ताज़ा खबर
 

त्योहारों पर रेलवे की बड़ी तैयारी, चलेंगी 32 जोड़ी त्योहारी ट्रेनें

रेलवे एक सितंबर के बाद से 7 सुविधा एक्सप्रेस, 24 एक्सप्रेस मेल और एक जोड़ी जनसधारण ट्रेनें चला रहा है।

Author नई दिल्ली | Updated: September 14, 2016 4:13 AM
रेलवे।

आगामी महीनों में आने वाले त्योहारों पर ट्रेनों में भीड़ को काबू पाने और सुविधाजनक रेल यात्रा कराने के लिए रेलवे 32 जोड़ी त्योहारी ट्रेनें चलाने की योजना बना रहा है। आने वाले तीन महीनों में दशहरा, दीपावली और छठ के त्योहार पर पूरे साल की तुलना में सबसे ज्यादा लोग यात्रा करते हैं इस लिहाज से रेलवे आने वाले दिनों में कम से कम 15-20 जोड़ी ट्रेनें और चलाएगा। फिलहाल रेलवे एक सितंबर के बाद से 7 सुविधा एक्सप्रेस, 24 एक्सप्रेस मेल और एक जोड़ी जनसधारण ट्रेनें चला रहा है। यानी रेलवे की नियमित ट्रेनों के अलावा अब घर आने-जाने के लिए 60 और ट्रेनें ट्रैक पर हैं, जो रेलवे के प्रमुख मार्ग नई दिल्ली-मुंबई सेंट्रल, मुंबई सेंट्रल-लखनऊ, बांद्रा टर्मिनल-गोरखपुर, हावड़ा-आनंद विहार व हावड़ा-जम्मूतवी के बीच इस साल नवंबर के आखिर तक चलेंगी। रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि त्योहारों में बढ़ने वाली भीड़ से निपटने के लिए गाड़ियों का इंतजाम किया जा रहा है। इसके साथ ही सुरक्षा व्यवस्था के बारे में भी रूपरेखा बननी शुरू हो गई है, जिसका असर कुछ दिनों में स्टेशनों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने और काउंटर व दलालों पर नकेल कसने के रूप में देखा जा सकेगा।

उत्तर रेलवे के सीपीआरओ नीरज शर्मा का कहना है कि रेलवे मौसम के हिसाब से ट्रेनें चलाता है। पिछले साल भी इस मौसम में 45 जोड़ी ट्रेनें चलाई गई थीं क्योंकि सितंबर की शुरुआत से लेकर नवंबर के अंत तक लोगों के आने जाने की तादाद बहुत ज्यादा होती है। इस दौरान होने वाली यात्रियों की भीड़ को नियमित चलने वाली ट्रेनों से नहीं संभाला जा सकता। इस लिहाज से त्योहारी ट्रेनों को चलाया जाता है। हालांकि अभी 32 जोड़ी ट्रेनें चल रही हैं, लेकिन आने वाले दिनों में इनके अलावा कुछ और ट्रेनों का एलान हो सकता है।
उनका कहना है कि इस साल पिछले साल की तुलना में अधिक त्योहारी ट्रेनों के एलान की गुंजाइश है। ये ट्रेनें वड़ोदरा, कोटा, सूरत, उज्जैन, झांसी, कानपुर सेंट्रल, लखनऊ, गोंडा, रतलाम, धनबाद, गया, मुगलसराय, इलाहाबाद, बनारस, रायबरेली, अंबाला व पठानकोट छावनी स्टेशनों समेत अन्य प्रमुख स्टेशनों से होकर गुजरेंगी। वहीं पिछले त्योहारी में एक सितंबर से 30 नवंबर के बीच कुल 45 गाड़ियां चली थीं, जिन्होंने इन तीन महीनों में कुल 2029 फेरे लगाए थे।

Next Stories
1 2014 में नरेंद्र मोदी ने किया था अच्छे दिन का वादा, अब नितिन गडकरी ने कहा- अच्छे दिन कभी नहीं आते
2 केंद्र की सुप्रीम कोर्ट से गुहार- दलितों का ब्राह्मण द्वारा छोड़े गए खाने पर से गुजरना बंद करवाया जाए, 500 साल से चल रही प्रथा
3 66वां जन्‍मदिन कैसे मनांएगे नरेंद्र मोदी, भाजपा ने सार्वजनिक किया उनका बर्थडे प्‍लान
ये पढ़ा क्या?
X