ताज़ा खबर
 

Ram Vilas Paswan RIP Highlights: रामविलास पासवान पंचतत्व में विलीन, राजकीय सम्मान के साथ दी गई विदाई

रामविलास पासवान के अंतिम दर्शन करने और श्रद्धांजलि देने रामकृपाल यादव सहित कई बड़े नेता पहुंचे। इस दौरान चिराग पासवान बेहद भावुक दिखे और रामकृपाल यादव को देखते ही वो उनसे गले लग कर रोने लगे।

ramvilas, Chiragरामविलास पासवान का अंतिम संस्कार करते उनके बेटे चिराग पासवान। (फोटो- ANI)

 बिहार के कद्दावर नेता एवं केंद्रीय मंत्री रहे रामविलास पासवान का शनिवार को पूरे राजकीय सम्मान के साथ हाजीपुर के पास दीघा स्थित जनार्दन घाट पर अंतिम संस्कार किया गया। पासवान के पुत्र एवं सांसद चिराग पासवान ने मुखाग्नि दी। लोक जनशक्ति पार्टी के संस्थापक दिवंगत पासवान के अंतिम संस्कार में दलों का भेद नहीं दिखा और उनकी अंतिम यात्रा में सभी राजनीतिक दलों के नेताओं की मौजूदगी दिखी ।

अंतिम संस्कार के दौरान दीघा स्थित घाट पर भारी संख्या में लोग मौजूद थे और ‘रामविलास अमर रहें’ के नारे लगा रहे थे । इस दौरान घाट पर पासवान की पत्नी रीना पासवान भी मौजूद थीं। आसपास के गांव से काफी संख्या में लोग लकड़ी लेकर आए थे। काफी संख्या में लोग दीघा घाट पर अपने नेता की एक अंतिम झलक पाने के लिये पहुंचे थे और वे कोविड-19 महामारी के खतरे से भी बेपरवाह नजर आ रहे थे। लोगों के बीच सामाजिक दूर बनाये रखने के लिये सुरक्षा बलों को इस दौरान काफी मशक्कत करनी पड़ रही थी। लालू प्रसाद यादव और नीतीश कुमार के साथ 70 के दशक में अपना राजनीतिक करियर शुरू करने वाले रामविलास पासवान 1969 में पहली बार अलौली सीट से विधानसभा चुनाव जीते थे ।

1977 में पहली बार लोकसभा चुनाव जीतने वाले पासवान 9 बार लोकसभा सांसद रहे। साल 2000 में उन्होंने लोक जनशक्ति पार्टी का गठन किया था । रामविलास पासवान बिहार के ऐसे नेता थे, जिन्होंने देश के छह प्रधानमंत्री के साथ काम किया। अंतिम यात्रा एसके पुरी स्थित उनके आवास से शुरू हुई। जनार्दन घाट पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, राजद नेता तेजस्वी यादव, भाजपा नेता मंगल पांडे समेत विभिन्न नेताओं ने रामविलास पासवान को श्रद्धांजलि दी।

रामविलास पासवान को श्रद्धांजलि देने के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा, “उनके निधन से हम सभी दुखी हैं। उन्होंने युवा अवस्था से ही सेवा का काम किया है। हम उन्हें श्रद्धांजलि देते हैं। कामना करते हैं कि उनके जो काम हैं उनको लोग याद रखेंगे।” पासवान के अंतिम संस्कार में केंद्र सरकार के प्रतिनिधि के तौर पर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद शामिल हुए ।

 

Live Blog

Highlights

    20:17 (IST)10 Oct 2020
    रविशंकर प्रसाद ने जताई संवेदना

    रविशंकर प्रसाद ने कहा, “रामविलास जी बिहार ही नहीं, देश के नेता थे, वो एक जन नेता थे। मैं अटल जी की सरकार में उनके साथ कोयला खान राज्य मंत्री था, मैं उनकी क्षमता जानता हूं। वो उपेक्षितों की एक बहुत बड़ी आवाज़ बने। ये उनके जाने का समय नहीं था।” गौरतलब है कि लंबी बीमारी के बाद गुरुवार देर शाम पासवान का निधन हो गया। 74 वर्षीय पासवान पिछले कई दिनों से दिल्ली के एक निजी अस्पताल में भर्ती थे। अभी कुछ दिनों पहले ही उनके हृदय का ऑपरेशन भी हुआ था।

