ताज़ा खबर
 

गृह मंत्री बोले- पीएम की सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं, सुब्रमण्यन स्वामी ने कहा- NSA को लिखूंगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मिल रहीं जान से मारने की धमकियों को देखते हुए सरकारी अमला सतर्क हो गया है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि वह प्रधानमंत्री की सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं। उन्होंने कहा है कि माओवाद और अतिवाद अब कई गुना कम हो गया है।

गृह मंत्री राजनाथ सिंह और पीएम नरेंद्र मोदी की फाइल फोटो। (सोर्स- पीटीआई)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मिल रहीं जान से मारने की धमकियों को देखते हुए सरकारी अमला सतर्क हो गया है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि वह प्रधानमंत्री की सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं। उन्होंने कहा है कि माओवाद और अतिवाद अब कई गुना कम हो गया है। माओवादी सिर्फ एक खोई लड़ाई लड़ रहे हैं। भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने प्रधानमंत्री को लेकर मिल रही धमकियों पर कहा कि वह सोमवार को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोवाल को पत्र लिखेंगे। उन्होंने कहा कि चूंकि कांग्रेस पार्टी भी इसमें शामिल या नामित है, इसलिए इसे हल्के से नहीं लिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि इसमें कोई संदेह नहीं है कि प्रधान मंत्री मोदी हमारे स्टार प्रचारक हैं और उन्होंने हमारे प्रदर्शन में असर डाला है। केंद्रीय मंत्री आरके सिंह ने कहा कि प्रधान मंत्री खतरे में हैं, इसे गंभीरता से लिया जाना चाहिए। जो लोग नहीं चाहते हैं कि भारत एक शक्तिशाली राष्ट्र के रूप में उभरे, वे असहज हो गए हैं क्योंकि उन्हें पता है कि भारत केवल उनके नेतृत्व में शक्तिशाली हो सकता है।

बता दें कि बीते बुधवार को महाराष्ट्र के भीमा कोरेगांव में हिंसक प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने पांच दलित कार्यकर्ताओं रोना जैकब विल्सन, सुधीर धावले, शोभा सेन, महेश राउत, और सुरेंद्र गॉडलिंग को गिरफ्तार किया था। पुणे पुलिस ने दिल्ली पुलिस के साथ मिलकर इन कार्यकर्ताओं को दबोचा था। पुलिस की जांच में इनमें से एक रोना जैकब विल्सन के लैपटॉप से वह पत्र बरामद हुआ है जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की तरह मारने की साजिश का पता चला है।

पत्र से पता चला है कि माओवादी पीएम को किसी रोड शो के दौरान आत्मघाती हमले का निशाना बना सकते हैं। फिलहाल पुलिस आरोपियों से बरामद साक्ष्यों की फोरेंसिक जांच करा रही है। वहीं शुक्रवार (8) जून को जुमे की नमाज के बाद पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकी संगठन जमात उद दावा के एक आतंकी मौलाना बशीर अहमद ने मुस्लिम युवकों से रमजाम के पवित्र महीने में जेहाद छेड़ने के लिए आह्वान किया। आतंकी ने समाचार एजेंसी एएनआई से रावलकोट में कहा कि रमजान का महीना जेहाद और कत्ल के लिए माकूल होता है। आतंकी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जान से मारने की बात भी कही।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App