ताज़ा खबर
 

Ram Vilas Paswan Birth day: सियासत के ‘मौसम विज्ञानी’ हैं रामविलास, एयर होस्टेस से शादी के लिए ‘राजकुमारी’ को दिया था तलाक

राम विलास पासवान का आज पांच जुलाई को जन्मदिन है। पिछले तीन दशक में पीवी नरसिम्हा राव को छोड़ वाजपेयी से लेकर मनमोहन और मोदी लगभग हर प्रधानमंत्री के साथ पासवान किसी ने किसी रूप में जुड़कर काम कर चुके हैं। इसीलिए उन्हें सियासत का मौसम विज्ञानी कहा जाता है।

Author नई दिल्ली | July 5, 2018 1:24 PM
बेटे चिराग पासवान के साथ लोजपा अध्यक्ष राम विलास पासवान।

लोक जनशक्ति पार्टी के मुखिया रामविलास पावसान इस वक्त नरेंद्र मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं।  पासवान ऐसे नेता है, जो सियासी हवा का रुख तेजी से भांपते हैं और उसी दिशा में बहने में देरी नहीं करते।उनके बारे में कहा जाता है कि सरकार किसी भी दल की बने मगर पासवान मंत्री जरूर बनेंगे। पिछले तीन दशक की सियासत में उन्हें लगभग हर प्रधानमंत्री के साथ काम करने का मौका मिल चुका। पासवान जहां वाजपेयी और मनमोहन सरकार में मंत्री रहे, वहीं मौजूदा समय मोदी कैबिनेट में भी हैं।यही वजह है कि राजनीति में उन्हें मौसम विज्ञानी कहा जाता है। एनडीए का हिस्सा होने के कारण उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी कैबिनेट में शामिल किया। आज जन्मदिन के मौके पर पेश है उनकी दो शादियों का किस्सा।

बिहार विधासनभा चुनाव के दौरान राम विलास पासवान की दो शादियों का मामला भी मुद्दा बना था। जब तेजस्वी यादव ने उनके बेटे तेजस्वी पर हमला बोलते हुए कहा था-चुनावी हलफनामे में उनके पिता रामविलास पासवान ने किस पत्नी का नाम लिख रखा है।दरअसल राम विलास पासवान की पहली शादी 1960 में राजकुमारी नामक महिला से हुई। पहली पत्नी से उन्हें ऊषा और आशा नामक दो बेटिया हुईं। कुछ साल बाद हवाई सफर के दौरान राम विलास पासवान की एयर होस्टेस रीना शर्मा से नजदीकियां बढ़ीं, जो प्यार में बदल गईं। पंजाबी लड़की रीना से 1983 में शादी करने के लिए राम विलास पासवान ने पहली पत्नी राजकुमारी को तलाक दे दिया। हालांकि इसकी जानकारी उनके करीबियों को ही रही, कभी इसे पासवान ने सार्वजनिक नहीं किया।

2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान पासवान ने पहली बार खुलासा किया कि उन्होंने 1981 में ही पहली पत्नी से तलाक लिया था। दरअसल जदयू ने वैवाहिक स्थिति छुपाने को लेकर उनके नामांकन को चुनौती दी थी। जदयू प्रत्याशी ने आरोप लगाया था कि उन्होंने हलफनामे में पहली पत्नी राजकुमारी देवी का उल्लेख ही नहीं किया। जिस पर राम विलास पासवान के वकील ने जिला निर्वाचन अधिकारी को राजकुमारी से 1981 में हुए तलाक से जुड़े कागजात उपलब्ध कराए थे। हालांकि पासवान ने नामांकन पत्र में तीन बेटियों और एक बेटे की जानकारी दी। मगर यह नहीं बताया था कि उनकी संतानें दो पत्नियों से हैं।दूसरी पत्नी रीना से पासवान को एक बेटा चिराग और एक बेटी है। चिराग पासवान बॉलीवुड में अभिनय भी कर चुके हैं। मगर पहली ही फिल्म फ्लॉप होने बाद पिता की राजनीतिक विरासत को संभालने के लिए राजनीति में दस्तक दिए।बीजेपी से गठबंधन पर चिराग जुमई सीट से सांसद हैं।2011 में उनकी रिलीज हुई फिल्म-मिले हम ना मिले तुम बॉक्स ऑफिस पर बुरी तरह फ्लॉप रही थी।

पांच जुलाई 1946 को बिहार के खगरिया में एक दलित परिवार मे रामविलास पासवान का जन्म हुआ। 16 वीं लोकसभा में वह हाजीपुर लोकसभा सीट का प्रतिनिधित्व कर रहे। एमए, एलएलबी करने के दौरान वह छात्र राजनीति में सक्रिय हुए। जेपी मूवमेंट से जुड़कर पहचान बनाई। 1969 में पहली बार संयुक्त सोशलिस्ट पार्टी के टिकट पर विधायक बने। फिर पासवान ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App