ताज़ा खबर
 

पटना में डोसे का मजा लेने लगे राहुल गांधी, फोटो खींचने लगे लोग

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि का मामला दायर किया था। लोकसभा चुनाव के दौरान कर्नाटक में एक रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने अपने एक बयान में कहा था कि "सभी चोरों के उपनाम मोदी ही होते हैं।"

Author नई दिल्ली | July 7, 2019 8:50 AM
रेस्त्रां में डोसा खाते राहुल गांधी। (image source-twitter/shaktisin gohil/video grab image)

पटना के एक रेस्त्रां में डिनर करने आए लोग शनिवार को उस समय हैरान रह गए जब उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अपने बीच खाना खाते देखा। दरअसल राहुल गांधी मानहानि के एक मामले में अदालत में पेशी पर पटना आए थे। पेशी के बाद वापस दिल्ली जाने से पहले राहुल गांधी ने कांग्रेस के कुछ अन्य नेताओं के साथ पटना के मौर्य लोक बाजार परिसर के नजदीक एक दक्षिण भारतीय रेस्त्रां में डोसा खाया। राहुल गांधी के साथ इस दौरान कांग्रेस एआईसीसी प्रवक्ता शक्तिसिंह गोहिल, प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा और राज्य सभा सदस्य अखिलेश प्रसाद सिंह भी मौजूद थे।

खबर के अनुसार, राहुल गांधी ने डोसा और कॉफी का ऑर्डर दिया। इस दौरान कई लोग अपने मोबाइल से राहुल गांधी की तस्वीरें लेते नजर आए। बता दें कि बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि का मामला दायर किया था। बीते अप्रैल में लोकसभा चुनाव के दौरान कर्नाटक में एक रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने अपने एक बयान में कहा था कि “सभी चोरों के उपनाम मोदी ही होते हैं।” राहुल गांधी के इस बयान पर सुशील मोदी ने मानहानि का मामला दर्ज करा दिया था। उल्लेखनीय है कि सुशील कुमार मोदी की ओर से दायर किए गए मानहानि के मामले में राहुल गांधी को जमानत मिल गई है।

सुशील मोदी के अधिवक्ता शंभू प्रसाद ने कहा कि अदालत ने मामले की अगली सुनवाई के लिए आठ अगस्त की तारीख निर्धारित की है। प्रसाद ने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘हमने उनकी जमानत का विरोध नहीं किया। अदालत ने उनके खिलाफ लगाए गए आरोपों के बारे में बताने को कहा और पूछा कि क्या वह दोष स्वीकार करेंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘प्रतिवादी ने ना कहा और मामले की सुनवाई आठ अगस्त के लिए निर्धारित की गयी। ’’ अदालत परिसर से रवाना होने से पहले राहुल ने पत्रकारों से कहा कि वह देश के गरीबों के लिए अपनी लड़ाई जारी रखेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘मैं देश के गरीब, किसानों और श्रमिकों के लिए लड़ाई लड़ने के लिए प्रतिबद्ध हूं। मैं यहां उनके प्रति एकजुटता व्यक्त करने के लिए आया हूं।’’ राहुल ने कहा, ‘‘जो भी मोदी सरकार, भाजपा..आरएसएस के खिलाफ खड़ा होता है उसके खिलाफ अदालती मामले दायर करके निशाना बनाया जाता है। लेकिन मेरी लड़ाई जारी रहेगी।’’

(भाषा इनपुट के साथ)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App