ताज़ा खबर
 

RSS प्रमुख बोले- पूरी करो सिंघल की अंतिम इच्‍छा, राम मंदिर निर्माण के लिए ठोस पहल होनी चाहिए

रविवार रात दिल्‍ली में हुए कार्यक्रम में भागवत ने कहा कि सिंघल की सिर्फ दो इच्छाएं थीं। एक- अयोध्या में राम मंदिर बनाना, दूसरा- वेदों का प्रचार-प्रसार करना।

Author नई दिल्‍ली | November 23, 2015 8:54 AM
अशोक सिंघल की याद में रविवार को नई दिल्‍ली में आयोजित शोक सभा में भागवत के साथ बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह भी मौजूद थे।

राष्‍ट्रीय स्‍वयं सेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख अशोक सिंघल ने कहा कि राम मंदिर निर्माण ही विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के सबसे वरिष्‍ठ नेता अशोक सिंघल को सच्‍ची श्रद्धांजलि होगी। हमें उनके सपने को पूरा करने के लिए ठोस पहल करनी चाहिए। भागवत ने यह बात बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह, पार्टी के वरिष्‍ठ नेता मुरली मनोहर जोशी की मौजूदगी में कही। ये सभी सिंघल की याद में आयोजित शोक सभा में आए थे। उनका 17 नवंबर को गुड़गांव के अस्‍पताल में निधन हो गया था। सिंघल सालों से मंदिर आंदोलन के साथ जुड़े हुए थे।

रविवार रात दिल्‍ली में हुए कार्यक्रम में भागवत ने कहा कि सिंघल की सिर्फ दो इच्छाएं थीं। एक- अयोध्या में राम मंदिर बनाना, दूसरा- वेदों का प्रचार-प्रसार करना। हमें उम्मीद है कि आने वाले सालों में हम राम मंदिर निर्माण के सपने को पूरा करने की दिशा में बेहतर कदम उठा पाएंगे। सभा में मौजूद बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह ने कहा कि आजाद भारत में रामजन्मभूमि आंदोलन सबसे बड़ा आंदोलन था। इसके शुरुआत करने वाले अशोक सिंघल थे। शाह और भागवत के अलावा शोक सभा में रविशंकर प्रसाद, डॉ. हर्षवद्धन, वैंकेया नायडू, साध्वी निरंजन ज्योति भी मौजूद थे।

Read Also:

आडवाणी ने की मोदी की सराहना, कहा-अच्छे दिन के लिए सही दिशा में बढ़ रही है सरकार : आडवाणी

मोदी सरकार में बनेगा राम मंदिर, चार साल अभी बाक़ी हैं: साक्षी महाराज 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App