आउट करा दिया। गंभीर ने 151 गेंदे खेलीं और दस चौके लगाए।

दिल्ली एक समय छह विकेट पर 166 रन बनाकर संघर्ष कर रहा था। वैभव और मनन ने सातवें विकेट के लिए 93 रन जोड़े, लेकिन यह साझेदारी टूटने के बाद दिल्ली की पारी सिमटने में देर नहीं लगी।

उधर अनुरीत सिंह और आशीष यादव के बीच सात विकेट की बदौलत रेलवे ने आंध्र को दूसरी पारी में 124 रन पर समेटकर रणजी ट्राफी ग्रुप बी मैच के तीसरे दिन 148 रन से जीत दर्ज की। अनुरीत ने 32 रन देकर चार जबकि आशीष ने 36 रन देकर तीन विकेट चटकाए जिससे आंध्र के बल्लेबाजों ने 273 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए घुटने टेक दिए। इस जीत से रेलवे को छह अंक मिले। रेलवे की टीम दूसरी पारी में आठ विकेट पर 194 रन से आगे खेलने उतरी और 69 . 2 ओवर में 204 रन पर ढेर हो गई। मंगलवार के नाबाद बल्लेबाज आशीष 62 रन बनाकर पवेलियन लौटे जबकि एसएस मिश्रा ने 12 रन बनाए।

रेलवे के 273 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए आंध्र की शुरूआत अच्छी नहीं रही और उसने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए। टीम की ओर से केएस भरत (32), मोहम्मद कैफ (15) और के अश्विन हेबार (30) ही दोहरे अंक में पहुंच पाए।
अनुरीत ने सलामी बल्लेबाज प्रशांत (08) को आठवें ओवर में पगबाधा आउट करके रेलवे को पहली सफलता दिलाई जबकि मुरुमुल्ला श्रीराम (02) को बोल्ड किया।

आशीष ने इसके बाद भरत, एजी प्रदीप और कैफ को पवेलियन भेजा जिससे आंध्र का स्कोर 33वें ओवर में पांच विकेट पर 66 रन हो गया। कर्ण शर्मा ने सुधाकर (09) को आउट किया जबकि अनुरीत ने के श्रीकांत (07) और डी शिव कुमार (04) को पवेलियन की राह दिखाई जिसके बाद आंध्र की पारी सिमटने में देर नहीं लगी।

पंजाब को यूपी पर बढ़त
कानपुर: उदय कौल और मनदीप सिंह के अर्धशतक और दोनों के बीच शतकीय साझेदारी से पंजाब ने रणजी ट्राफी ग्रुप बी मैच के तीसरे दिन आज यहां उत्तर प्रदेश के खिलाफ अपनी कुल बढ़त को 290 रन तक पहुंचा दिया। उदय कौल ने नाबाद 89 रन की पारी खेलने के अलावा मनदीप सिंह (84) के साथ तीसरे विकेट के लिए 124 रन भी जोड़े जिससे पंजाब की टीम दूसरी पारी में 28 रन पर दो विकेट गंवाने के बावजूद छह विकेट पर 244 रन बनाने में सफल रही।

पंजाब ने पहली पारी के आधार पर 46 रन की बढ़त हासिल की थी और उसकी कुल बढ़त 290 रन की हो गई है जबकि उसके चार विकेट शेष हैं। दिन का खेल खत्म होेने पर हरभजन सिंह बिना खाता खोले उदय कौल का साथ निभा रहे थे। उत्तर प्रदेश की ओर से अंकित राजपूत ने 52 जबकि प्रवीण कुमार ने 59 रन देकर दो दो विकेट चटकाए। इससे पहले पंजाब के पहली पारी के 272 रन के जवाब में उत्तर प्रदेश की टीम आज आठ विकेट पर 205 रन से आगे खेलने उतरी और उसने 21 रन जोड़कर 226 रन तक अपने बाकी दोनों विकेट भी गंवा दिए।

उत्तर प्रदेश की ओर से उमंग शर्मा (49), अक्षदीप नाथ (35), हिमांशु असनोरा (34) और पीयूष चावला (34), अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में बदलने में नाकाम रहे। पंजाब की तरफ से सिद्धार्थ कौल ने 82 रन देकर चार जबकि हरभजन ने 31 रन देकर तीन विकेट हासिल किए। दीपक बंसल के खाते में भी दो विकेट गए।

