ताज़ा खबर
 

भारत विस्तारवादी नहीं, पड़ोसियों के साथ अच्छे संबंध चाहता है: राजनाथ

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने भारत की विस्तारवादी महत्वाकांक्षाएं ना होने की बात पर जोर देते हुए कहा कि उसने पड़ोसियों खासकर पाकिस्तान और चीन के साथ हमेशा बेहतर..
Author सांबा (जम्मू-कश्मीर) | September 21, 2015 16:47 pm
गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने भारत की विस्तारवादी महत्वाकांक्षाएं ना होने की बात पर जोर देते हुए कहा कि उसने पड़ोसियों खासकर पाकिस्तान और चीन के साथ हमेशा बेहतर संबंधों की कोशिश की है। (पीटीआई फोटो)

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने भारत की विस्तारवादी महत्वाकांक्षाएं ना होने की बात पर जोर देते हुए आज कहा कि उसने पड़ोसियों खासकर पाकिस्तान और चीन के साथ हमेशा बेहतर संबंधों की कोशिश की है और सीमा विवाद एवं आतंकवाद समेत सभी मुद्दे केवल बातचीत के माध्यम से ही हल किए जा सकते हैं।

पाकिस्तान और चीन की सीमाओं पर अग्रिम इलाकों के तीन दिनों के दौरे की शुरूआत करने वाले गृह मंत्री ने कहा कि भारत ‘‘केवल अपनी सीमाओं की रक्षा करना चाहता है’’ और सीमा पार से घुसपैठ एवं अतिक्रमण बंद होने चाहिए। उन्होंने कहा कि भारत पड़ोसियों के साथ संबंध सुधारने की दिशा में आगे बढ़ने के लिए तैयार है लेकिन अपने सम्मान और गरिमा से समझौता नहीं करेगा।

सिंह ने एक समारोह में यहां आईटीबीपी के जवानों को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘हम चीन और पाकिस्तान के साथ बेहतर संबंध चाहते हैं। जब तक उनके साथ भारत के संबंध नहीं सुधरते एशिया में शांति नहीं आ सकती और महाद्वीप विकास के पथ पर समृद्ध नहीं हो सकता।’’

उन्होंने कहा, ‘‘चाहे सीमा विवादों का सवाल हो या आतंकवाद का मुद्दा हो, मुझे लगता है कि सभी मुद्दों का हल बातचीत के माध्यम से ही हो सकता है। भारत एक शांति प्रिय देश है। हम केवल अपनी सीमाओं की रक्षा करना चाहते हैं।’’

गृह मंत्री ने कहा, ‘‘भारत कभी भी विस्तारवादी देश नहीं रहा है। ना तो हम विस्तारवादी रहे हैं और ना ही भविष्य में होंगे।’’
उन्होंने कहा, ‘‘मैं दृढ़संकल्प के साथ ऐसा इसलिए कह रहा हूं क्योंकि भारत दुनिया का अकेला ऐसा देश है जहां के साधु संतों ने ना केवल अपनी सीमाओं में रहने वाले लोगों को अपना नागरिक माना है बल्कि दुनिया में रहने वाले लोगों को भी अपना समझा है।’’

गृह मंत्री ने कहा, ‘‘हमने दुनिया को ‘वसुधैव कुटुंबकम’ – पूरी दुनिया एक परिवार है- के दर्शन का संदेश दिया है… इसकी वजह से हम सब के साथ अच्छे संबंध चाहते हैं।’’

उन्होंने कहा कि भारत ना केवल चीन बल्कि सभी पड़ोसी देशों के साथ ‘दिल से दिल’ का रिश्ता चाहता है। सिंह ने इससे पहले संवाददाताओं से कहा, ‘‘मैं हमारे पड़ोसियों के साथ हमेशा बेहतर संबंधों की कामना करता हूं। हमारी ओर से हमेशा ऐसी कोशिश होती है। हमने (पाकिस्तान और चीन की तरफ दोस्ती के लिए) अपने हाथ बढ़ाए हैं।’’

गृह मंत्री ने पाकिस्तान द्वारा संघर्षविराम के गंभीर उल्लंघनों और चीन-भारत सीमा पर अतिक्रमणों को लेकर पूछे गए कई सवालों का जवाब देते हुए यह सब कहा। उन्होंने पाकिस्तान द्वारा भारतीय नागरिकों पर भारी गोलाबारी और गोलीबारी की पृष्ठभूमि में उसके साथ बातचीत के मुद्दे पर कहा, ‘‘मैं कह चुका हूं कि भारत पड़ोसियों के साथ बेहतर संबंध चाहता है। बेहतर संबंध बनाए जा सकते हैं। पाकिस्तान को आगे आना चाहिए, दोनों पक्षों को आगे आना चाहिए। भारत आगे बढ़ने के लिए तैयार है।’’

सिंह ने सीमा पर झड़पों में हुई बढ़ोतरी और सीमा पर रहने वाले लोगों की दुर्दशा से जुड़े एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘मैं देश के लोगों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि हमारी सरकार देश की सुरक्षा, सम्मान और गरिमा के साथ कोई समझौता नहीं करेगी।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.