ताज़ा खबर
 

किसानों के प्रदर्शन पर राहुल का ट्वीट- ‘ये तो बस शुरुआत है!’ BJP नेता नकवी का तंज – हम कांग्रेस नहीं जो…

इधर किसानों को दिल्ली में एंट्री की इजाज़त मिलने के बाद हरियाणा और पंजाब के बीच अंबाला के पास शंभू बॉर्डर पर पुलिस ने बैरिकेड्स हटा लिए हैं।

RAHUL GANDHI, FARMER PROTESTराहुल गांधी ने एक कविता के जरिए भी मोदी सरकार पर निशाना साधा था। फोटो सोर्स – PTI

केंद्र सरकार की किसान नीति के खिलाफ किसानों का हल्ला-बोल जारी है। इस बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट कर मोदी सरकार पर हमला बोला है। राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि ‘PM को याद रखना चाहिए था जब-जब अहंकार सच्चाई से टकराता है, पराजित होता है। सच्चाई की लड़ाई लड़ रहे किसानों को दुनिया की कोई सरकार नहीं रोक सकती। मोदी सरकार को किसानों की माँगें माननी ही होंगी और काले क़ानून वापस लेने होंगे। ये तो बस शुरुआत है!’

राहुल गांधी के इस ट्वीट के बाद भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की तरफ से भी जल्दी ही प्रतिक्रिया आ गई और मोर्चा संभाला पार्टी नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने। मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि ‘हम कांग्रेस नहीं हैं जो किसानों के लिए नो एंट्री का बोर्ड लगा दें…आइए बात कीजिए, कोई भ्रम है तो दूर कीजिए। सरकार के दरवाजे बातचीत के लिए हमेशा खुले हैं।’ आपको बता दें कि किसानों के प्रदर्शन पर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने फिर कहा है कि ‘सरकार पहले से ही किसानों से बातचीत करने के लिए तैयार है। हमने 3 दिसंबर को किसानों से जुड़े संगठनों को बातचीत के लिए बुलाया है। ठंड और कोविड-19 को देखते हुए मैं उनसे अपील करता हूं कि वो आंदोलन छोड़ें।’

इससे पहले गुरुवार को भी कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक कविता ट्वीट किया था। उन्होंने इस कविता के जरिए किसान आंदोलन को लेकर मोदी सरकार को घेरने की कोशिश की थी। ट्वीट में लिखा गया था कि ‘नहीं हुआ है अभी सवेरा, पूरब की लाली पहचान, चिड़ियों के जगने से पहले खाट छोड़ उठ गया किसान, काले कानूनों के बादल गरज रहे गड़-गड़, अन्याय की बिजली चमकती चम-चम, मूसलाधार बरसता पानी, ज़रा ना रुकता लेता दम…!’ राहुल गांधी ने दावा किया था कि ‘‘मोदी सरकार की क्रूरता के ख़िलाफ़ देश का किसान डटकर खड़ा है।

इधर किसानों को दिल्ली में एंट्री की इजाज़त मिलने के बाद हरियाणा और पंजाब के बीच अंबाला के पास शंभू बॉर्डर पर पुलिस ने बैरिकेड्स हटा लिए हैं। अंबाला के एसपी राजेश कालिया ने कहा, “किसी को नहीं रोका जाएगा. लोग आसानी से यात्रा कर सकते हैं।” दिल्ली सरकार के अधिकारी बुराड़ी स्थित निरंकारी समागम मैदान पहुंचे और वहां पर किसानों को दिल्ली चलो विरोध की समीक्षा की। इसी मैदान में किसानों के प्रदर्शन करने की अनुमति दी गई है।

किसानों के प्रदर्शन पर आम आदमी पार्टी के नेता राघव चड्डा ने कहा, “हम किसानों के लिए पानी के टैंकरों की तैनाती के लिए यहां आए हैं. AAP सरकार किसानों द्वारा खड़ी है. अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली सरकार उनकी देखभाल करेगी।”

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अर्नब गोस्वामी केस पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी- आत्महत्या के लिए उकसाने का केस नहीं बनता, HC ने जमानत ना देकर गलती की
2 COVID-19 वैक्सीन की बढ़ी उम्मीद! PM मोदी इन तीन शहरों में जाकर लेंगे वैक्सीन की तैयारियों का जायजा
3 कृषि कानूनः किसान उपजाए, अंबानी-अडानी कमाई खाए- सिद्धू का ट्वीट, लोग करने लगे ऐसे कमेंट्स
ये पढ़ा क्या ?
X