ताज़ा खबर
 

रेल मुसाफिरों को 92 पैसे में ₹10 लाख तक का बीमा देने की स्कीम शुरू, पर आपको मिलेगा या नहीं, जानिए

अगर यात्री अपना टिकट रद्द करा देते हैं तो उन्हें बीमा प्रीमियम की राशि वापस नहीं मिलेगी।

Author नई दिल्ली | Updated: September 2, 2016 7:38 AM
प्रतीकात्मक फोटो

रेल मंत्रालय ने यात्रियों के लिए एक नई अतिरिक्त बीमा योजना शुरुआत की है। यात्री 92 पैसे का बीमा प्रीमियम देकर 10 लाख रुपये तक का बीमा ले सकते हैं। रेल मंत्री ने अपने बज़ट भाषण में यात्रियों के लिए वैकल्पिक बीमा योजना की घोषणा की। ये सुविधा उपनगरीय ट्रेनों को छोड़कर सभी रेलगाड़ियों के सभी दर्जे के यात्रियों को ऑनलाइन आरक्षण लेते समय मिलेगी। फिलहाल ये सुविधा केवल ई-टिकट धारक यात्रियों को ही मिलेगी।

रेल मंत्री ने बताया कि ये सुविधा पांच साल तक के बच्चों और विदेशी नागरिकों के लिए नहीं है। ये बीमा योजना कन्फर्म, आरएसी और वेटिंग-लिस्ट सभी तरह के टिकटों के साथ उपलब्ध होगी। योजना के तहत यात्री द्वारा नामित या उसके कानूनी वारिस को मृत्यु या पूर्ण विकलांगता की स्थित में क्षतिपूर्ति के तौर पर 10 लाख रुपये मिलेंगे। इसके तहत आंशिक विकलांग को 7.5 लाख रुपये, साथ ही दो लाख रुपये इलाज के खर्च, 10 हजार रुपये दुर्घटना स्थल से शव लाने के लिए मिलेंगे। रेलवे ने दुर्घटना के तहत आतंकी हमले, डकैती, लूट, गोलीबारी इत्यादि को भी शामिल किया है।

अगर यात्री अपना टिकट रद्द करा देते हैं तो उन्हें बीमा प्रीमियम की राशि वापस नहीं मिलेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 केंद्रीय मंत्री किरण रिजीजू ने कहा- RSS से बड़ा देशभक्त संगठन कोई नहीं
2 जाकिर नाईक के एनजीओ का FCRA लाइसेंस रिन्यू करने पर गृह मंत्रालय के 4 अधिकारी निलंबित
जस्‍ट नाउ
X