ताज़ा खबर
 

मोदी सरकार के खिलाफ राहुल गांधी का नारा ’ना तो कुछ मिला है, ना कुछ मिलेगा’

केन्द्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर लगातार हमले कर रहे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने उस पर वादाखिलाफी का आरोप दोहराते हुए आज नारा दिया कि राजग सरकार के कार्यकाल में आज जनता को ‘ना तो कुछ मिला है और ना कुछ मिलेगा।’
Author August 19, 2015 18:07 pm
राहुल गांधी vs नरेंद्र मोदी

केन्द्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर लगातार हमले कर रहे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने उस पर वादाखिलाफी का आरोप दोहराते हुए आज नारा दिया कि राजग सरकार के कार्यकाल में आज जनता को ‘ना तो कुछ मिला है और ना कुछ मिलेगा।’

अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र अमेठी के दौरे के दूसरे और अंतिम दिन राहुल ने लहियावां गांव में आयोजित नुक्कड सभा में मौजूद लोगों से पूछा, ‘‘मोदी जी ने चुनाव में आपसे काले धन को वापस लाकर सभी के खातों में 15-15 लाख रूपये डालने की बात कही थी, क्या वह पैसा आपको मिला?’’

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने ‘ना कुछ मिला है, ना कुछ मिलेगा’ का नारा देते हुए उसे उपस्थित लोगों से कई बार दोहराया। उन्होंने कहा कि मोदी सिर्फ बातें करते है, उनमें उन बातों को अमली जामा पहनाने का दम नहीं है।

‘चुप्पी, निलंबन और गिरफ्तारी’ को मोदी सरकार के ’अच्छे दिनों’ का मंत्र बताते हुए राहुल ने कहा कि अब वह आईपीएल के फरार घोषित पूर्व कमिश्नर ललित मोदी की मदद करने में केन्द्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ओर राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिधिंया के बारे में कुछ हूं तो प्रधानमंत्री चुप्पी साध लेते है।

इससे पहले, मुंशीगंज गेस्ट हाउस में राहुल ने अमेठी से प्रदेश कांग्रेस के सदस्यों के साथ बैठक में विधानसभा चुनाव पर बात की संभावित चुनाव लडने वाले लोगों के नाम पर भी बात की।

सूत्रों के मुताबिक बैठक में सदस्यों ने पूर्व में हारे लोगों को चुनाव टिकट न देने की बात रखी तो राहुल ने इस पर सहमति दी। राहुल ने हरहाल में अमेठी की पांचो सीटें हासिल करने पर जोर दिया।

राहुल ने कहा कि हम अपनी बात जनता के बीच मजबूती से रखने में कंजूसी करते हैं, केन््रद सरकार की नाकामी, किसान विरोधी नीतियों की बात हमें जनता के बीच पहुंचाना होगा। समय कम है। आपसी मनमुटाव को भुलाकर विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुट जाये।

आम जनता से मुलाकात के दौरान राहुल ने उनकी समस्याएं सुनी और उनके निराकरण का आश्वासन दिया। उसके बाद वह भेंदुआ गांव में आचार्य विनोबा भावे की मूर्ति का अनावरण करने के लिए रवाना हुए। रास्ते में कल्याणपुर गांव में वह कांग्रेस कार्यकर्ता पवन दुबे के घर शोक संवेदना व्यक्त करने गये। दुबे की मां की हाल में मृत्यु हो गयी थी।

भेदुआ गांव जाते समय रास्ते में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रामनगर, टिकरी, कल्याणपुर, पीपरपुर, अयोध्यानगर, भादर गांवों में राहुल का स्वागत किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.