ताज़ा खबर
 

किसान आंदोलन: ट्रैक्टर रैली में हिंसा पर राकेश टिकैत ने पूछा- कोई वहां झंडा फहरा गया, गोली क्यों नहीं चलाई? पुलिस कहां थी?

राकेश टिकैत का कहना है कि ट्रैक्टर परेड के दौरान जिस व्यक्ति ने लाल किले पर अपना झंडा फहराया, उसे पुलिस ने गोली क्यों नहीं मारी। पुलिस कहां थी। झंडा फहराने के बाद भी उस व्यक्ति को जाने दिया गया।

राकेश टिकैत (फोटो सोर्सः एजेंसी)

किसान नेता राकेश टिकैत का कहना है कि ट्रैक्टर परेड के दौरान जिस व्यक्ति ने लाल किले पर अपना झंडा फहराया, उसे पुलिस ने गोली क्यों नहीं मारी। पुलिस कहां थी। झंडा फहराने के बाद भी उस व्यक्ति को जाने दिया गया। उसे गिरफ्तार करने की जहमत भी दिल्ली पुलिस ने नहीं उठाई।

BKU प्रवक्ता टिकैत ने दीप सिद्धू पर निशाना साधते हुए कहा कि दिल्ली पुलिस ने जानबूझकर शरारती तत्वों को लाल किले के भीतर जाने दिया। उनका कहना है कि जिस व्यक्ति ने सारे देश को शर्ससार कर दिया, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए। उनका कहना है कि पुलिस अभी भी हाथ पर हाथ धरे बैठी है। किसानों पर सारा ठीकरा फोड़कर पुलिस अपना दामन साफ दिखाने पर आमादा है।

दिल्ली हिंसा के लिए आम आदमी पार्टी, भाजपा व कांग्रेस ने एक-दूसरे का जिम्मेदार ठहराया है। आप ने बुधवार को आरोपी दीप सिद्धू की भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के साथ की तस्वीरें जारी करते पूरे वाकये को भाजपा प्रायोजित व आंदोलन को बदनाम करने की साजिश करार दिया। वहीं, भाजपा का कहना है कि लाल किले पर आप कार्यकर्ताओं ने हुडदंग किया।

कांग्रेस ने हिंसा का ठीकरा दिल्ली सरकार और दिल्ली पुलिस पर फोड़ा है। पार्टी का कहना है कि किसानों की ट्रैक्टर रैली में युवाओं को दोनों ने मिलकर गुमराह किया है। इससे साफ है कि रैली में युवाओं को भड़काने में पुलिस और आप सरकार की मिलीभगत थी। पार्टी ने कहा, दिल्ली पुलिस ने किसानों को आईटीओ और लालकिला तक आने कैसे दिया।

दिल्ली पुलिस ने 26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर रैली में हुई हिंसा के लिए 37 लोगों को जिम्मेदार मानते हुए एफआईआर दर्ज की है। इनमें से पांच लोगों को साजिश का सूत्रधार बताया जा रहा है। 37 नामों के अलावा भी कई ऐसे चेहरे हैं, जिन्हें पुलिस को ढूंढना भी है और पकड़ना भी है। इन लोगों के खिलाफ पुलिस ने भड़काऊ भाषण, डकैती, सरकारी काम में रुकावट डालना जैसे मामले दर्ज किए हैं।

उधर, दिल्ली के पुलिस आयुक्त एनएन श्रीवास्तव ने कहा कि हिंसा करने वाले जिस-जिस व्यक्ति की पहचान होगी, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। दीप सिद्धू को लेकर कए गए सवाल का उन्होंने कोई सीधा जवाब नहीं दिया। उनका कहना है, जो पहचान में आएगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Next Stories
1 पैंट की जिप खोलना नहीं है यौन हिंसा, बोली बॉम्बे हाई कोर्ट की जज, कम कर दी सज़ा
2 जब अयोध्या मस्जिद पर बोले ओवैसी- ‘वहां नमाज पढ़ना हराम, चुल्लू भर पानी में डूब मरो’, इकबाल अंसारी बोले- ध्यान न दें
3 दुनिया में पांचवां सबसे मजबूत ब्रांड मुकेश अंबानी का रिलायंस जियो, BFG 500 की रिपोर्ट
ये पढ़ा क्या?
X