ताज़ा खबर
 

राकेश टिकैत ने संबित पात्रा को कहा बेहूदा, बोले- बीच से हटाओ इसको, बात नहीं करनी, भाजपा प्रवक्ता भी भड़के

कोरोना की लहर धीमी पड़ी तो किसान आंदोलन एक बार फिर रफ्तार पकड़ने लगा है। ईसी बीच दिल्ली के टिकरी बॉर्डर पर एक शख्स पर ज्वलनशील पदार्थ डालकर आग लगा दी गई और उसकी मौत हो गई। इसी मुद्दे पर आजतक पर बहस के दौरान भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत भड़क गए और […]

भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा और भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत।

कोरोना की लहर धीमी पड़ी तो किसान आंदोलन एक बार फिर रफ्तार पकड़ने लगा है। ईसी बीच दिल्ली के टिकरी बॉर्डर पर एक शख्स पर ज्वलनशील पदार्थ डालकर आग लगा दी गई और उसकी मौत हो गई। इसी मुद्दे पर आजतक पर बहस के दौरान भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत भड़क गए और भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा को उल्टा-सीधा कहने लगे। उन्होंने संबित का बेहूदा भी कह दिया। इसपर भाजपा प्रवक्ता ने भी आपत्ति जताई।

आजतक पर डिबेट के दौरान जब संबित पात्रा ने कहा कि ये लोग किसी जांच एजेंसी पर भरोसा नहीं करते तो क्या पाकिस्तान से जांच एजेंसी बुलाई जाए? इसके बाद राकेश टिकैत तरह-तरह के आरोप लगाने लगे। उन्होंने कहा, ‘इनको कोई फर्क नहीं पड़ता कि किसान और फोर्स में टकराव हो। इनका काम है कि किसान संगठन बदनाम हों। आप महात्मा गांधी की हत्या करने वाले का मंदिर बनवाते हो और उसकी पूजा करते हो।’

इस बात पर संबित पात्रा ने आपत्ति जताई और कहा, मैं शांति से सुन रहा हूं इसका मतलब यह नहीं है कि कुछ भी बोला जाए। शो को चित्रा त्रिपाठी होस्ट कर रही थीं। राकेश टिकैत कहने लगे, अब मैं बात नहीं करता, मैं चित्रा जी आप से बात करूंगा। मैं बेहूदा लोगों से बात नहीं करता। हटाओ इसको, चुप करो इसको। राकेश टिकैत और जोर से चीखने लगे, कहने लगे, ये कौन है बीच में बोल रहा है। हटाओ इसको।

संबित पात्रा भी राकेश टिकैत पर भड़के और बोले, आप हट जाओ। आपको ये नहीं पता कि कैसे बात करनी है। आप गाली देंगे और हम सुनते रहेंगे। चित्रा जी ये उचित नहीं है। इस प्रकार से गाली गलौज, किस प्रकार का अहंकार है। आजतक पर किस तरह की बातों को प्रोट किया जा रहा है। यहां तक कि संबित पात्रा ने कहा, अगर आप चाहते हैं कि हम आजतक को बायकॉट करें तो हम कर देंगे।

इसी शो में ऐंकर ने जब राकेश टिकैत से पूछा था कि जिंदा जलाने के मामले में जिम्मेदार कौन है? टिकैत ने सवाल से पल्ला झाड़ते हुए कहा, देश में धाराएं हैं, कानून हैं, वो काम करे। उसकी जांच होनी चाहिए। वीडियो भी देख लिया जाए, जांच से पूरी बात क्लियर हो जाएगी। राकेश टिकैत कहते रहे कि हमारा आंदोलन शांतिपूर्ण है। उन्होंने परिवार के आरोपों को भी नकार दिया।

Next Stories
1 नंदीग्राम में हार के बाद कोर्ट में ममता बनर्जी, सुनवाई टली तो जज पर उठाए सवाल
2 नया संसद भवन बनने के बाद देश में बढ़ जाएंगी लोकसभा सीटें? स्पीकर ओम बिड़ला ने किया इशारा
3 चुनाव आयोग पहुंचे चिराग पासवान, बाहर निकल बोले- मिलेगा साबित करने का मौका
ये पढ़ा क्या?
X