ताज़ा खबर
 

झारखंड के सबसे बड़े हॉस्पिटल में मरीज को फर्श पर परोसा खाना, स्टाफ ने कहा- यहां प्लेट नहीं है

झारखंड के सबसे बड़े सरकारी हॉस्पिटल से एक हैरान कर देने वाली फोटो सामने आई है। इसमें एक मरीज बिना प्लेट के सीधे जमीन से खाना उठाकर खाती हुई दिख रही है।

फोटो क्रेडिट- दैनिक भास्कर

झारखंड के सबसे बड़े सरकारी हॉस्पिटल से एक हैरान कर देने वाली फोटो सामने आई है। इसमें एक मरीज बिना प्लेट के सीधे जमीन से खाना उठाकर खाती हुई दिख रही है। यह फोटो सबसे पहले दैनिक भास्कर अखबार ने दिखाई। जिस हॉस्पिटल की यह फोटो है वह रांची में मौजूद है। उसका नाम रांची इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस है। एनडीटीवी की खबर के मुताबिक, उस महिला ने जब प्लेट मांगी थी तो कहा गया था कि हॉस्पिटल में प्लेट नहीं हैं। यहां यह बात गौर करने वाली है कि इस सरकारी हॉस्पिटल का सालाना बजट 300 करोड़ रुपए है। खबर के मुताबिक, यह फोटो बुधवार (21 सितंबर) की है। जिस मरीज को जमीन पर से खाना उठाने के लिए मजबूर होना पड़ा उसका नाम पालमति देवी है। फोटो में दिख रहा है कि पालमति देवी के हाथ में पट्टी बंधी हुई है। वह जमीन पर पड़े दाल, चावल और सब्जी को खाती दिख रही हैं।

पालमति देवी वहां के ओर्थोपेडिक वार्ड में भर्ती थीं। पालमति देवी ने बताया कि जब उन्होंने प्लेट मांगी तो किचन के स्टाफ ने बड़े ही बुरा बर्ताव करते हुए प्लेट देने से मना कर दिया। पालमति ने बताया कि स्टाफ ने कहा था कि हॉस्पिटल में प्लेट है ही नहीं। वहीं फोटो के सामने आने के बाद प्रशासन जांच की बात कर रहा है।

इन दिनों प्रशासन की लापरवाही की तस्वीरें हर जगह से सामने आ रही हैं। हाल ही में ओडिशा से एक तस्वीर और वीडियो सामने आया था। उसमें दाना मांझी नाम का शख्स अपनी पत्नी की लाश को कंधे पर उठाकर हॉस्पिटल से घर ला रहा था। फोटो के सामने आने के बाद लोगों ने नवीन पटनायक सरकार की काफी निंदा की थी। दाना मांझी की खबर सुनकर बहरीन के प्रधानमंत्री प्रिंस खलीफा बिन सलमान अल खलीफा भी भावुक हो गए थे। उन्होंने दाना मांझी को 8.9 लाख रुपए की आर्थिक मदद भी दी थी।

Read Also: दीनहीन दाना मांझी पर मेहरबान हुए दाता

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App