गांधी की हत्या के लिए RSS को जिम्मेदार ठहराने पर कोर्ट में तथ्य पेश करेंगे राहुल, नहीं मांगेंगे माफी

सुप्रीम कोर्ट ने पहले भी राहुल गांधी को बयान पर खेद जता कर मामले को खत्‍म करने का सुझाव दिया था। उन्‍होंने यह सुझाव मानने से इंकार कर दिया था।

rahul gandhi, gujarat, narendra modi, anandi ben patel, gujarat CM, anandi ben resigns, gujarat CM resignsकांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी (फोटो-PTI)

कांग्रेस ने मंगलवार को कहा कि राहुल गांधी आरएसएस के खिलाफ दिए गए बयान को लेकर माफी नहीं मांगेंगे। राहुल अपने दावे को सही साबित करने के लिए कोर्ट में ऐतिहासिक तथ्य और सबूत पेश करेंगे। कांग्रेस के प्रमुख प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘राहुल गांधी के माफी मांगने का कोई सवाल ही पैदा नहीं होता। ऐसा ही सुझाव पहले भी दिया गया था, जिसे राहुल गांधी ने स्वीकार नहीं किया था। राहुल गांधी परिपक्व नेता हैं और उन्हें ऐतिहासिक तथ्यों की जानकारी है।’

Read Also:  सुप्रीम कोर्ट ने राहुल गांधी को लताड़ा, दी चेतावनी- खेद जताइए या केस का सामना कीजिए

बता दें, सुप्रीम कोर्ट ने मानहानि के एक केस में कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी को लताड़ लगाई है। कोर्ट ने उन्‍हें चेतावनी देते हुए कहा कि या तो खेद जताइए या फिर मुकदमे का सामना कीजिए। कोर्ट ने यह टिप्‍पणी राहुल गांधी के एक बयान पर दायर मानहानि के मामले की सुनवाई करते हुए की। उन्‍होंने महात्‍मा गांधी की हत्‍या के लिए आरएसएस को जिम्‍मेदार ठहराया था। कोर्ट ने कहा कि राहुल गांधी को इस बात का सबूत देना होगा कि यह बयान जनहित में दिया गया। केस का फैसला इसी मेरिट पर होना चाहिए कि यह बयान आम लोगों के हित में था या नहीं। कोर्ट ने कहा कि आप पूरे संगठन को इस तरह बदनाम नहीं कर सकते। सुप्रीम कोर्ट ने राहुल गांधी को इस मामले में 27 जुलाई तक विस्‍तार से अपना पक्ष रखने के लिए कहा है।

Read Also: प्रियंका गांधी के मैसेज के चलते संसद में खामोश हैं कांग्रेस और राहुल गांधी, दिया ये संदेश

सुप्रीम कोर्ट ने पहले भी राहुल गांधी को बयान पर खेद जता कर मामले को खत्‍म करने का सुझाव दिया था। उन्‍होंने यह सुझाव मानने से इंकार कर दिया था। राहुल गांधी ने कहा था कि वह इस मामले का सामना करेंगे। पिछले साल नंवबर में न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा और न्यायमूर्ति प्रफुल्ल सी पंत की पीठ ने कहा था कि हमें लगता है कि इस मामले को शालीन तरीके से खत्म किया जा सकता है और मानहानि के मामले को निपटाया जा सकता है। राहुल गांधी की ओर से पेश हुए वरिष्ठ वकील कपिल सिब्‍बल ने कहा था कि वह मामले में बहस करना पसंद करेंगे।

राहुल ने कथित तौर पर चुनाव प्रचार के दौरान एक भाषण में महात्‍मा गांधी की हत्‍या के लिए आरएसएस को जिम्‍मेदार ठहराया था। इस बयान के विरोध में कई जगह उनके खिलाफ याचिकाएं दायर की गई हैं।

Read Also: विजेंदर सिंह का मैच देखने गए राहुल गांधी के सामने लगे मोदी-मोदी के नारे, लोगों ने उड़ाई खिल्‍ली

Next Stories
1 सामने आया इरफान खान और अरविंद केजरीवाल की मुलाकात का VIDEO
2 लंच के बहाने संसद से चले गए कांग्रेस के सभी सांसद, जानिए क्‍यों हुआ ऐसा
3 प्रियंका गांधी के मैसेज के चलते संसद में खामोश हैं कांग्रेस और राहुल गांधी, दिया ये संदेश
आज का राशिफल
X