ताज़ा खबर
 

सिंघू बॉर्डर पर बना कच्चा घर, दिखा कर बोले राकेश टिकैत- हाईवे पर गांव बसाएँगे

किसान आंदोलन को 100 दिन से ज्यादा का वक्त बीत चुका है। पिछले साल नवंबर से किसान दिल्ली की सीमाओं पर डेरा डाले हुए हैं।

farmers protestकिसान नेता राकेश टिकैत।(PTI)।

किसान आंदोलन को 100 दिन से ज्यादा का वक्त बीत चुका है। पिछले साल नवंबर से किसान दिल्ली की सीमाओं पर डेरा डाले हुए हैं। नवंबर से मार्च आ गया है लेकिन कृषि कानूनों को लेकर गतिरोध अभी तक खत्म नहीं हुआ है। गतिरोध फिलहाल खत्म होते नजर भी नहीं आ रहा है क्योंकि सरकार और किसानों के बीच बातचीत भी नहीं हो रही है। इस बीच किसान नेता रैलियों और महापंचायतों के जरिए आंदोलन के लिए समर्थन जुटा रहे हैं। वहीं सरकार का ध्यान भी अब आगामी पांच राज्यों में चुनाव की तरफ मुड़ गया है। इतना वक्त बीतने के बाद भी किसानों की वही मांग है जो नवंबर में थी कि सरकार तीनों कृषि कानूनों को वापिस ले।

इस मुद्दे पर किसान नेता राकेश टिकैत से बातचीत में जब पत्रकार ने पूछा कि गर्मियां आने वाली हैं और आपने ये कच्चे मकान बनाने शुरू कर दिए हैं? किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि बदलते मौसम को देखते हुए हमने ये तैयारी की है। किसान अब इन कच्चे मकानों में रहेंगे और खुद को गर्मी से बचाएंगे। टिकैत ने कहा कि इस कच्चे मकान में मिट्टी की दीवारें बनाएंगे जिससे कि ठंडक रहे। पत्रकार ने पूछा कि क्या आप गांव बसाने आए हैं तो टिकैत ने इसके जवाब में हामी भरी।

टिकैत ने पत्रकार के सवाल के जवाब में कहा कि सरकार ने हमसे बातचीत सर्दियों में करनी बंद की थी अगली सर्दियों में सरकार किसानों से फिर से बातचीत करेगी और तब तक हम यहीं रहेंगे।

बता दें कि केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के विरोध को 100 दिन पूरे होने पर कांग्रेस ने शनिवार को कहा कि प्रदर्शनकारियों के साथ मोदी सरकार ने जैसा व्यवहार किया है वह भारत के लोकतंत्र में “काला अध्याय” है। पार्टी ने इसे सत्ताधारी भाजपा के “अहंकार” के 100 दिनों के रूप में मनाया।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने किसानों के विरोध को लेकर केंद्र पर निशाना साधा और कहा कि दिल्ली की सीमाओं पर कीलें लगाई गईं, वो भी उनके लिए जिनके बेटे देश की सीमाओं पर अपनी जान जोखिम में डालते हैं।

किसानों के आंदोलन के 100 दिन पूरे होने के बाद भी प्रदर्शनकारी यूनियन नेताओं का कहना है कि उनका आंदोलन खत्म नहीं हुआ है और वे और भी ज्यादा “मजबूत हो रहे हैं”।

Next Stories
1 बंगाल चुनाव: BJP ने जारी की 57 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट, CM ममता के खिलाफ लड़ेंगे सुवेंदु अधिकारी; अशोक डिंडा को भी टिकट
2 गुजरात: SIMI सदस्य होने के आरोप में गिरफ्तार 122 लोग कोर्ट से रिहा, UAPA के तहत हुई थी कार्रवाई
3 भाजपा में आए दिनेश त्रिवेदी तो बोले संबित पात्रा- लोकतंत्र की हत्यारी है TMC, लोगों ने कर दिया ट्रोल
ये पढ़ा क्या?
X