ताज़ा खबर
 

राजस्थान: स्कूल ने ‘जन गण मन’ को कहा इस्लाम विरोधी, किया बैन, हिंदू बच्चों को जबरन कुरान भी पढ़वाया

राजस्थान के एक स्कूल पर राष्ट्रगान, 'जन गण मन' को इस्लाम विरोधी बताकर बंद करने का आरोप लगा है।

मुंबई के एक स्कूल में राष्ट्रगान के दौरान झंडा फहराती स्टूडेंट (Express photo by Amit Chakravarty)

राजस्थान के एक स्कूल पर राष्ट्रगान, ‘जन गण मन’ को इस्लाम विरोधी बताकर बंद करने का आरोप लगा है। शुक्रवार (12 अगस्त) को मिली जानकारी के मुताबिक, यह प्राइवेट स्कूल राजस्थान के बाडमेर जिले में है। इसका नाम मौलाना वलि मोहम्मद है। TOI की खबर के मुताबिक, वहां पढ़ने वाले हिंदू स्टूडेंट्स पर कुरान पढ़ने के लिए दवाब भी डाला गया था। फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच में लग गई है। जिले के कलेक्टर सुधीर कुमार शर्मा ने भी अपनी टीम को स्कूल में पूछताछ के लिए भेजा था। टीम ने स्वतंत्रता दिवस की तैयारी कर रहे बच्चों से पूछताछ भी की थी। पूछताछ पर आधारित एक रिपोर्ट कलेक्टर को सौंपी भी जा चुकी है। इस स्कूल में 250 बच्चे पढ़ते हैं जिसमें से 30 हिंदू परिवारों से हैं।

स्कूल प्रशासन ने अपने ऊपर लगे आरोपों को गलत बताया है। वहां के प्रिंसिपल मोहम्मद सिराज ने कहा, ‘मैंने जांच कर रही टीम को पिछली बार मनाए गए स्वतंत्रता दिवस के फोटोज दे दिए हैं।’

स्कूल की टीचर जेबा ने बताया कि स्कूल में कुरान की क्लास सिर्फ मुस्लिम बच्चों के लिए चलती हैं और वह भी स्कूल खत्म होने के बाद।

इससे पहले उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद के एक प्राइवेट स्‍कूल ने स्‍वतंत्रता दिवस के मौके पर जन गण मन, वंदे मातरम और सरस्‍वती वंदना गाने पर बैन लगा दिया था। स्‍कूल ने कहा था कि कुछ मुस्‍ल‍िम अभिभावकों के विरोध की वजह से ऐसा किया गया है। इस फैसले से नाराज स्‍कूल के प्रिंसिपल समेत आठ टीचर्स ने इस्‍तीफा भी दे दिया था। राष्‍ट्रगान पर बैन लगाने से जुड़ा यह अजीबोगरीब आदेश देने वाले शख्‍स का नाम मोहम्‍मद जिया-उल हक है। वे शहर के सादियाबाद इलाके में स्‍थ‍ित एमए कॉन्‍वेंट स्‍कूल के मैनेजर हैं। मुस्‍ल‍िम बहुल इलाके में स्‍थ‍ित इस स्‍कूल में कुल 330 स्‍टूडेंट्स हैं। स्‍कूल के प्र‍िंसिपल ने नाम न छापे जाने की शर्त पर बताया, ‘स्‍कूल में कुल 200 हिंदू स्‍टूडेंट हैं जबकि बाकी 130 मुस्‍ल‍िम हैं। वे आखिर कैसे ऐसा मूर्खतापूर्ण कारण देते हुए वंदे मातरम या जन गण मन पर बैन लगा सकते हैं? मैंने जैसे ही यह फैसला सुना, स्‍कूल छोड़ दिया। सात अन्‍य टीचरों ने भी ऐसा किया है क्‍योंकि यह हमें स्‍वीकार नहीं है।’

Read Also: इलाहाबाद के स्‍कूल ने लगाया ‘जन-गण-मन’ पर बैन, दलील दी-‘भारत भाग्‍य विधाता’ कहना इस्‍लाम के खिलाफ

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App