scorecardresearch

सलमान चिश्ती को बचाने के लिए पुलिस वाले ने दी टिप्‍स, बोल देना तू नशे में था, वीडियो वायरल होने के बाद अजमेर दरगाह का सीओ लाइन हाजिर

अजमेर की सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह के खादिम सलमान चिश्ती ने नूपुर शर्मा को लेकर विवादित बयान दिया था. इसका वीडियो वायरल हो गया था

salman chishti arrest,rajasthan news
पुलिस की गिरफ्त में सलमान चिश्ती(फोटो सोर्स: यूट्यूब वीडियो ग्रैब)।

भाजपा से निलंबित नेता नूपुर शर्मा के विवादित बयान के बाद उन्हें लगातार धमकियां मिल रही हैं। राजस्थान में अजमेर के सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह के खादिम सलमान चिश्ती का भी एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वो नूपुर शर्मा की गर्दन लाने वाले को ईनाम देने की घोषणा कर रहे हैं।

इस बयान को लेकर राजस्थान पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार किया है। हालांकि एक अन्य वीडियो में पुलिस की गिरफ्त में नजर आ रहे हैं सलमान चिश्ती को पुलिस समझाती नजर आ रही है कि बोल देना मैं नशे में था, जिससे तुम्हारा बचाव हो सके। इस वीडियो को लेकर विपक्षी दल राजस्थान पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े कर रहे हैं।

दरअसल वायरल वीडियो में दरगाह DSP संदीप सारस्वत चिश्ती से कहते दिख रहे हैं, ”तू यही कहना कि नशे में था जिससे तेरा बचाव हो जाए।” वीडियो वायरल हुआ तो प्रशासन ने एक्शन लेते हुए दरगाह DSP संदीप सारस्वत को लाइन हाजिर कर दिया है।

बता दें कि पुलिस द्वारा सलमान चिश्ती को ‘टिप्स’ देने वाले वीडियो पर बीजेपी नेता अमित मालवीय ने एक ट्वीट कर राजस्थान की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि नुपुर शर्मा का सिर कलम करने का वीडियो जारी करने पर अशोक गहलोत की पुलिस सलमान चिश्ती को यह सिखाती है कि उसने नशे की हालत में बयान दिया था। जिससे उसे बचाया जा सके।

उन्होंने सवाल किया कि क्या कांग्रेस सरकार में हिंदुओं का जीवन मायने रखता है? उन्होंने कहा कि अगर राजस्थान पुलिस चाहती तो उदयपुर की घटना को भी टाला जा सकता था।

सलमान चिश्ती पर हैं 13 केस: चिश्ती ने हाल ही में एक वीडियो जारी किया था, जिसमें उसने पूर्व बीजेपी नेता नूपुर शर्मा का सिर कलम करने वाले को अपना घर देने की बात कही थी। वहीं एडिशनल एसपी विकास सांगवान ने बताया था कि सलमान चिश्ती पहले से आपराधिक प्रवृत्ति का रहा है। उसके खिलाफ पहले से ही 13 अपराधिक मामले कई अलग-अलग थानों में दर्ज हैं। इसमें हत्या का भी मामला शामिल है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X