ताज़ा खबर
 

वादा था किसानों की आय दोगुनी करने का, पर मोदी सरकार ने बढ़ाई अदानी-अंबानी की! राहुल का निशाना, बोले- वो क्या खाक हल निकालेंगे?

इधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मन की बात कार्यक्रम में किसान आंदोलन पर भी बात की। उन्होंने कहा कि यह सरकार देश के मेहनती किसानों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है

rahul gandhi, farmers protestराहुल गांधी ने कुछ दिनों पहले कविता शेयर कर मोदी सरकार पर निशाना साधा था। फोटो सोर्स – इंडियन एक्सप्रेस

मोदी सरकार की नई कृषि नीति के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन जारी है। इस बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट कर केंद्र सरकार पर तंज कसा है। राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि ‘वादा था किसानों की आय दुगनी करने का, मोदी सरकार ने आय तो कई गुना बढ़ा दी लेकिन अदानी-अंबानी की! जो काले कृषि क़ानूनों को अब तक सही बता रहे हैं, वो क्या ख़ाक किसानों के पक्ष में हल निकालेंगे? अब होगी #KisaanKiBaat’

कृषि कानून के खिलाफ आंदोलन कर रहे हजारों किसान इस समय दिल्ली की सीमाओं पर डटे हुए हैं। सरकार से नाराज किसानों ने इससे पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के प्रस्ताव को भी ठुकरा दिया। इस प्रस्ताव में केंद्रीय मंत्री ने किसानों से कहा था कि वो दिल्ली की सीमाओं से हटकर प्रदर्शन के लिए प्रस्तावित जगह पर जुट कर ही प्रदर्शन करें। अमित शाह ने किसानों से कहा था कि सरकार उनसे बातचीत के लिए तैयार है लेकिन उन्हें दिल्ली के बुराड़ी पहुंचना होगा। बहरहाल अमित शाह के प्रस्ताव पर किसानों ने रजामंदी नहीं जताई है। विभिन्न किसान संगठनों के बैनर तले आंदोलन कर रहे अन्नदाताओं ने दिल्ली की सीमाओं के पास ही प्रदर्शन करने की बात कही है।

किसानों के प्रदर्शन ने राजनीतिक गलियारे में भी हलचल मचा रखी है। दिल्ली के गृह मंत्री सत्येंद्र जैन ने रविवार को कहा कि किसानों से बातचीत की कोई शर्त नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि संगठनों से बातचीत तुरंत होनी चाहिए। वे भारत के ही किसान हैं और उन्हें कहीं भी प्रदर्शन करने का अधिकार है। बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने प्रस्ताव दिया है कि किसान बुराड़ी के ग्राउंड में इकट्ठा होंगे तो सरकार उनसे जल्द से जल्द बात करेगी।

इधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मन की बात कार्यक्रम में किसान आंदोलन पर भी बात की। उन्होंने कहा कि यह सरकार देश के मेहनती किसानों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है। बता दें कि पीएम मोदी इससे पहले भी कई बार कह चुके हैं कि कृषि कानून किसानों की भलाई के लिए लाए गए हैं और कुछ ताकतें अपने स्वार्थ के लिए उन्हें बहका रही हैं।

आपको बता दें कि राहुल गांधी पिछले कुछ दिनों से किसानों के मुद्दे को लेकर लगातार केंद्र सरकार पर तंज कस रहे हैं। उन्होंने हाल ही में एक ट्वीट के जरिए कहा था कि ‘PM को याद रखना चाहिए था जब-जब अहंकार सच्चाई से टकराता है, पराजित होता है। सच्चाई की लड़ाई लड़ रहे किसानों को दुनिया की कोई सरकार नहीं रोक सकती। मोदी सरकार को किसानों की माँगें माननी ही होंगी और काले क़ानून वापस लेने होंगे। ये तो बस शुरुआत है!’ इससे पहले कांग्रेस नेता ने अपने ट्विटर हैंडल से एक कविता शेयर कर मोदी सरकार पर निशाना साधा था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 भारत और रूस की सैटेलाइट्स टकराने से बाल-बाल बचीं, विदेशी Kanopus-V के बेहद नजदीक चला गया था ISRO का Cartosat-2F, जानें कैसे
2 कोरोना के केस देश में 94 लाख, 24 घंटे में हुई 496 मौतों में से 70% दिल्ली-महाराष्ट्र समेत इन 8 सूबों से
3 Post Office खाते में अब इतनी रकम रखना होगा जरूरी, वरना लगेगा मेंटेनेंस चार्ज, जानें पूरे डिटेल्स
यह पढ़ा क्या?
X