ताज़ा खबर
 

राजस्‍थान: बीफ की अफवाह को लेकर चार कश्‍मीरी छात्रों की पिटाई का आरोप

पुलिस ने कैम्पस से मांस जब्त कर उसे जांच के लिए भेज दिया। पूछताछ के लिए चार स्टूडेंट्स को हिरासत में भी लिया गया है।

Author चित्‍तौड़गढ़ | March 16, 2016 5:23 PM
मेवाड़ यूनिवर्सिटी में जम्‍मू-कश्मीर के 700 से 800 छात्र पढ़ाई करते हैं।

राजस्‍थान की यूनिवर्सिटी में बीफ खाने की अफवाह के चलते चार कश्मीरी छात्रों की पिटाई कर दी गई। यह घटना सोमवार को चित्तौड़गढ़ की मेवाड़ यूनिवर्सिटी में हुई, जिसकी जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और चारों छात्रों को बचाया।

जानकारी के अनुसार, बीफ खाने की सूचना पर हिंदूवादी संगठन के कुछ कार्यकर्ता यूनिवर्सिटी कैंपस में पहुंचे और छात्रों से मारपीट की। कश्मीरी छात्रों से मिले मीट को जांच के लिए फॉरेंसिक लैब भेजा गया है। यूनिवर्सिटी के मीडिया प्रवक्ता हरीश गुरनामी ने बताया कि हमारे यहां देशभर के 23 राज्यों से छात्र पढ़ने के लिए आते हैं यह एक मिनी इंडिया की तरह है। कई बार इस तरह की छोटी घटनाएं होती रहती हैं, क्योंकि लोग विभिन्‍न सामाजिक पृष्ठभूमि और भिन्न भिन्न संस्कृतियों से पढ़ने के लिए यहां आते हैं।

बता दें कि एक दिन पूर्व ही गृह मंत्रालय ने कोलकाता के कालेजों के लिए एडवाइजरी जारी की थी कि वो अपने यहां पढ़ने वाले जम्मू और कश्मीर के छात्रों की जानकारी उनसे साझा करें। आरोपियों पर सख्त कार्रवाई की मांग को लेकर कई संगठनों ने मंगलवार को बाजार भी बंद करा दिया। पुलिस ने कैम्पस से मांस जब्त कर उसे जांच के लिए भेज दिया। पूछताछ के लिए चार स्टूडेंट्स को हिरासत में भी लिया गया है। मेडिकल बोर्ड की जांच में मांस के बीफ होने को कन्फर्म नहीं किया है। मेडिकल बोर्ड ने रिपोर्ट में कहा, “मांस उबला हुआ था, इसके चलते यह कह पाना मुश्किल है कि वह किसका था।” पुलिस ने जांच के लिए इसे फोरेंसिक लैब भेजा है।

Read Also: J&K: बीफ पार्टी दे चुके विधायक पर फिर हमला, इस बार JNU में हुए प्रदर्शन का कर रहे थे समर्थन

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App