ताज़ा खबर
 

अठावले को नहीं रास आया RSS प्रमुख का बयान, कहा- एक समय देश में सभी बौद्ध थे, सबको हिंदू कहना ठीक नहीं

RSS Chief, Ramdas Athawale: मोहन भागवत की टिप्पणी पर रामदास अठावले ने कहा, "सभी को हिंदू कहने का अधिकार नहीं है। एक समय था जब हमारे देश में हर कोई बौद्ध था। जब हिंदू धर्म आया, हम हिंदू राष्ट्र बने। अगर उनका मतलब है कि हर कोई हमारा है, तो यह ठीक है।"

रामदास अठावले (फोटो सोर्स: ANI)

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) प्रमुख मोहन भागवत की टिप्पणी पर अब एनडीए (NDA) के सहयोगी दल आरपीआई के नेता रामदास अठावले ने निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि सभी को हिंदू कहने का अधिकार किसी को नहीं है, क्योंकि एक समय था जब हमारे देश में हर कोई बौद्ध था। गौरतलब है कि बुधवार को हैदराबाद के शरूरनगर स्टेडियम में आयोजित ‘विजय संकल्प सभा’ के दौरान CAA, NRC और NPR पर मचे हो-हल्ले के बीच मोहन भागवत ने कहा था कि भारत में जन्मा हर शख्स हिंदू है।

RSS प्रमुख के बयान पर बोले अठावले: मोहन भागवत की टिप्पणी ‘भारत में जन्मा हर शख्स हिंदू’ पर रामदास अठावले ने कहा, “सभी को हिंदू कहने का अधिकार नहीं है। एक समय था जब हमारे देश में हर कोई बौद्ध था। जब हिंदू धर्म आया, हम हिंदू राष्ट्र बने। अगर उनका मतलब है कि हर कोई हमारा है, तो यह ठीक है।”

Hindi News Today, 26 December 2019 LIVE Updates: बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

संघ प्रमुख का बयान: मोहन भागवत ने कहा था कि RSS की नजर में 130 करोड़ की आबादी हिंदू है। देश के लोगों की संस्कृति और धर्म चाहे जो भी, लेकिन वे सभी हिंदू हैं। इसके बाद उन्होंने कहा कि जो राष्ट्रवादी हैं, जो यहां की संस्कृति का सम्मान करते हैं, वे सभी हिंदू हैं।

ओवैसी ने भी साधा निशाना: संघ प्रमुख के बयान पर एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि आरएसएस की सोच यही है कि पूरे हिंदुस्तान का एक मजहब हो जाए। लेकिन यह हिंदुस्तान बाबा साहब अंबेडकर के संविधान के मुताबिक सबका है। यह किसी एक मजहब का नहीं हो सकता। ओवैसी ने आरएसएस प्रमुख पर हमला बोलते हुए कहा कि वे लोग चाहते हैं कि पूरा हिंदुस्तान किसी एक मजहब का हो जाए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 BHU के 51 प्रोफेसरों ने CAA व NRC के खिलाफ उठाई आवाज, हस्ताक्षर अभियान चलाकर जताया विरोध
2 ‘UP में आतंक का राज’, CAA व NRC के प्रदर्शनकरियों के खिलाफ योगी सरकार ने छेड़ा खुला युद्ध; ह्यूमन राइट एक्टिविस्ट का आरोप
3 UP: बिजनौर गए योगी के मंत्री, CAA हिंसा में मारे गए लोगों को किया नजरअंदाज, बोले- दंगाइयों के घर क्यों जाऊं?
ये पढ़ा क्या?
X