ताज़ा खबर
 

अमेठी में बोले राहुल गांधी- देश का चौकीदार चोरी कर गया

राहुल गांधी ने कहा कि देश के चौकीदार तीन गुणा पैसा पर लड़ाकू विमान खरीद रहे हैं। यह पैसा सीधे अनिल अंबानी जी की जेब में जा रहा है। हमने जिस चौकीदार समझा, वह चोर निकला।

अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी में राहुल गांधी (Photo: ANI)

रफाल डील में फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के विवादित बयान के बाद कांग्रेस लगातार मोदी सरकार पर निशाना साध रही है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी लगभग प्रतिदिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला कर रहे हैं। सोमवार (24 सितंबर) को दो दिवसीय दौरे पर अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी पहुंचे राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर तंज करते हुए कहा कि जो कहते थे कि वे देश का चौकीदार बनना चाहते हैं। आज चौकीदार ही चोर कर गया। उन्होंने कहा, “मोदी जी ने कहा था कि वो प्रधानमंत्री नहीं देश के चौकीदार बनना चाहते हैं। देश के चौकीदार (पीएम मोदी) चोरी कर गया। मोदी जी, फ्रांस जाते हैं और कहते हैं कि अनिल अंबानी को कांट्रैक्ट देना है। देश समझन चाहता है कि देश के चौकीदार ने क्या किया? फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति उन्हें चोर बता रहे हैं। मोदी जी को इस स्पष्टीकरण देना चाहिए कि वे ऐसा क्यों कह रहे हैं।”

राहुल गांधी ने एक सभा में कहा, “आज मैं आपको देश के चौकीदार की कहानी बताता हूं। यूपीए सरकार ने एयरफोर्स के लिए 126 लड़ाकू विमान खरीदे। अमेठी में स्थित हिंदुस्तान एयरोनॉटिकल लिमिटेड को कांट्रैक्ट दिया गया था। हजारों करोड़ का कांट्रैक्ट था। अमेठी के युवाओं को रोजगार मिलता। इंजीनियर्स को रोजगार मिलता। कर्नाटक में एचएएल की मुख्य फैक्ट्री है। वहां हजारों लोगों को रोजगार मिलता। फ्रांस की टेक्नोलॉजी का हवाई जहाज हिंदुस्तान में बनता। हमारे इंजीनियर युवा हवाई जहाज को बनाते। फायदा पूरा हिंदुस्तान को होता। अब हुआ ये कि चौकीदार जी प्रधानमंत्री बनें। चौकीदार जी फ्रांस जाते हैं। फ्रांस के राष्ट्रपति से मिलते हैं और कहते हैं कि एचएएल को छोडि़ए अनिल अंबानी को कांट्रैक्ट देना है। जबकि एचएएल 70 सालों से अलग-अलग तरह का हवाई जहाज बना रही है। जगुअार बनाया, सुखोई बनाया। 70 साल से काम हो रहा है। लेकिन अनिल अंबानी ने अपनी जिंदगी ने एक हवाई जहाज नहीं बनाया। उनके उपर 45 हजार करोड़ का कर्जा है। जिस कंपनी को कांट्रैक्ट देने के लिए पीएम मोदी ने कहा था, वह कंपनी कांट्रैक्ट मिलने से 10 दिन पहले बनाई गई थी। पता नहीं कैसे, अनिल अंबानी को पता लग गया था कि कांट्रैक्ट उन्हें मिलने वाला है।”

राहुल गांधी आगे कहते हैं, “देश की रक्षा मंत्री जनता से कहती हैं कि हम आपको हवाई जहाज का दाम बताएंगे। मैंने संसद में कहा कि हवाई जहाज का दाम बताइए। तीन महीने बाद रक्षा मंत्री कहती हैं कि मैं नहीं बताउंगी। हम हिंदुस्तान की जनता को विमान का दाम नहीं बता सकते। वजह बताई कि फ्रांस के राष्ट्रपति ने ऐसा करने से मना किया है। जब हमने इस मुद्दे पर फ्रांस के राष्ट्रपति से बात की तो उन्होंने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है। देश के चौकीदार तीन गुणा पैसा पर लड़ाकू विमान खरीद रहे हैं। यह पैसा सीधे अनिल अंबानी जी की जेब में जा रहा है। हमने जिस चौकीदार समझा, वह चोर निकला।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App