ताज़ा खबर
 

हाथरस जा रहे राहुल-प्रियंका की गाड़ी में चल रहा था गाना? अरनब बोले- पिकनिक मनाने जा रहे थे…चिता पर मंडराने वाले राजनीति के गिद्ध पकड़े गए

अर्नब ने कहा कि 'मैंने इसलिए कहा था कि ये गिद्ध हैं जो चिता में भी अपने लिए राजनैतिक मौका तलाशते हैं।

rahul gandhi priyanka gandhi hathras case arnab goswamiराहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने रविवार को हाथरस में पीड़ित परिवार से मुलाकात की। (pti photo)

रविवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिवार से मिलने पहुंचे। इस दौरान उन्हें डीएनडी पर पुलिस द्वारा रोकने की कोशिश की गई, जिसके चलते जमकर हंगामा हुआ। अब हाथरस जाते हुए राहुल गांधी और प्रियंका गांधी का गाड़ी के अंदर का एक वीडियो फुटेज सामने आया है, जिसमें दोनों नेता किसी बात पर हंसते हुए सुनाई दे रहे हैं।

रिपब्लिक टीवी के पत्रकार अर्नब गोस्वामी ने इस मुद्दे पर कांग्रेस नेताओं को घेर लिया है और अपने टीवी कार्यक्रम में उन्हें ‘राजनीति के गिद्ध’ करार दे दिया है। दरअसल वीडियो में दिखाई दे रहा है कि गाड़ी के अंदर राहुल गांधी और प्रियंका गांधी कुछ बात कर रहे हैं और अचानक से मुस्कुरा देते हैं। इसी वीडियो को लेकर अर्नब गोस्वामी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी हाथरस की बेटी के लिए मातम नहीं मना रही है बल्कि मौत का मजाक बना रही है।

अर्नब ने कहा कि ‘मैंने इसलिए कहा था कि ये गिद्ध हैं जो चिता में भी अपने लिए राजनैतिक मौका तलाशते हैं। गोस्वामी ने दावा किया कि गाड़ी में गाना चल रहा है। ऐसा लग रहा है कि कांग्रेसी नेता पिकनिक मनाने जा रहे हैं।’

टीवी डिबेट के दौरान भाजपा नेता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि ‘जो लोग पीढ़ियों से लाशों पर सियासत करने के माहिर रहे हों, उनके लिए ये सामान्य सी बात है। आज एक मौका मिला तो हकीकत से पर्दा हट गया।’ सुधांशु त्रिवेदी ने राजस्थान में हुई बलात्कार की घटना पर कांग्रेस पार्टी की चुप्पी पर भी सवाल खड़े किए और कहा कि ये राष्ट्रीय स्तर के नेता हैं तो फिर ये राजस्थान की घटना पर क्यों नहीं बोल रहे हैं।

बता दें कि हाथरस के एक गांव में एक युवती के साथ गैंगरेप की घटना हुई और उसे जान से मारने का प्रयास हुआ। घटना के कुछ दिन बाद पीड़िता ने इलाज के दौरान अस्पताल में दम तोड़ दिया। पीड़िता की मौत के बाद स्थानीय पुलिस ने आनन-फानन में रात में ही शव का अंतिम संस्कार कर दिया। इस मुद्दे पर काफी बवाल हुआ और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार आलोचकों के निशाने पर आ गई।

पहले गुरुवार को राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने पीड़िता के परिवार से मिलने जाने की कोशिश की लेकिन यमुना एक्सप्रेसवे पर पुलिस द्वारा उन्हें रोक दिया गया। इस दौरान खूब हंगामा हुआ। इसके बाद रविवार को फिर से राहुल प्रियंका अपने समर्थकों के साथ पीड़िता के परिवार से मिलने निकले लेकिन फिर उन्हें रोकने की कोशिश हुई। आखिरकार काफी हंगामे के बाद कांग्रेस नेताओं को हाथरस जाने की इजाजत दे दी गई।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कोविड-19 हर्ड इम्यूनिटी सिर्फ मिथ है? एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया बोले-अभी भी कम्युनिटी कोरोना संक्रमण का खतरा मौजूद
2 इस्तीफे के एक साल बाद ट्रैक्टर रैली में पुराने रंग में दिखे नवजोत सिद्धू, कहा- अमेरिका का फेल सिस्टम यहां लागू कर रही मोदी सरकार
3 कृषि कानून के विरोध के जवाब में भाजपा का नया दांव, दिल्ली में पार्टी करेगी ट्रैक्टर पूजा व रैलियां
IPL Records
X