ताज़ा खबर
 

राम रहीम के करीबियों का निजी अंग निकाल दिया गया था, पुलिस को डर- जबरन नपुंसक तो नहीं बनाया गया

हिंसा के मामले में दान सिंह और राकेश कुमार को गिरफ्तार किया गया है। इन दोनों ने पुलिस के सामने खुलासा किया है कि डेरा में नपुंसक बनाने का धंधा भी जारी था।
बलात्कारी बाबा राम रहीम सिंह अभी जेल में बंद हैं। (फाइल फोटो)

बलात्कार के एक मामले में 20 साल की सजा काट रहे डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह की मुश्किलें बढ़ती जा रही है। हरियाणा पुलिस ने पंचकूला हिंसा मामले में गिरफ्तार किए गए दो आरोपियों से पूछताछ की तो वो सकते में आ गई। दोनों आरोपियों ने खुलासा किया कि उसे डेरा सच्चा सौदा में नपुंसक बना दिया गया था। आरोपियों के खुलासे के बाद अब पुलिस इस तहकीकात में जुटी है कि क्या वाकई डेरा में राम रहीम के करीबियों को जबरन नपुंसक बना दिया जाता था। बता दें कि इस मामले में पहले से ही हाईकोर्ट की निगरानी में सीबीआई जांच कर रही है। पुलिस डेरा में रहने वाले करीब 400 साधकों को नपुंसक बनाए जाने की आशंका जता रही है। इस मामले की जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग को भी पत्र लिखा गया है, ताकि वो जानकारी जुटाकर पुलिस और जांच एजेंसी को सौंप सके।

उधर, स्वास्थ्य विभाग ने भी दोनों आरोपियों की जांच के लिए तीन सदस्यीय बोर्ड गठित कर दिया है। इनमें फिजिशियन, सर्जन के अलावा एक रेडियोलॉजिस्ट भी हैं। सोमवार को इसके लिए बैठक होनी है।

बता दें कि हिंसा के मामले में दान सिंह और राकेश कुमार को गिरफ्तार किया गया है। इन दोनों ने पुलिस के सामने खुलासा किया है कि डेरा में नपुंसक बनाने का धंधा भी जारी था। पुलिस के सामने इन दोनों ने खुद को निजी सहायक और कानूनी सलाहकार बताया है। अब सवाल ये उठता है कि बाबा राम रहीम अपने करीबियों को क्यों नपुंसक बनाता था।

हालांकि, पुलिस का मानना है कि राम रहीम अपने नजदीकियों को इसलिए नपुंसक बना देता था ताकि वह किसी साध्वी के करीब न पहुंच सकें। उल्लेखनीय है कि गुरमीत राम रहीम सिंह साध्वी यौन शोषण मामले में 20 साल की सजा सजा काट रहे हैं।

देखिए वीडियो - हनीप्रीत से हुई 4 घंटे तक पूछताथ, डिनर में मिली दाल- रोटी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.