    17:33 (IST)10 Oct 2020
    रामविलास पासवान का किया गया अंतिम संस्कार
    16:27 (IST)10 Oct 2020
    नीतीश कुमार, रविशंकर प्रसाद समेत दिग्गज नेता ने अर्पित की श्रद्धांजलि
    15:14 (IST)10 Oct 2020
    घाट पर तमाम बड़े नेता मौजूद

    घाट पर तमाम बड़े नेता मौजूद हैं। जानकारी के अनुसार, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, गिरिराज सिंह, बिहार सरकार के मंत्री प्रेम कुमार, बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी, नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव, पप्पू यादव समेत कई नेता वहां मौजूद हैं। अंतिम यात्रा में परिवार के सदस्यों के साथ उनकी दोनों पत्नियां शामिल हुईं।

    14:55 (IST)10 Oct 2020
    पासवान का पार्थिव शरीर दीघा घाट पहुंचा

    रामविलास पासवान का पार्थिव शरीर दीघा घाट पहुँच चुका है। यहां पूर राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। घाट में कई राजनीतिक नेताओं और लोगों की भीड़ उमड़ी है। यहां सीएम,डीप्टी सीएम सहित कई वरीय नेता मौजूद हैं। अपने पिता को लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान मुखाग्नि देंगे।

    14:33 (IST)10 Oct 2020
    नीतीश कुमार के मंत्री ने रामविलास पासवान को ‘भारत रत्न’ देने की मांग की

    बिहार सरकार के कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार ने रामविलास पासवान को ‘भारत रत्न’ देने की मांग की है। उनके पटना स्थित आवास पर लगातार समर्थकों का जमावड़ा लग हुआ है। कुछ समर्थकों ने संसद में उनकी आदम कद की प्रतिमा लगाए जाने की मांग की है।

    14:06 (IST)10 Oct 2020
    रामकृपाल यादव से गले लगकर रोये चिराग

    रामविलास पासवान के अंतिम दर्शन करने और श्रद्धांजलि देने रामकृपाल यादव सहित कई बड़े नेता पहुंचे। इस दौरान चिराग पासवान बेहद भावुक दिखे और रामकृपाल यादव को देखते ही वो उनसे गले लग कर रोने लगे।

    13:42 (IST)10 Oct 2020
    रामविलास जी बिहार ही नहीं, देश के नेता थे, वो एक जन नेता थे - रविशंकर प्रसाद

    पटना में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, 'रामविलास जी बिहार ही नहीं, देश के नेता थे, वो एक जन नेता थे। मैं अटल जी की सरकार में उनके साथ कोयला खान राज्य मंत्री था, मैं उनकी क्षमता जानता हूं। वो उपेक्षितों की एक बहुत बड़ी आवाज बने। ये उनके जाने का समय नहीं था।'

    13:16 (IST)10 Oct 2020
    भीड़ के चलते अंतिम संस्कार 1.30 की बजाय दो बजे किया जा सकता है

    रामविलास पासवान के पार्थिव शरीर के अंतिम दर्शन करने के लिए लोगों का हुजूम बढ़ता ही जा रहा है। ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि उनका अंतिम संस्कार 1.30 की बजाय दो बजे किया जा सकता है।

    12:47 (IST)10 Oct 2020
    श्रीकृष्णापुरी आवास से निकली रामविलास पासवान की अंतिम यात्रा

    सेना के विशेष वाहन से श्रीकृष्णापुरी आवास से निकली रामविलास पासवान की अंतिम यात्रा। जनार्दन घाट पर अंतिम संस्कार की तैयारी गई। राजकीय सम्मान के साथ होगी पासवान की अंत्येष्टि।

