ताज़ा खबर
 

IRCTC Latest Update: अब रविवार को चलने वाली ट्रेनें होगी ज्‍यादा लेट, जानिए क्‍यों

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने प्रेस वार्ता में कहा,''हम सभी जोन में मिलकर काम शुरू करने जा रहे हैं। हम कोशिश करेंगे कि रविवार को ज्यादा से ज्यादा ​काम किया जा सके। हम यात्रियों को पहले से सूचना देकर उनका रुझान और सजगता बढ़ाने की कोशिश करेंगे।

Author Updated: June 19, 2018 5:39 PM
रेल मंत्री पीयूष गोयल। (File Photo – Indian Express)

वीकेंड में रेल यात्रा करने वालों के लिए बुरी खबर है। रेलवे ने फैसला किया है कि वह अपने सभी जोन में बड़े मरम्मत के काम रविवार के दिन ही करेगी। ये साफ किया गया है कि ट्रेन भोजन के वक्त ही लेट की जाएगी। रिजर्व टिकट वाले यात्रियों को मुफ्त खाना और पानी की सुविधा दी जाएगी। ये बातें रेलमंत्री पीयूष गोयल ने कहीं हैं। रेल ​अधिकारियों का कहना है कि एक बार मरम्मत के काम की शुरूआत हो गई तो भारतीय रेलवे 15 अगस्त से फिर से अपने टाइम टेबल पर काम शुरू कर देगा। हम उन ट्रेनों की पहचान करेंगे जो इस काम से प्रभावित होंगी।

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने प्रेस वार्ता में कहा,”हम सभी जोन में मिलकर काम शुरू करने जा रहे हैं। हम कोशिश करेंगे कि रविवार को ज्यादा से ज्यादा ​काम किया जा सके। हम यात्रियों को पहले से सूचना देकर उनका रुझान और सजगता बढ़ाने की कोशिश करेंगे। जब भी खाने के समय ट्रेन लेट होती है। हम यात्रियों को फ्री खाना और पानी देते हैं।” उन्होंने कहा कि मरम्मत और सुरक्षा संबंधी कामों के लिए छोटे ब्लॉक हफ्ते में कभी भी लिए जा सकते हैं। लेकनि रविवार को 6 से 7 घंटे का मेगा ब्लॉक लिया जाएगा। ये भी तय किया गया है कि सभी रेलवे जोन का टाइम टेबल इस तरह से व्यवस्थित किया जाए कि टाइम टेबल प्रभावित न हो। उन्होंने कहा कि यात्रियों को एसएमएस और अखबारों में विज्ञापन के जरिए देरी की सूचना दी जाएगी।

Indian Railway इंडियन रेलवे (प्रतीकात्मक तस्वीर/एक्सप्रेस फाइल फोटो)

रेलवे ने जीपीएस लॉगर्स सिस्टम भी अपनी ट्रेन में लगाएगी, जिसकी मदद से यात्री हर ट्रेन की सही स्थिति का पता लगा सकते हैं। बाद में उसे रेलवे की वेबसाइट पर अपलोड कर दिया जाएगा। मंत्री ने कहा,”यात्री अपनी ट्रेन का नंबर डालकर ये जान स​केंगे कि फिलहाल वह कहां चल रही है।” रेल मंत्रालय अपने कोच फैक्ट्रियों का उत्पादन बढ़ाने की कोशिश कर रही है। इससे अतिरिक्त रैक और अतिरिक्त कोचों की व्यवस्था की जा सकेगी। अतिरिक्त रैक से हमें ट्रेन का शिड्यूल ठीक करने में मदद मिलेगी। भले ही आने वाली ट्रेन लेट ही क्यों न हो।”

बता दें कि रेल मंत्री ने सात रेलवे जोन के अधिकारियों के साथ 15 जून को समीक्षा बैठक की थी। रेल मंत्री ने सभी मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों के टाइम से आने का प्रतिशत 70 से बढ़ाकर 85 फीसदी किया जाए। गोयल ने कहा,”मैंने अफसरों से 15 जून को बात की है। सभी तत्काल बैठक में तय की गई चीजों को लागू करने की कोेशिश शुरू करने वाले हैं।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 बीजेपी सांसद बोले- चुनावी वादे पूरे नहीं कर पाए तो भी 2019 में हमें ही चाहिए सत्‍ता
2 रोहित की मां राधिका वेमुला का आरोप- इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग ने नहीं दिया मुआवजा
3 अरुण जेटली की दो टूक- तेल पर एक्‍साइज ड्यूटी नहीं घटाएंगे, लोग ईमानदारी से टैक्‍स दें