ताज़ा खबर
 

राजनाथ की पाक को खरी-खरी, राष्ट्रीय स्वाभिमान को चुनौती दी तो मिलेगा करारा जवाब

पंजाब में गुरदासपुर जिले के दीनानगर में आतंकी हमले के मद्देनजर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज कहा कि भारत पाकिस्तान के साथ सौहार्दपूर्ण.

Author July 27, 2015 7:00 PM
केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह (पीटीआई फाइल फोटो)

पंजाब में गुरदासपुर जिले के दीनानगर में आतंकी हमले के मद्देनजर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज कहा कि भारत पाकिस्तान के साथ सौहार्दपूर्ण संबंध चाहता है, लेकिन यदि राष्ट्रीय स्वाभिमान को चुनौती दी गई तो मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा।

राजनाथ ने कहा कि वह यह नहीं समझ पा रहे हैं कि भारत द्वारा पाकिस्तान के साथ ‘‘अच्छे संबंध’’ चाहने के बावजूद सीमा पार से आतंकी घटनाएं लगातार क्यों हो रही हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मेरी समझ में यह नहीं आता कि जब हम अपने पड़ोसी (पाकिस्तान) के साथ अच्छे संबंध चाहते हैं तो सीमा पार से आतंकी घटनाएं बार-बार क्यों हो रही हैं। मैं अपने पड़ोसी को बताना चाहता हूं कि हम शांति चाहते हैं, लेकिन अपने राष्ट्रीय स्वाभिमान की कीमत पर नहीं।’’

गृहमंत्री ने यहां कहा, ‘‘मैं यह पूर्व में कह चुका हूं और मैं यह दोबारा कहूंगा कि हम पहले हमला नहीं करेंगे या गोली नहीं चलाएंगे, लेकिन यदि चुनौती दी गई तो मुंहतोड़ जवाब देंगे।’’

HOT DEALS
  • Sony Xperia XA1 Dual 32 GB (White)
    ₹ 17895 MRP ₹ 20990 -15%
    ₹1790 Cashback
  • Lenovo Phab 2 Plus 32GB Gunmetal Grey
    ₹ 17999 MRP ₹ 17999 -0%
    ₹900 Cashback

राजनाथ यहां केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 76वें स्थापना दिवस समारोह पर अर्द्धसैनिक बल की सलामी लेने आए हैं। देश के सबसे बड़े अर्द्धसैनिक बल की स्थापना इस छावनी नगर में 1939 में हुई थी।

दोनों देशों के बीच शांति के लिए भारत के प्रयासों की याद दिलाते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल अपने शपथ ग्रहण समारोह में अपने पाकिस्तानी समकक्ष नवाज शरीफ को आमंत्रित किया था।

राजनाथ ने कहा, ‘‘मैंने इस आयोजन के लिए रवाना होने से पहले पंजाब के मुख्यमंत्री, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार और गृह सचिव से बात की। यहां आना महत्वपूर्ण था क्योंकि यह दिन सीआरपीएफ के जीवन में ऐतिहासिक है और मैं आज यहां किसी भी कीमत पर अपने जवानों तथा अधिकारियों से मिलना चाहता था।’’

गृहमंत्री गुरदासपुर आतंकी घटना पर कल संसद में बयान देंगे। उन्होंने कहा, ‘‘घटना पर मैं कल संसद में बयान दूंगा।’’ उन्होंने यह भी कहा कि जारी अभियान में सुरक्षाबलों को ‘‘पूरी सफलता’’ मिलेगी।

गृहमंत्री ने कहा कि सेना और अर्द्धसैनिक बलों के साहस तथा बल पर विश्वास करते हुए वह देश को आश्वस्त कर सकते हैं कि लोग और सीमाएं सुरक्षित रहेंगी। राजनाथ ने सीआरपीएफ और अन्य सुरक्षाबलों से आतंकवादियों तथा अन्य राष्ट्र विरोधी तत्वों के कुटिल इरादों को विफल करने को कहा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App