ताज़ा खबर
 

राहुल गांधी ने की हनुमान गढ़ी में पूजा, बाबरी मस्जिद टूटने के बाद अयोध्या जाने वाले पहले गांधी

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी अयोध्या पहुंच गए। यह उनकी 'किसान यात्रा' का अगला पड़ाव है। उनकी यात्रा का शुक्रवार (9 सितंबर) को चौथा दिन है। गांधी परिवार से राहुल पहले ऐसे शख्स हैं जो 1992 में बाबरी मस्जिद के गिराए जाने के बाद अयोध्या गए हैं।

हनुमान गढ़ी मंदिर से बाहर आते राहुल गांधी। (Source: Twitter/@ANI_news)

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी अयोध्या पहुंच गए। यह उनकी ‘किसान यात्रा’ का अगला पड़ाव है। उनकी यात्रा का शुक्रवार (9 सितंबर) को चौथा दिन है। गांधी परिवार से राहुल पहले ऐसे शख्स हैं जो 1992 में बाबरी मस्जिद के गिराए जाने के बाद अयोध्या गए हैं। अयोध्या पहुंचकर राहुल गांधी हनुमान गढ़ी मंदिर भी गए। 1990 में अपनी ‘सद्भावना यात्रा’ के दौरान राहुल गांधी के पिता राजीव गांधी भी वहां दर्शन के लिए गए थे लेकिन देर हो जाने की वजह से उन्हें दर्शन नहीं हो पाए थे। यहां राहुल गांधी को फैजाबाद शहर में एक रोड शो भी करना है। वह यह काम अंबेडकर नगर से निकलने से पहले ही करेंगे। इसके साथ ही वह शाम को किचौचा शरीफ दरगाह भी जाएंगे। राहुल के टाइम टेबल के हिसाब से शनिवार (10 सितंबर) को वह आजमगढ़ पहुंच जाएंगे। आजमगढ़ समाजवादी पार्टी (सपा) के मुखिया मुलायम सिंह यादव का संसदीय क्षेत्र है। कांग्रेस उपाध्यक्ष की ‘किसान यात्रा’ के तीन दिन हो चुके हैं। प्रदेश कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं के अलावा उनके साथ कांग्रेस महासिचव गुलाम नबी आजाद भी मौजूद हैं।

राहुल गांधी ने मंगलवार (6 सितंबर) को देवरिया के रुद्रपुर के पंचलड़ी कृतपुरा गांव से अपनी यात्रा की शुरुआत की थी। उस दौरान किसान मांगपत्र इकट्ठे किए और घरों पर कांग्रेस के स्टिकर लगाए थे। किसान यात्रा के दौरान राहुल गांधी 225 विधानसभाओं में जाएंगे। यह यात्रा कुल 2500 किलोमीटर की होने वाली है। कांग्रेस के प्रचार के लिए 250 मिनी रथ भी भेजे गए हैं। किसानों के साथ ‘खाट सभा’ से पहले राहुल गांधी ने रुद्रपुर में दूधनाथ महादेव मंदिर में पूजा भी की थी। पूजा के दौरान राहुल ने शिवलिंग पर जल और फूल चढ़ाए। उनके साथ कांग्रेस नेता अखिलेश सिंह भी थे। पूजा के बाद पुजारियों ने राहुल गांधी को दुशाला ओढ़ाया। यह दुशाला भी कांग्रेस के झंडे जैसा ही था। देवरिया में हुई खाट सभा गलत वजहों से चर्चा में आ गई थी। दरअसल वहां पर लगाई गई खाटों को लोग सभा खत्म होते ही लेकर भागने लगे थे। लगभग 1 हजार खाट चोरी हो गई थीं। वहीं कांग्रेस को टक्कर देने के लिए समाजवादी पार्टी भी पूरी तैयारियां कर रही है। समाजवादी पार्टी ने गुरुवार (8 सितंबर) को ‘मुलायम संदेश यात्रा’ शुरू करने की घोषणा की थी। शनिवार को शुरू होने वाली इस यात्रा में अखिलेश सरकार की उपलब्धियों के बारे में बताया जाएगा।


Rahul Gandhi Reaches Ayodhya, First Of His… by Jansatta

Top 5 News: Modi On Terrorism In India-ASEAN… by Jansatta

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App