ताज़ा खबर
 

साध्‍वी प्राची की धमकी- 2019 से पहले राम मंदिर नहीं बना तो वह होगा जो सोचा नहीं गया

साध्‍वी ने कहा, ''जिस दिन रामभक्‍त अंगड़ाई लेकर खड़ा होगा, उस दिन मंदिर बन जाएगा। मेरा जीवन प्रभु राम को समर्पित है। मेरे प्रभु टाट में हैं और नेता ठाठ से एसी में सो रहे हैं। सरकार राम भक्‍तों की परीक्षा न लें।''

Author Updated: September 12, 2018 12:31 PM
विश्व हिंदू परिषद की फायरब्रांड नेता साध्वी प्राची। Express Photo by Tashi Tobgyal

साध्‍वी प्राची ने मंगलवार (11 सितंबर) को भारतीय जनता पार्टी को धमकी भरे लहजे में चेतावनी दी। अयोध्‍या में रामलला के दर्शन करने पहुंची साध्‍वी प्राची ने कहा, ”राम मंदिर हमारा था, हमारा है और हमारा ही रहेगा। संसार की कोई ताकत मेरे प्रभु राम के मंदिर को रोक नहीं पाएगी। किसी ने माई का दूध नहीं पीया जो हिंदुस्‍तान में मंदिर के निर्माण को रोक पाए। हम कोर्ट का सम्‍मान करते हैं, केवल कोर्ट के आदेश का इंतजार कर रहे हैं। 2019 तक राम मंदिर बन जाना चाहिए। 2019 के चुनाव को टाल देना चाहिए, लेकिन पहले राम मंदिर बनना चाहिए।” साध्‍वी ने बीजेपी के लिए कहा, ”अगर 2019 से पहले राम मंदिर नहीं बना तो मैं समझती हूं कि राम वह कर सकते हैं जिसकी कल्‍पना भी हमने नहीं की है।”

पत्रकारों से बातचीत में साध्‍वी ने कहा, ”जिस दिन रामभक्‍त अंगड़ाई लेकर खड़ा होगा, उस दिन मंदिर बन जाएगा। मेरा जीवन प्रभु राम को समर्पित है। मेरे प्रभु टाट में हैं और नेता ठाठ से एसी में सो रहे हैं। सरकार राम भक्‍तों की परीक्षा न लें।” एससी-एसटी एक्‍ट पर साध्‍वी प्राची ने कहा, ”सरकार इस पर विचार कर रही है। कुछ लोग समाज को तोड़ना चाहते हैं। हिंदुस्‍तान में अगड़े-पिछड़े की राजनीति चल रही है, यह गलत है। दलितों को सम्‍मान और बराबरी का अधिकार मिले, इसके लिए यह कानून बनाया गया है।”

रामलला के दर्शन के बाद लौटीं साध्‍वी वहां के सुरक्षाकर्मियों पर भड़क गईं। उन्‍होंने कहा, ”यूपी प्रशासन के लिए प्रशिक्षण बहुत जरूरी है। चाहे छोटा अधिकारी हो या बड़ा, उनको नैतिकता और व्‍यवहारिक ज्ञान देने की जरूरत है। जब मुझे दिक्‍कत हुई तो आम श्रद्धालु से कैसा बर्ताव होता होगा।” हालांकि माजरा क्‍या हुआ, यह साध्‍वी ने पत्रकारों को नहीं बताया। उन्‍होंने कहा, ”यह बात पत्रकारों से नहीं, सीएम (योगी आदित्‍यनाथ) से बताऊंगी।”

कुछ दिन पहले अयोध्या में राम मंदिर निर्माण मुद्दे पर शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्वाद ने कहा था कि मस्जिद की जमीन पर केवल मस्जिद ही बन सकती है। अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष व विश्व हिंदू परिषद के कार्यकारी अध्यक्ष रहे प्रवीण तोगड़िया ने कहा था कि अयोध्या में श्री राम मंदिर निर्माण के लिए सरकार को अध्यादेश लाना ही होगा। यदि नहीं कर सकते तो हटने के लिए तैयार रहो और अगर कानून बनाते हो तो अगली बार झंडा लेकर हम सरकार बनवाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 संघ आयोजित करने जा रहा लेक्‍चर सीरीज, 60 देशों को न्‍योता, पाकिस्‍तान को नहीं
2 पूर्व RBI गवर्नर का खुलासा- पीएमओ को भेजी थी बड़े घोटालेबाजों की लिस्ट, एक को भी नहीं पकड़ा
3 आशु गुरु बनकर चैनलों पर प्रवचन करते थे आसिफ खान, अब यौन शोषण के आरोप में फंसे