ताज़ा खबर
 

रामनाथ गोयनका उत्कृष्ट पत्रकारिता पुरस्कार समारोहः राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने कहा- पत्रकारिता बेखौफ और निष्पक्ष होनी चाहिए

इस बार पुरस्कारों में प्रिंट, डिजिटल और इलेक्ट्रॉनिक माध्यमों में कारोबार और अर्थशास्त्र, राजनीतिक रिपोर्ताज, नागरिक पत्रकारिता, पर्यावरण, विज्ञान और प्रौद्योगिकी, संघर्ष वाले क्षेत्रों में पत्रकारिता और क्षेत्रीय भाषाई रिपोर्टिंग समेत महत्वपूर्ण विषयों की श्रेणियां हैं।

Ramnath Goenka Awards: राजधानी दिल्ली में सोमवार को पत्रकारिता के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाले पत्रकारों को रामनाथ गोयनका उत्कृष्ट पत्रकारिता पुरस्कार  से सम्मानित किया गया। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने साल 2018 में प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और डिजिटल मीडिया के चुनिंदा पत्रकारों को यह पुरस्कार प्रदान किया।

कार्यक्रम में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने कहा कि पत्रकारिता बिना किसी डर या पक्षपात के होनी चाहिए। इसकी मूलभूत प्रतिबद्धता सत्यता सबसे ऊपर होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि ब्रेकिंग न्यूज का कोलाहल जो कि मीडिया को निगल चुका है, में संयम और जिम्मेदारी के मूल सिद्धांत को काफी हद तक कम करके आंका गया है। राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि फेक न्यूज एक नई बुराई के रूप में सामने आई है, जिनके पैरोकार खुद को पत्रकार घोषित करते हैं और इस महान पेशे को कलंकित करते हैं।

राष्ट्रपति ने प्रिंट कैटेगरी में गांव कनेक्शन की दिती बाजपेई और ब्रॉडकास्ट में दक्विंट.कॉम के पत्रकार शादाब मोइजी को पुरस्कृत किया। रिपोर्टिंग फ्रॉम कनफ्लिक्टिंग जोन कैटेगरी में इंडियन एक्सप्रेस के दीपांकर घोष(प्रिंट/डिजिटल), ब्रॉडकास्ट में दूरदर्शन के धीरज कुमार, दूरदर्शन के ही दिवंगत पत्रकार अच्युतानंद साहू, मोरमुकट साहू पुरस्कृत किया गया।

पुरस्कार हासिल करने वाले पत्रकारों में रिजनल कैटेगरी में अल समय (प्रिंट/डिजिटल) की अन्वेषा बैनर्जी और ब्रॉडकास्ट में मनोरमा न्यूज के सनीश टीके शामिल रहे। पर्यावरण और विज्ञान कैटेगरी में स्क्रॉल.इन की मृदुला चारी और विनिता गोविंदराजन, जबकि ब्रॉडकास्ट में बीबीसी हिंदी सर्विस की सर्वप्रिया सांगवान को पुरस्कृत किया गया। अनकवरिंग इंडिया इनविजिबल कैटेगरी (प्रिंट/डिजिटल) में इंडियन एक्सप्रेस की हिना रोहतकी, ब्रॉडकास्ट में दक्विंट.कॉम की अस्मिता नंदी, दक्विंट.कॉम के ही मेघनाद बोस को पुरस्कृत किया गया।

बुक (नॉन-फिक्शन) कैटेगरी में राम नाथ कोविंद ने ज्ञान प्रकाश को सम्मानित किया। फोटो जर्नलिज्म कैटेगरी में टाइम्स ऑफ इंडिया को फोटो जर्नलिस्ट सुरेश कुमार को पुरस्कृत किया गया। रामनाथ गोयनका पुरस्कार उत्कृष्ट पत्रकारिता पुरस्कार उन पत्रकारों को दिया जाता है जिन्होंने खतरनाक या कठिन परिस्थितियों में सटीक समाचार देते हुए चरित्र और समर्पण की असाधारण शक्ति दिखाई है। हर श्रेणी में एक लाख रुपए की पुरस्कार राशि के साथ उसके लेखक को सम्मानित किया गया। इससे पहले इंडियन एक्स्प्रेस समूह को चेयरमैन और एमडी विवेक गोयनका ने राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद का स्वागत किया।

विवेक गोयनका ने राष्ट्रपति के व्यक्तित्व के बारे में कई बातें बताईं। इंडियन एक्सप्रेस ग्रुप के एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर अनंत गोयनका ने राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को टोकन के रूप में उनका पोर्टेट भेंट किया। कार्यक्रम के अंत में इंडियन एक्सप्रेस के चीफ एडिटर राजकमल झा ने धन्‍यवाद भाषण द‍िया।

Next Stories
1 NRC का संकेत है NPR, बंगाल में नहीं होने दूंगी लिंचिंग; BJP पर यूं भड़की ममता बनर्जी
2 ललित होटल की प्रोमोटर ज्योत्सना सूरी के 8 परिसरों पर आयकर विभाग ने मारा छापा
3 हाथ में जलती सिगरेट लिए सो गया शख्स, बिस्तर में आग लगने से हो गई मौत
ये पढ़ा क्या?
X