ताज़ा खबर
 

रामजस कॉलेज हिंसा: एबीवीपी के खिलाफ कैम्पेन चलाने वाली गुरमेहर कौर पत्रकारों से बोली- मुझे मेरी पढ़ाई पर ध्यान देने दो

रामजस कॉलेज विवाद के बाद गुरमेहर कौर ने एबीवीपी के खिलाफ सोशल मीडिया पर कैम्पेन चलाया था।

गुरमेहर कौर ने सोशल मीडिया पर एबीवीपी के खिलाफ कैम्पेन चलाया था। ( File Photo)

दिल्ली यूनिवर्सिटी की छात्रा गुरमेहर कौर ने बुधवार को कहा कि वह अब अपनी पढ़ाई पर ध्यान देना चाहती हैं। इसके साथ ही उन्होंने मीडियाकर्मियों से अपील की कि उन्हें अकेला छोड़ दिया जाए। गुरमेहर कौर जब से दिल्ली से जालंधर पहुंची है, तब से मीडियाकर्मी विशेषकर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकार लगातार गुरमेहर कौर के घर के बाहर मौजूद हैं। जालंधर पुलिस कमिश्नरेट ने उसे सुरक्षा मुहैया करवाई है। दो महिला कांस्टेबल उनकी सुरक्षा में लगाई गई हैं। जिन्होंने गुरमेहर को जान से मारने और रेप करने की धमकी दी थी, उन अज्ञातों के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने यौन शोषण का मामला दर्ज कर लिया है।

गुरमेहर कौर ने बुधवार को मीडियाकर्मियों से अपील की कि ‘अब मुद्दे को छोड़ दो’। वह अपनी पढ़ाई पर ध्यान देना चाहती हैं। उनके दादा कवलजीत सिंह ने कहा कि गुरमेहर जल्द ही कॉलेज वापस जाएगी, साथ ही कहा कि वह ‘बहादुर’ लड़की है। उन्होंने बताया कि गुरमेहर ने केवल मुद्दे पर अपने विचार रखे थे, इसका किसी भी पार्टी द्वारा राजनीतिकरण नहीं किया जाना चाहिए। उन्होंने जालंधर पुलिस कमिश्नर केके यादव को एक ज्ञापन सौंपा है, जिसमें दिल्ली में गुरमेहर को पूरी सुरक्षा की मांग की गई है। साथ ही उसे धमकी देने वालों की गिरफ्तारी की मांग भी की गई है।

दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज में 22 फरवरी को एक सेमिनार को रद्द होने को लेकर हिंसक झड़प हो गई थी। इस सेमिनार में जेएनयू छात्र उमर खालिद को बुलाया जा रहा था, जिसका विरोध एबीवीपी ने किया था। इसके बाद सेमिनार को रद्द कर दिया गया था। सेमिनार के रद्द होने के बाद एआईएसए के कार्यकर्ताओं ने कॉलेज में प्रदर्शन किया। जिसके बाद एबीवीपी और एआईएसए के कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। छात्रों के बीच हिंसक झड़प भी हुई। इसके बाद एआईएसए के कार्यकर्ताओं ने एबीवीपी के कार्यकर्ताओं पर हिंसक झड़प का आरोप लगाय था।

वीडियो- दिल्ली: रामजस कॉलेज में ABVP-AISA के बीच हिंसक झड़प, हुई मारपीट; जानिए पूरा मामला

इस घटना के बाद गुरमेहर कौर ने एबीवीपी के खिलाफ सोशल मीडिया पर कैम्पेन चलाया था। कैम्पेन में उन्होंने लिखा था, ‘मैं एबीवीपी से नहीं डरती।’ इसके बाद उनका यह कैम्पेन वायरल हो गया। गुरमेहर कौर के कैम्पेन के वायरल होने के बाद उन्हें जान से मारने और रेप की धमकी मिली थी। इसके साथ ही उन्हें कई खेल हस्तियों और मंत्रियों ने ट्रोल भी किया। मामला ज्यादा बढ़ने पर गुरमेहर कौर ने इस विवाद से दूरी बना ली और दिल्ली छोड़कर अपने घर जालंधर चली गईं।

वीडियो- DU बचाओ कैंपेन से अलग हुई गुरमेहर कौर; कहा- "मुझे अकेला छोड़ दो"

वीडियो- बीजेपी नेता अनिल विज ने कहा- "गुरमेहर के समर्थक पाकिस्तानी समर्थक, देश से निकाल फेंको"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App