हरियाणा के छह विकेट पर 287 रन
लाहली: हरियाणा ने पहली पारी में 167 रन से पिछड़ने के बाद नितिन सैनी के शतक की बदौलत दूसरी पारी में छह विकेट पर 287 रन बनाकर रणजी ट्राफी क्रिकेट ग्रुप ए मैच के तीसरे दिन राजस्थान पर 120 रन की बढ़त हासिल की। हरियाणा की टीम बिना विकेट खोए 62 रन से आगे खेलने उतरी लेकिन जल्द ही उसका स्कोर तीन विकेट पर 110 रन हो गया। सैनी (146) ने इसके बाद प्रियांक तेहलान (34) के साथ चौथे विकेट के लिए 72 और मोहित हुड्डा (56) के साथ पांचवें विकेट के लिए 88 रन जोड़कर पारी को संभाला। सैनी ने अपने नौवें प्रथम श्रेणी शतक के दौरान 274 गेंद का सामना करते हुए 15 चौके मारे।
दिन का खेल खत्म होने पर शमशेर यादव छह जबकि जयंत यादव एक रन बनाकर खेल रहे थे। हरियाणा को अभी 120 रन की बढ़त हासिल है जबकि उसके चार विकेट शेष हैं। राजस्थान की ओर से पंकज सिंह ने 73 रन देकर तीन जबकि तनवीर उल हक ने 76 रन देकर दो विकेट चटकाए।

कश्मीर का गोवा को ठोस जवाब
जम्मू : इयान देव सिंह के शतक और उनकी दो शतकीय साझेदारी की बदौलत जम्मू और कश्मीर ने खराब मौसम से प्रभावित रणजी ट्राफी क्रिकेट ग्रुप सी मैच के तीसरे दिन पहली पारी में पांच विकेट पर 325 रन बनाकर गोवा को करारा जवाब दिया। जम्मू-कश्मीर की टीम आज दो विकेट पर 43 रन से आगे खेलने उतरी। मंगलवार के नाबाद बल्लेबाजों इयान देव (115) और प्रणव गुप्ता (56) ने तीसरे विकेट के लिए 100 रन की साझेदारी की। शाबाद जकाती (76 रन पर दो विकेट) ने गुप्ता को बोल्ड करके इस साझेदारी को तोड़ा। इयान देव को इसके बाद कप्तान मिथुन मन्हास (नाबाद 95) के रूप में उम्दा जोड़ीदार मिला और दोनों ने चौथे विकेट के लिए 156 रन की बड़ी साझेदारी की। इयान देव हालांकि शतक पूरा करने के बाद जकाती का दूसरा शिकार बने। दिन का खेल खत्म होने पर आमिर अजीज 12 रन बनाकर मन्हास का साथ निभा रहे थे। गोवा ने अपनी पहली पारी पांच विकेट पर 552 रन बनाकर घोषित की थी। इस तरह से जम्मू-कश्मीर की टीम अब भी 227 रन से पिछड़ रही है जबकि उसके पांच विकेट शेष हैं।

हैदराबाद ने त्रिपुरा को फालोआन दिया
हैदराबाद: रवि किरण और चामा मिलिंद के बीच छह विकेटों की बदौलत हैदराबाद ने रणजी ट्राफी क्रिकेट ग्रुप सी मैच के तीसरे दिन यहां त्रिपुरा को फालोआन के लिए मजबूर किया। त्रिपुरा की टीम एक विकेट पर पांच रन से आगे खेलने उतरी लेकिन रवि (45 रन पर तीन विकेट) और मिलिंद (50 रन पर तीन विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने टीम पहली पारी में 237 रन ही बना सकी। विशाल शर्मा ने भी 51 रन देकर दो विकेट हासिल किए। त्रिपुरा की ओर से अरिंदम दास (73) और एमबी मूरासिंह (51) ने अर्धशतक जड़ा जबकि उदयन बोस ने 40 रन की पारी खेली। हैदराबाद ने अपनी पहली पारी पांच विकेट पर 548 रन बनाने के बाद घोषित की थी और त्रिपुरा को 311 रन से पिछड़ने के कारण फालोआन के लिए मजबूर होना पड़ा। त्रिपुरा ने इसके बाद दूसरी पारी में बिना विकेट खोए 25 रन बनाए। दिन का खेल खत्म होने पर विराग अवाते 12 जबकि दास 13 रन बनाकर खेल रहे थे। त्रिपुरा की टीम अब भी 286 रन से पीछे चल रही है।

Next Stories
1 खुशखबरीः ICC के 7 सदस्य बोर्ड को मिलेंगे एक करोड़ डॉलर
2 Confirm- भारत-बांग्लादेश में होगा अंडर 19 फाइनल
3 BCCI ने सरकार से मांगी इंडिया पाक सीरीज पर अनुमति
ये पढ़ा क्या?
X