ताज़ा खबर
 

राजनीतिक व सामाजिक कार्य को साथ जोड़ने की कोशिश है ‘स्वच्छ भारत अभियान’

लखनऊ। केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने प्रधानमंत्री नरेन््रद मोदी के ‘‘स्वच्छ भारत अभियान’’ को महात्मा गांधी काल की उस परंपरा को पुनर्जीवित करने की कोशिश बताया है, जिसमें राजनीतिक कार्यकर्ता राजनीति और समाजसेवा का काम एक साथ करते थे। राजनाथ ने आज यहां गोमदी नदी के किनारे ‘‘बालू अड्डे’’ मोहल्ले में एक वाल्मीकि बस्ती […]

Author Published on: October 2, 2014 3:17 PM

लखनऊ। केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने प्रधानमंत्री नरेन््रद मोदी के ‘‘स्वच्छ भारत अभियान’’ को महात्मा गांधी काल की उस परंपरा को पुनर्जीवित करने की कोशिश बताया है, जिसमें राजनीतिक कार्यकर्ता राजनीति और समाजसेवा का काम एक साथ करते थे।

राजनाथ ने आज यहां गोमदी नदी के किनारे ‘‘बालू अड्डे’’ मोहल्ले में एक वाल्मीकि बस्ती में झाडू लगाकर स्वच्छ भारत अभियान शुरु करते हुए कहा, ‘‘आज भाजपा हो अथवा अन्य राजनीतिक व राजनीतिक कार्यकर्ता आमतौर पर स्वयं को राजनीति तक ही सीमित रखता है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम राजनीतिक कार्यकर्ता को सामाजिक-राजनीतिक कार्यकर्ता के रुप में बदलना चाहते हैं। ताकि राजनीतिक कार्यकर्ताओं की पहचान समाजसेवी के रूप में भी हो।’’

केन्द्रीय गृह मंत्री ने यह याद दिलाया कि महात्मा गांधी के समय राजनीति और समाजसेवा साथ-साथ चलते थे। उन्होंने कहा, ‘‘हम उस परंपरा को जीवित कर रहे हैं और आज से शुरू हो रहा स्वच्छ भारत अभियान उसी दिशा में उठाया गया एक कदम है।’’

उन्होंने वाल्मीकि मोहल्ले के लोगों के साथ सडक पर झाडू लगाने के बाद कहा, ‘‘कोई काम छोटा बडा नहीं होता…आज का अभियान प्रतीकात्मक है। महात्मा गांधी अपने सारे काम स्वयं करते थे।’’

स्वच्छता अभियान शुरू करने के लिए गांधी जयंती का दिन चुने जाने को लेकर कतिपय राजनीतिक दलों द्वारा इस अभियान को राजनीतिक स्वार्थ का रंग दिये जाने संबंधी टिप्पणियों के बारे में संवाददाताओं के सवाल पर सिंह ने कहा, ‘‘यह उनके विचारों का बडप्पन नहीं दिखाता।’’

इससे पूर्व सिंह ने आज सुबह चारबाग रेलवे स्टेशन और कुंडरी रकाबगंज मोहल्ले में भी झाडू लगाकर इस अभियान को शुरू किया और हजरतगंज जीपीओ पार्क पर महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories