Railway hotel tender case: CBI has summoned Lalu Prasad Yadav on 11th September and Tejashwi Yadav on 12th September - रेलवे होटल टेंडर केस: लालू 11 और तेजस्‍वी 12 सितंबर को CBI के सामने होंगे पेश, होगी पूछताछ - Jansatta
ताज़ा खबर
 

रेलवे होटल टेंडर केस: लालू 11 और तेजस्‍वी 12 सितंबर को CBI के सामने होंगे पेश, होगी पूछताछ

सीबीआई के अनुसार, लालू ने रांची और पुरी के होटल्‍स के मेंटेनेंस के लिए निजी कंपनियों को टेंडर दिया था।

आरजेडी प्रमुख लालू यादव के बेटे तेजस्वी यादव बिहार सरकार में उपमुख्यमंत्री थे।

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने रेलवे में भ्रष्टाचार के संबंध में गुरुवार को राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू यादव और उनके बेटे तेजस्वी यादव को समन भेजा है। इस संबंध में लालू यादव को पूछताछ के लिए 11 सितंबर और तेजस्वी को 12 सितंबर को नई दिल्ली स्थित मुख्यालय में पेश होने को कहा गया है। सीबीआई ने रेलवे के दो निजी होटलों को निजी कंपनी को लीज पर देने में कथित तौर पर बरती अनियमितताओं के संबंध में लालू यादव, उनकी पत्नी राबड़ी देवी और बेटे तेजस्वी यादव के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला दर्ज किया था। यह कथित धोखाधड़ी 2004 से 2009 के दौरान की गई, जब लालू यादव रेल मंत्री थे। सीबीआई के मुताबिक, रेल मंत्री पद पर रहते हुए लालू ने इंडियन रेलवे केटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (आईआरसीटीसी) के जरिए सुजाता होटल्स को अवैध तरीके से लाभ पहुंचाया था। सीबीआई का कहना है कि निजी कंपनी को अवैध तरीके से लाभ पहुंचाया गया। रांची और पुरी में होटलों के विकास, रखरखाव और संचालन के लिए बोली प्रक्रिया में कथित धोखाधड़ी की गई, जिसके एवज में लालू को पटना में तीन एकड़ का प्लॉट रिश्वत के तौर पर दिया गया। मौजूदा समय में इस जमीन पर मॉल का निर्माण हो चुका है।

सीबीआई ने पांच जुलाई को भारतीय दंड संहिता की धारा 420, 120बी और भ्रष्टाचार निवारक अधिनियम की धारा 13 और 131 बी के तहत मामला दर्ज किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App