ताज़ा खबर
 

रामदेव बोले, लगवाऊंगा कोरोना वैक्सीन, अच्छे डॉक्टर ईश्वर के दूत होते हैं

योग गुरु स्वामी रामदेव का कहना है कि वह इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के साथ चल रहे उनके विवाद को जल्द निपटाने के लिए जल्द ही कोरोना वायरस वैक्सीन लेंगे।

योग गुरु रामदेव (Photo- Indian Express)

योग गुरु स्वामी रामदेव का कहना है कि वह इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के साथ चल रहे उनके विवाद को जल्द निपटाने के लिए जल्द ही कोरोना वायरस वैक्सीन लेंगे। टीकाकरण की वकालत करते हुए रामदेव ने कहा कि योग और आयुर्वेद के साथ लोगों को कोरोना वायरस वैक्सीन भी लेनी चाहिए। योग गुरु रामदेव ने प्रधानमंत्री मोदी द्वारा देश भर में मुफ्त टीकाकरण अभियान की प्रशंसा भी की।

मालूम हो कि स्वामी रामदेव अपने पिछले बयानों से पूरी तरह से यू-टर्न ले चुके हैं। उन्होंने अपने पिछले बयानों में वैक्सीन पर सवाल उठाए थे और कहा था कि एलोपैथी के चलते कई कोरोना मरीजों ने अपनी जान गंवाई है। रामदेव ने कहा था कि वैक्सीन लेने के बाद भी कई डॉक्टरों की जान गई है। उस समय रामदेव ने दावा किया था कि उनके पास योग और आयुर्वेद का कवच है और उनको कोरोना वायरस कुछ नहीं कर सकता है।

रामदेव ने कहा कि उनकी डॉक्टरों से कोई लड़ाई नहीं है। रामदेव ने कहा कि डॉक्टर तो पृथ्वी के लिए वरदान हैं। रामदेव ने कहा कि उनकी लड़ाई न तो डॉक्टरों और न ही एलोपैथी के खिलाफ है। उनकी लड़ाई तो ड्रग माफिया और दवा माफिया के खिलाफ है। रामदेव ने डॉक्टरों को देवदूत तक करार दे दिया।

मालूम हो कि इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च से भी रामदेव की शिकायत की है। डॉक्टरों की संस्था ने अदालत से लेकर सरकार तक हर जगह रामदेव की शिकायत की है।

गौरतलब है कि टीकाकरण कोविड -19 संक्रमण के खिलाफ गारंटी नहीं है और यह केवल यह सुनिश्चित करेगा कि संक्रमण गंभीर न हो। विशेषज्ञों ने इस बात को दोहराया है। लेकिन अब अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, नई दिल्ली द्वारा किए गए एक प्रारंभिक अध्ययन में भी यही दावा किया गया है। संस्थान द्वारा 63 लोगों पर एक छोटा सा अध्ययन करने के बाद यह जानकारी सामने आई है।

इसमें 63 लोगों ने हिस्सा लिया। 35 को दोनों टीकों की खुराक मिली और 27 को केवल एक खुराक मिली। सभी संक्रमित हुए और जिन नमूनों को जीनोम अनुक्रमित किया गया था, उनमें से डेल्टा वैरिएंट – भारत में पहली बार रिपोर्ट किया गया वैरिएंं – प्रमुख है।

Next Stories
1 क्या मोदी को हराने के लिए भी करेंगे काम? प्रशांत किशोर से पूछा गया सवाल तो दिया था यह जवाब
2 ‘कांग्रेस को बड़ी सर्जरी की जरूरत’, जितिन प्रसाद के इस्तीफे पर बोले वीरप्पा मोइली, सिब्बल ने कहा- पार्टी बदलना मरने के बाद ही संभव
3 जब अडानी से पूछा गया था, मोदी की सरकार बनी तो अपका क्या? जवाब दिया- जनता का काम है, ये पब्लिसिटी अच्छी नहीं
ये पढ़ा क्या?
X