Indian Railway IRCTC: रामायण, नॉर्थ-ईस्ट और चार धाम सर्किट पर प्रीमियम ट्रेन चलाएगा रेलवे, जानें कितना है किराया

रेलवे ने घरेलू यात्रियों के लिए बैद्ध सर्किट ट्रेन को फिर से खोलने का फैसला किया है। हालांकि अब इस प्रीमियम ट्रेन का नाम बदल दिया गया है। यह ट्रेन 15 दिन की यात्रा करवाएगी और प्रतिव्यक्ति किराया 1 लाख रुपये होगा।

Indian Railway,IRCTC news
प्रतीकात्मक तस्वीर(फोटो सोर्स: PTI)।

भारतीय रेल ने प्रीमियम बुद्धिस्ट सर्किट ट्रेन को घरेलू यात्रियों के लिए फिर से शुरू करने का फैसला किया है। अब इसका नाम, ‘देखो अपना देश एसी डिलक्स टूरिस्ट ट्रेन होगा।’ IRCTC ने अक्टूबर से दिसंबर तक कई रूट्स पर फिर से प्रीमिय ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है। इनमें रामायण, नॉर्थईस्ट और चारधाम यात्रा सर्किट शामिल हैं।

नॉर्थ-ईस्ट सर्किट पर प्रीमियम ट्रेन 150 लोगों को लेकर जाएगी। यह ट्रेन नॉर्थ-ईस्ट के पांच राज्यों की यात्रा करवाएगी। 26 नवंबर को यह ट्रेन पहली बार राजधानी दिल्ली से सफर पर निकलेगी। आईआरसीटीसी टूरिजम के जॉइंट जनरल मैनेजर अच्युत सिंह ने बताया कि यह ट्रेन 15 दिन और 14 रातों का सफर करवाएगी।

कितना होगा किराया?
आईआरसीटीसी के अधिकारी ने बताया कि यात्रा के दौरान सभी तरह के खर्च को मिलाकर प्रतिव्यक्ति कुल 1 लाख रुपये का किराया होगा। उन्होंने कहा कि जिन्हें कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लग चुकी हैं केवल वही इस ट्रेन में यात्रा कर सकेंगे।

सिंह ने बताया कि कोविड काल में विदेशी पर्यटकों के आने पर रोक लगा दी गई थी। इस वजह से रेलवे को काफी नुकसान उठाना पड़ा। इस नुकसान की भरपाई के लिए ये प्रीमियम ट्रेनें फिर से शुरू कर दी गई हैं। आईआरसीटीसी के अधिकारियों का कहना है कि अभी पहले की तरह विदेशी पर्यटकों के आने में कम से कम एक साल का वक्त लगेगा। अच्युत सिंह ने यह भी बताया कि इस ट्रेन में सीटें तेजी से बुक हो रही हैं।

उन्होंने कहा, ‘इन ट्रेनों को शुरू करने पर अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है। हाल ही में चार धाम यात्रा के लिए बुकिंग की गई है और रामायण सर्किट के लिए भी बुकिंग हो रही है। यह यात्रा दिवाली के बात शुरू होगी।’ उन्होंने कहा कि इन ट्रेनों में यात्रियों को भोजन के साथ संबंधित जगहों पर बस द्वारा ले जाने का भी खर्च वहन किया जाता है। इसके लिए यात्रियों से अलग से कोई भुगतान नहीं कराया जाता है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट