राहुल ने मोदी और केजरीवाल के वादों की उड़ाई खिल्ली - Jansatta
ताज़ा खबर
 

राहुल ने मोदी और केजरीवाल के वादों की उड़ाई खिल्ली

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि बदलाव सिर्फ वादे करके नहीं लाये जा सकते और साथ ही आरोप लगाया कि...

Author June 18, 2015 9:37 AM
राहुल गांधी ने कहा, ‘‘मोदीजी और केजरीवाल यह सोचते हैं कि सिर्फ वादे करके वे बदलाव ला सकते हैं। वादे करके कोई बदलाव नहीं लाया जा सकता। (फ़ोटो-पीटीआई)

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि बदलाव सिर्फ खोखले वादे कर नहीं लाया जा सकता। साथ ही आरोप लगाया कि विकास के नाम पर गरीबों को उनके अधिकारों से वंचित किया जा रहा है।

राहुल गांधी ने कहा कि मोदी और केजरीवाल सोचते हैं कि सिर्फ खोखले वादे करके वे बदलाव ला सकते हैं। खोखले वादों से कोई बदलाव नहीं लाया जा सकता। बदलाव सिर्फ यहां खड़े होकर और ताकत लगाकर लाया जा सकता है।

वेतन बकाए के भुगतान की मांग को लेकर यहां जंतर मंतर पर आंदोलन कर रहे नगर निगम के सफाईकर्मियों के प्रति अपनी पूरी एकजुटता जताते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष ने उनकी मांगों को गरीबों के सम्मान के साथ जोड़ने का प्रयास किया और कहा कि एकजुट संघर्ष के लिए वह उनके साथ खडेÞ रहेंगे। कांग्रेस नेता ने कहा कि यह लड़ाई दिल्ली या देश की सफाई के लिए नहीं है, यह लड़ाई आपके सम्मान के लिए है। मैं अपनी कुछ ताकत आप लोगों के साथ लगाना चाहता हूं। मिल-जुलकर हम दिखाएंगे कि आपकी ताकत क्या है।

छह दिनों के अंदर दूसरी बार सफाईकर्मियों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि मैं यहां आपके लिए, गरीब किसानों, मजदूरों, सफाईकर्मियों और देश के सभी कमजोर व वंचित वर्ग के लोगों के लिए आवाज उठाने आया हूं। समाज के कमजोर तबके के लिए संघर्ष करने की प्रतिबद्धता जताते हुए राहुल गांधी ने कहा कि आप जब भी कहेंगे, मैं आपके साथ खड़ा हूं। एक दिन, दस दिन, 50 दिन या सौ दिन तक।

इससे पहले राहुल गांधी ने छत्तीसगढ़ की अपनी यात्रा का उल्लेख किया जहां उन्होंने किसानों व आदिवासियों के अधिकारों के लिए पदयात्रा की थी। उन्होंने कहा कि विकास के नाम पर अमीर लोग गरीबों की जमीन छीन रहे हैं और उन्हें मामूली रकम थमा दे रहे हैं। जब हम पूछते हैं कि इससे गरीबों को क्या फायदा होगा, उनके पास कोई जवाब नहीं होता। हम इस तरह का विकास नहीं चाहते हैं।

कांग्रेस नेता ने कहा कि जब गरीब लोग सवाल उठाते हैं तो वे विकास के नाम पर ऐसा करने की बात करते हैं। उन्होंने उत्तर प्रदेश के भट्ठा पारसौल में भूमि अधिग्रहण की भी बात की जहां उन्होंने किसानों के अधिकारों के लिए पदयात्रा की थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App