    12:06 (IST)10 Oct 2020
    हाजीपुर से बड़ी संख्या में कार्यकर्ता पहुंचे है

    उपेंद्र कुशवाहा व मंत्री महेश्वर हजारी अपने परिवार के साथ रामविलास के आवास पहुंचकर उन्हें श्रद्धांजलि दी है। हाजीपुर से बड़ी संख्या में कार्यकर्ता पहुंचे है। अंतिम दर्शन के लिए पार्थिव शरीर को जिला ले जाने की मांग कर रहे हैं।

    11:36 (IST)10 Oct 2020
    पति को नम आंखों से श्रद्धांजलि देते वक़्त पासवान की पहली पत्नी हुई बेहोश

    रामविलास पासवान की पहली पत्नी श्री कृष्णापुरी स्थित आवास पर उन्हें श्रद्धांजलि देने पहुंची। पति को नम आंखों से श्रद्धांजलि देते वक़्त उनकी तबियत खराब हो गई। जिसके चलते वे बेहोश हो गई। उन्हें बेहोश हालात में परिजन घर लेकर गएं।

    11:00 (IST)10 Oct 2020
    पहली बार अलौली सीट से विधानसभा चुनाव जीते थे पासवान

    70 के दशक में लालू प्रसाद यादव और नीतीश कुमार के साथ अपना राजनीतिक करियर शुरू करने वाले रामविलास पासवान 1969 में पहली बार अलौली सीट से विधानसभा चुनाव जीते थे। उन्होंने खुद को कभी अप्रासंगिक नहीं होने दिया. 1977 में पहली बार लोकसभा चुनाव जीतने वाले पासवान 9 बार लोकसभा सांसद रहे। 

    10:24 (IST)10 Oct 2020
    श्रद्धांजलि देने के लिए जमकर उमड़ी भीड़, गुप्तेश्वर पांडेय, आरसीपी सिंह समेत ये नेता आए

    रामविलास पासवान की श्रद्धांजलि सभा श्री कृष्णापुरी स्थित आवास पर जमकर भीड़ उमड़ी है। इस दौरान पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय, जेडीयू सांसद आरसीपी सिंह और केरल से आये 2 सांसदों ने श्रद्धांजलि अर्पित की। इसके अलावा पटना जंक्सन से आये कुलियों ने भी दलित नेता को श्रद्धांजलि दी।

    10:03 (IST)10 Oct 2020
    पप्पू यादव को अंतिम दर्शन नहीं करने दिया गया

    पटना एयरपोर्ट पर पूर्व केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान के पार्थिव शरीर के आने के बाद जाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव को अंतिम दर्शन नहीं करने दिया गया। पप्पू यादव के घंटों इंतजार के बाद उन्हें अंतिम दर्शन से महरूम रखा गया। कारण अभी अस्पष्ट है।

    09:42 (IST)10 Oct 2020
    रामविलास पासवान जी के निधन से हम सभी दुखी हैं

    बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने कहा था कि रामविलास पासवान जी के निधन से हम सभी दुखी हैं। उन्होंने युवा अवस्था से ही सेवा का काम किया है। हम उन्हें श्रद्धांजलि देते हैं. कामना करते हैं कि उनके जो काम हैं उनको लोग याद रखेंगे।

    Next Stories
    1 सिलिकॉन वैली का स्टार बना तमिलनाडु में टीचर, गांव में स्कूल का स्टार्ट-अप डाल बनाया ये प्लान, जानें प्रेरक कहानी
    2 Delhi Riots 2020: भीड़ के लिए फर्जी मैसेज ‘हथियार’ जैसे हुए थे इस्तेमाल- चार्जशीट में सामने आए डिटेल्स
    3 DRDO की बड़ी कामयाबी: विकिरण रोधी मिसाइल ‘रुद्रम’ ने साधा सटीक निशाना, मारक क्षमता 250 किमी तक
    आज का राशिफल
    X