ताज़ा खबर
 

राम रहीम के साथ बंद शख्स आया बाहर, जेल में उसे मिल रही कैसी ‘सुविधाएं’, सब से उठाया पर्दा

उसने काफी देर तक कुछ खाया-पिया भी नहीं था। रात भर सोया नहीं, बस रोता रहा।
गुरमीत राम रहीम बलात्कार का दोषी पाए जाने के बाद हनीप्रीत के साथ जेल जाते हुए।

गुरमीत राम रहीम रोहतक जेल के अंदर बंद है। वह वहां 20 साल की सजा काट रहा है। उसके बारे में कहा जा रहा था कि जेल प्रशासन उसको एसी-गद्दे जैसी सुविधाएं दे रहा है। लेकिन अब राम रहीम के साथ जेल में बंद एक कैदी ने बाहर आकर अंदर की पूरी सच्चाई बताई है। स्वदेश किराड नाम के उस कैदी ने बताया है कि राम रहीम जेल के अंदर कैसे रह रहा है। स्वदेश किराड ने बताया कि जिस दिन राम रहीम को जेल के अंदर लाया गया तब वह हताश और निराश था, दुखी होकर सिर तक ऊपर नहीं उठा पा रहा था। किराड के मुताबिक, तब राम रहीम ने कहा,  ‘हे रब्बा कि कित्ता मेरे नाल’। राम रहीम रोता रहा। रात को अपने आप से बातें करता रहा। कहता था कि मैंने क्या गलती की? मेरा कसूर क्या है?

किराड के मुताबिक, जिस दिन राम रहीम जेल में आया था उस दिन वह जमीन पर बैठा रहा। उसने काफी देर तक कुछ खाया-पिया भी नहीं था। रात भर सोया नहीं, बस रोता रहा। बाद में उसके लिए बिसलेरी का पानी लाया गया। उस बिसलेरी के पैसे राम रहीम के अकाउंट से ही कटेंगे। किराड ने बताया कि जेल में राम रहीम को कोई खास सुविधाएं नहीं दी गई हैं। वहां वह आम कैदी की तरह रह रहा है। किराड के मुताबिक, उसको एसी, गद्दे नहीं दिए गए। उसको जेल की तरफ से दो काले कंबल, एक चटाई दी गई। स्वदेश किराड के मुताबिक, वह खुद एक झूठे केस में जेल में बंद थे। वह 29 अगस्त को रिहा हुए हैं। किराड के मुताबिक, जेल के कैदी भी अब राम रहीम पर गुस्सा हैं। इसलिए किसी भी कैदी को राम रहीम के पास नहीं जाने दिया जा रहा।

गौरतलब है कि साल 2002 में राम रहीम के खिलाफ एक गुमनाम पत्र लिखा गया था। जिसपर पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट ने संज्ञान लिया था। 15 साल तक चले इस बलात्कार केस में 25 अगस्त, 2017 को सीबीआई कोर्ट ने राम रहीम को दोषी करार दिया था और 28 अगस्त, 2017 को राम रहीम को दो अलग-अलग रेप केस में बीस साल की सजा सुनाई गई थी। कोर्ट ने जब राम रहीम को दोषी करार दिया था तो पंचकुला समेत हरियाणा के अन्य जिलों में राम रहीम के समर्थकों ने हिंसा कर दी थी। इस हिंसा में 38 लोगों की मौत हो गई थी जबकि 250 से ज्यादा घायल हो गए थे।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.