ताज़ा खबर
 

कश्मीर के पत्थरबाजों पर राजनाथ सिंह का बयान- बच्चे तो बच्चे होते हैं, उन्हें आतंकी नहीं कह सकते

राजनाथ सिंह ने कहा कि पत्थरबाजों के खिलाफ मुकदमें हटाने की मोदी सरकार की पॉलिसी के तहत सिर्फ पहली बार पत्थरबाजी करने वाले युवाओं को राहत दी गई है और बच्चे, बच्चे होते हैं।12-15 साल के बच्चे आतंकी नहीं हो सकते।

Author Updated: May 26, 2018 6:55 PM
राजनाथ सिंह ने सीजफायर को लेकर दिया बयान (Express photo )

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि वह ये मानने को तैयार नहीं हैं कि पत्थरबाज, आतंकी होते हैं और उन्हें इस बात पर भी यकीन नहीं है कि कश्मीर और कश्मीरी भारत के दुश्मन हैं। राजनाथ सिंह ने यह भी कहा कि यदि कोई बच्चा पत्थरबाजी में लिप्त है तो हम उसे आतंकवादी नहीं करार दे सकते। वह गुमराह हुआ है और उसे वापस मुख्यधारा में लाना हमारी जिम्मेदारी है। बता दें कि एक आज तक टीवी चैनल पर पीएम मोदी सरकार के 4 सालों के कामकाज की समीक्षा के लिए एक कार्यक्रम आयोजित किया था। इसी दौरान राजनाथ सिंह ने ये बातें कहीं। कार्यक्रम के दौरान पत्रकार ने सवाल किया कि घाटी में एक तरफ पत्थरबाज एनकाउंटर के दौरान सिक्योरिटी फोर्स के काम में बाधा पहुंचाते हैं, वहीं मोदी सरकार पत्थरबाजों के प्रति नरमी बरत रही है और उनके खिलाफ लगे मुकदमें हटा रही है, तो क्या कश्मीर मुद्दे को लेकर मोदी सरकार की पॉलिसी में कोई असमंजस की स्थिति है? इसके जवाब में राजनाथ सिंह ने कहा कि पत्थरबाजों के खिलाफ मुकदमें हटाने की मोदी सरकार की पॉलिसी के तहत सिर्फ पहली बार पत्थरबाजी करने वाले युवाओं को राहत दी गई है। राजनाथ सिंह ने कहा कि बच्चे, बच्चे होते हैं।12-15 साल के बच्चे आतंकी नहीं हो सकते। मैं फिलहाल ये मानने को तैयार नहीं हूं।

रमजान के महीने के दौरान कश्मीर में सीजफायर करने के सरकार के फैसले पर राजनाथ सिंह ने कहा कि कश्मीर भी हमारा है और कश्मीरी भी हमारे अपने लोग हैं। रमजान का महीना बहुत पवित्र महीना होता है इसलिए इस बात को ध्यान में रखते हुए कि रमजान के दौरान कश्मीर में शांति रहे और किसी कश्मीरी की एनकाउंटर के दौरान मौत ना हो, इसके लिए बहुत सोच-समझकर यह फैसला लिया गया है। हालांकि राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान द्वारा सीजफायर को समर्थन ना दिए जाने पर निराशा भी जाहिर की। बता दें कि पाकिस्तान द्वारा रमजान के दौरान भी सीमा पर लगातार गोलीबारी की जा रही है। जिसमें सीमावर्ती इलाकों में पिछले 9 दिनों में 12 लोगों की मौत हो चुकी है।

गृहमंत्री ने कहा कि हिंसा के माहौल में पाकिस्तान के साथ बातचीत नहीं होगी। राजनाथ सिंह ने कहा कि आतंकवाद का खात्मा होगा, भले ही इसमें कुछ वक्त लग जाए, लेकिन हम आतंकवाद पर काबू पा लेंगे। नक्सलवाद पर बात करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि देश में नक्सलवाद खत्म हो रहा है और जल्द ही इस पर काबू पा लिया जाएगा। राजनाथ सिंह ने कहा कि हमारे सुरक्षाबल किसी भी तरह के आतंक मुंह तोड़ जवाब देने में सक्षम हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 हाथों में संविधान उठा बोले केंद्रीय मंत्री- हर पन्ने पर भगवान श्रीराम, श्रीकृष्ण की छाप
2 मोदी सरकार के 4 साल: राहुल गांधी ने रिपोर्ट कार्ड जारी कर बीजेपी सरकार को दिए A प्लस ग्रेड
3 मोदी के 4 साल: कांग्रेस बोली- 4600 करोड़ खर्च कर सुर्खियां खरीदी, पर देश का सुकून छीना
जस्‍ट नाउ
X