ताज़ा खबर
 

INDIAN RAILWAYS के तीन सबसे साफ सुथरे स्टेशनों में इन शहरों के नाम, रेलमंत्री ने पेश की सर्वे रिपोर्ट

रेल जोन में दक्षिण पूर्व सेंट्रल रेलवे और ईस्ट सेंट्रल रेलवे क्रमशः दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे। इस साल सर्वे में पहली बार 720 स्टेशन और उप नगरीय रेलवे स्टेशनों को भी शामिल किया गया था।

Author नई दिल्ली | Updated: October 2, 2019 3:06 PM
रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को रेलवे स्वच्छता सर्वे रिपोर्ट जारी की। (फाइल फोटो)

INDIAN RAILWAYS भारतीय रेलवे के सबसे साफ स्टेशन में राजस्थान ने शीर्ष स्थान हासिल किया है। रेलवे की तरफ से देश के सबसे साफ स्टेशन में राजस्थान का जयपुर, जोधपुर और दुर्गापुरा रेलवे स्टेशन शामिल हैं। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को रेलवे स्वच्छता सर्वे रिपोर्ट जारी की।

देश के 720 स्टेशनों में जयपुर, जोधपुर और दुर्गापुरा को साफ स्टेशनों की रैंकिंग में शीर्ष तीन में स्थान मिला। वहीं, देश के 109 उपनगरीय स्टेशनों में अंधेरी, विरार और नैगांव शीर्ष तीन स्टेशनों में स्थान बनाने में सफल रहे। इसके अतिरिक्त शीर्ष तीन रेलवे जोन में नॉर्थ वेस्टर्न रेलवे जोन पहले स्थान पर रहा। दक्षिण पूर्व सेंट्रल रेलवे और ईस्ट सेंट्रल रेलवे क्रमशः दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे।

रेलवे साल 2016 से हर साल स्वच्छ स्टेशनों के लेकर सर्वे करवाता है। रेलवे की तरफ से देश के 407 बड़े स्टेशनों के लिए यह सर्वे थर्ड पार्टी ऑडिट और स्वच्छता रैंकिंग पर आधारित होता है। इस साल सर्वे में पहली बार 720 स्टेशन और उप नगरीय रेलवे स्टेशनों को भी शामिल किया गया था। सर्वे में हरित प्रयासों के मूल्यांकन को भी शामिल किया गया।

सर्वे में स्टेशन का पार्किंग एरिया, रेलवे स्टेशन का मुख्य प्रवेश द्वार, मेन प्लेटफॉर्म, फुटओवर ब्रिज के साथ ही रेलवे स्टेशन के मेन प्लेटफॉर्म के वेटिंग रूम की साफ सफाई को भी शामिल किया। ए1 कैटेगरी में उन स्टेशनों को शामिल किया जाता है जहां से वार्षिक यात्री राजस्व 50 करोड़ से अधिक होता है। वहीं ए कैटेगरी में 6-50 करोड़ वार्षिक यात्री राजस्व वाले स्टेशनों को रखा जाता है।

रैंकिंग में प्लेटफॉर्म पर ओपन सिटिंग एरिया, वेंडर एरिया, शौचालय, पीने के पानी के बूथ, वेटिंग रूम, रेलवे ट्रैक की सफाई को भी शामिल किया गया। इसके अलावा टिकट काउंटर की सफाई पर भी ध्यान दिया गया। इस असेसमेंट के आखिरी हिस्से के रूप में स्टेशन की सफाई के बारे में लोगों की राय को भी शामिल किया गया। इससे पहले साल 2018 की स्वच्छ भारत स्वच्छ रेल रिपोर्ट में देश के ए1 कैटेगरी वाले रेलवे स्टेशनों की स्वच्छता स्कोर में 17 फीसदी की बढ़ोतरी हुई थी।

साल 2017 में यह स्कोर 685 था जो 2018 में बढ़कर 803 हो गया। वहीं, ए क्लास स्टेशनों के स्वच्छता स्करो में 18 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई थी। साल 2017 में ए कैटेगरी स्टेशनों का स्वच्छता स्कोर 631 था। साल 2018 में यह स्कोर बढ़कर 742 हो गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 PORN WEBSITES पर भारत में बैन लेकिन धड़ल्ले से इस्तेमाल कर पा रहे लोग! लगाया यह जुगाड़
2 शास्त्रीजी ने कार खरीदने के लिए लिया था 5000 रुपए का लोन, मौत के बाद पत्नी ने भरी EMI; माफ करने के लिए तैयार थीं इंदिरा
3 Gandhi Jayanti 2019: दूसरे धर्मों-जातियों में शादी पर आज भी गांधी के सपनों से दूर है भारत, जानिए क्या थी बापू की राय