ताज़ा खबर
 

पांच राज्यों से 18 उम्मीदवार बिना चुनाव लड़े चुने गए राज्यसभा सांसद, कांग्रेस शासित राज्यों में जारी है तकरार

पांच राज्यों के कुल 18 उम्मीदवार बुधवार को राज्यसभा में निर्विरोध चुने गए। यह सभी उम्मीदवार भाजपा, बीजद, कांग्रेस, जनता दल (यूनाइटेड) और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के हैं।

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: March 19, 2020 9:10 AM
राज्यसभा चुनाव 26 मार्च को होने हैं।(file)

पांच राज्यों – ओडिशा, बिहार, पश्चिम बंगाल, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश के कुल 18 उम्मीदवार बुधवार को राज्यसभा में निर्विरोध चुने गए। यह सभी उम्मीदवार भाजपा, बीजद, कांग्रेस, जनता दल (यूनाइटेड) और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के हैं। यह राष्ट्रपति द्वारा भारत के पूर्व मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई को राज्यसभा के लिए नामांकित किए जाने के एक दिन बाद हुआ है। राज्यसभा चुनाव 26 मार्च को होने हैं।

बिहार –
एक अधिकारी ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया कि बिहार में पांच राज्यसभा उम्मीदवारों को “निर्विरोध” चुना गया था क्योंकि कोई अन्य नामांकन दाखिल नहीं किया गया था। पांच उम्मीदवारों में से एक जनता दल (यूनाइटेड) और एक राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) से है और एक भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से थे।

सीटों के लिए चुनावों की आवश्यकता थी क्योंकि वे अप्रैल में सांसदों के कार्यकाल की समाप्ति पर खाली हो रहीं हैं, राज्य में ये सभी सीटें जनता दल (यूनाइटेड) -भाजपा गठबंधन की हैं। जनता दल (यूनाइटेड) के उम्मीदवार हरिवंश और राम नाथ ठाकुर थे। हरिवंश वर्तमान में राज्यसभा के उपाध्यक्ष हैं, वे लगातार दूसरे कार्यकाल में सेवारत रहेंगे।

हरियाणा –
भाजपा के दो उम्मीदवार राम चंदर जांगड़ा और दुष्यंत कुमार गौतम और कांग्रेस के दीपेंद्र सिंह हुड्डा को हरियाणा से राज्यसभा के लिए निर्विरोध चुना गया है। रिटर्निंग अधिकारी अजीत बालाजी जोशी ने कहा, “उन्हें राज्यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया गया है।” पिछले साल विधानसभा चुनावों में राम कुमार कश्यप को विधायक के रूप में चुना गया था जिसके बाद राज्यसभा की दो सीटें खाली हो गईं थीं और अगले महीने दिग्गज कांग्रेसी नेता कुमारी शैलजा का कार्यकाल समाप्त हो जाएगा।

हिमाचल प्रदेश –
भाजपा महिला मोर्चा की पूर्व प्रदेश अध्यक्ष इंदु गोस्वामी हिमाचल प्रदेश से राज्यसभा के लिए चुनी गईं। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर, राज्य भाजपा प्रमुख राजीव बिंदल और शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज के साथ गोस्वामी को राज्य विधानसभा सचिव यश पॉल शर्मा ने उच्च सदन के लिए उनके निर्वाचन का प्रमाण पत्र सौंपा।

पश्चिम बंगाल- 
तृणमूल कांग्रेस के चार उम्मीदवार और सीपीआई (एम) के एक उम्मीदवार को बुधवार को राज्यसभा सीटों के लिए निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया गया। तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार अर्पिता घोष, दिनेश त्रिवेदी, सुब्रत बख्शी और मौसिम नूर और कांग्रेस द्वारा समर्थित सीपीआई (एम) के बिकाश रंजन भट्टाचार्य उन लोगों में शामिल हैं, जो उच्च सदन के लिए चुने गए।

ओडिशा- 
पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, बीजद के सभी चार उम्मीदवार राज्यसभा के लिए चुने गए, क्योंकि विपक्षी भाजपा और कांग्रेस ने 26 मार्च को होने वाले चुनाव के लिए कोई उम्मीदवार नहीं उतारा था। राज्यसभा चुनाव के लिए ओडिशा विधानसभा सचिव-सह रिटर्निंग ऑफिसर, दशरथी सत्पथी ने बीजद के चार उम्मीदवारों- सुभाष सिंह, मुन्ना खान, सुजीत कुमार और ममता महंत के चुनाव की घोषणा की। इसके अलावा, प्रस्तावकों के रूप में आवश्यक 10 विधायकों के नहीं होने के कारण चार निर्दलीय उम्मीदवारों की उम्मीदवारी खारिज कर दी गई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कोरोना से बचाओ सरकार
2 कोरोना वायरस: दक्षिणी राज्यों में पूर्ण प्रतिबंध जैसे हालात
3 जवानों की गैरजरूरी छुट्टियां रद्द करे फोर्स : सरकार